google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

अयोध्या में इस बार सिर्फ घाट तक सीमित नहीं रहेगा दीपोत्सव, श्रीराम मार्ग भी होगा रोशन


लखनऊ, 17 सितंबर 2022 : भगवान श्रीराम के भव्यमंदिर के आकारलेने के बीचमें इस बाररामनगरी अयोध्या का दीपोत्सवका आकार भीवृहद होगा। कोरोनासंक्रमण काल केदौरान बीते दोवर्ष तक आयोजनकी सीमा सीमितथी, लेकिन इसबार यहां परभव्य आयोजन कीतैयारी है।

अयोध्या नगरी कोदीपोत्सव के लिएसजाने का कामजोरों पर है।इस बार दीपोत्सवसिर्फ सरयू नदीके दोनों तटतक ही सीमितनहीं रहेगा बल्किलखनऊ-गोरखपुर राजमार्गपर श्रीराम मार्गतक आकार लेगा।इसके लिए राजमार्गके दोनों छोरपर भगवान श्रीरामकी मूर्तियां भीलगाई जा रहीहैं। इस बार दीपोत्सवसे पहले अयोध्याको सूबे कीराजधानी लखनऊ सेजोड़ने वाले गोरखपुर-लखनऊ रोडको सजाया औरसंवारा जा रहाहै। यहां पररामायण से जुड़ेप्रसंगों को जीवंतकरते हुए सजाने-संवारने की योजनापर काम चलरहा है।

एनएच -27 के डिवाइडरपर सौंदर्यकरण

अयोध्या के जिलाधिकारीनीतीश कुमार नेबताया कि दीपोत्सवको लेकर तैयारियांतेज हो गईहैं। उन्होंने कहाकि इस बारदीपोत्सव को लेकरही एनएच -27 केडिवाइडर पर सौंदर्यकरणका कार्य करायाजा रहा है।इसमें अयोध्या मेंअध्यात्म से जुड़ीमूर्तियां लगाई जारही हैं। डिवाइडरपर केबल भीलगाया जा रहाहै। उन्होंने कहाकि जब श्रद्धालुयहां प्रवेश करेंगेतो उनको येपता भी चलेगाकि हम आध्यात्मिकनगरी में प्रवेशकर रहे हैं।

अयोध्या के साथअध्यात्म का जोपुराना रिश्ता

रामनगरी में इसबार प्रयास कियाजा रहा हैकि अयोध्या केसाथ अध्यात्म काजो पुराना रिश्तारहा है, हरचीज उससे जोड़ीजाए। जिलाधिकारी नेदीपोत्सव को लेकरअन्य तैयारियों केसंबंध में भीकहा कि जगह-जगह पेंटिंगभी कराई जाएगी।दीपोत्सव को लेकरराम की पैड़ीको विस्तार देनेका काम भीशुरू कराया जारहा है।

ऋषि-मुनियोंकी प्रतिमाएं भी

हाईवे पर सहादतगंजसे रामघाट तकभगवान श्रीराम केबाल्यकाल से लेकरवनवासी जीवन औरराजा राम बननेतक, जीवन केअलग-अलग चरणोंको दर्शाती मूर्तियांलगाई जा रहीहैं। सड़क किनारेभगवान राम केविविध रूप केसाथ ही उनकेजीवन से जुड़ेऋषि-मुनियों कीप्रतिमाएं भी लगाईजा रही हैं।

दिवाली के दिनभव्य दीपोत्सव

अयोध्या में रामकी पैड़ी परदिवाली के दिनभव्य दीपोत्सव काकार्यक्रम होता है।जिसमें प्रदेश मुख्यमंत्री योगीआदित्यनाथ भी आतेहैं। इस बारउनके दूसरी बारप्रदेश की सत्तासंभालने के बादका पहला दीपोत्सवहोगा। इस बारराम की पैड़ीके साथ अयोध्यामें अन्य जगहोंपर भी लाखोंकी संख्या मेंदीप जलाए जाएंगे।

0 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0