google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

औरेया हादसे में ट्रक मालिकों पर हत्या का केस दर्ज – दुखी मुख्यमंत्री अफसरों से बेहद नाराज



यूपी के औरैया में हुए भीषण सड़क हादसे के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने सख्त रुख अपनाया है। इस मामले में ट्रक मालिकों और ड्राइवर के खिलाफ हत्या का केस दर्ज हुआ है। इसके अलावा सीएम योगी के निर्देश पर तत्काल प्रभाव से दो थानाधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है। सीएम ने मृतकों के परिजनों को मुआवजे का ऐलान किया है। साथ ही पुलिस के आला अफसरों से तत्काल रिपोर्ट तलब की है।


सीएम का निर्देश, ट्रक मालिकों-ड्राइवर पर हत्या केस


मुख्यमंत्री योगी के आदेश के बाद ट्रक मालिक और ड्राइवर के खिलाफ हत्या का केस दर्ज हुआ है। सीएम ने साथ ही आदेश दिया है कि ट्रकों और गैर यात्री वाहनों से मजदूरों को ढोने वाले वाहन मालिकों और ड्राइवरों के खिलाफ तत्काल केस दर्ज किया जाए। उन पर गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज करते हुए वाहन तत्काल सीज किए जाएं। सीएम ने निर्देश दिया है कि मजदूरों और कामगारों को भोजन-पानी देकर बसों से सुरक्षित भिजवाया जाए। औरैया हादसे पर सीएम ने संबंधित डीएसपी और अपर पुलिस अधीक्षकों को कड़ी चेतावनी दी है।


Advt.

फतेहपुर सीकरी और कोसीकलां एसएचओ सस्पेंड


सीएम योगी के निर्देश के बाद आगरा के फतेहपुर सीकरी और मथुरा के कोसीकलां थाने के एसएचओ को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है। सीएम ने औरैया के एसएसपी के अलावा आईजी और एडीजी से भी हादसे की वजहों पर रिपोर्ट मांगी है। मुख्यमंत्री ने प्रत्येक मृतक परिवार को 2-2 लाख रुपये एवं घायलों को 50-50 हजार रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की है।


क्या है मामला


लॉकडाउन के बीच वापस घर लौट रहे कुछ मजदूर शनिवार सुबह औरैया में दुर्घटना का शिकार हो गए। उत्तर प्रदेश के औरैया जिले में एक ट्रक दूसरे ट्रक से टकरा गया। इस दुर्घटना में 24 मजदूरों की मौत हो गई है। मृतक इसी ट्रक में सवार थे। इस घटना के बाद घायलों को नजदीकी अस्पताल में पहुंचाया गया है। ये सभी राजस्थान से आ रहे थे और बिहार-झारखंड जा रहे थे।

ओरैया की सीएमओ अर्चना श्रीवास्तव ने बताया कि इस हादसे में 24 लोगों की मौत हुई है। 22 घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है और 15 गंभीर रूप से घायलों को सेफैई पीजीआई रेफर किया गया है। ये लोग राजस्थान से बिहार और झारखंड जा रहे थे।


Advt.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक तरफ लगातार हो रहे हादसों से दुखी हैं तो दूसरी तरफ जिम्मेदार अधिकारियों से बेहद नाराज भी हैं। सीएम ने टीम 11 की बैठक में मौजूद अधिकारियों से भी पूछा कि उनकी अपील और आदेश के बावजूद मजदूरों का पलायन पुलिस प्रशासन क्यों नहीं रोक पा रहा। वो भी तब जब राज्य सरकार प्रवासी मजदूरों को बाहर से लाने और भेजने की युद्ध स्तर पर चिंता कर रही है। सीएम के सवालों का अधिकारियों के पास कोई जवाब था नहीं।


टीम स्टेट टुडे


Advt.

13 views0 comments