google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

आजम के करीबियों पर फिर कसने लगा पुलिस और ED का शिकंजा, देखें कौन-कौन हैं करीबी


रामपुर, 20 सितंबर 2022 : सपा विधायक आजम खांऔर उनके करीबियोंपर एक बारफिर कानूनी शिकंजाकसने लगा है।साल 2019 में लोकसभाचुनाव के बादभी आजम खांऔर उनके करीबियोंके खिलाफ बड़ेपैमाने पर मुकदमेदर्ज हुए थे।आजम खां परतो 93 मुकदमे दर्जहैं।

आजम खांपर अब 94 मुकदमे

आजम खांपर अब एकऔर मुकदमा दर्जहोने से इनकीसंख्या 94 हो गईहै। वह सवादो साल बादजेल से छूटसके हैं। उनकीपत्नी पूर्व सांसदडा. तजीन फात्माके खिलाफ 34 मुकदमेदर्ज हैं। वह 10 माह जेल मेंरहीं। उनके बेटेविधायक अब्दुल्ला आजम केखिलाफ पहले ही 45 विचाराधीन हैं।

23 महीने सीतापुर जेलमें रहे आजमखां

आजम खां 23 माह बाद जेलसे छूटे थे।आजम खां केबड़े बेटे अदीबआजम पर 31 औरउनकी बहन निखतअफलाक पर 30 मुकदमेदर्ज हैं। आजमखां के दोस्तविधायक नसीर खांपर भी 30 मुकदमेहैं, जबकि उनकेकरीबी रहे सेवानिवृतसीओ आले हसनखां पर 56 मुकदमेदर्ज हैं।

गवाहों को धमकानेका भी हैमुकदमा

आजम खांके खिलाफ गवाहोंको धमकाने केदो मकदमे पिछलेमाह दर्ज हुए।उनके वकील परभी मुकदमा हुआ।एक वायरल वीडियोके आधार परउनके करीबियों कोपकड़ लिया गया।इस वीडियो मेंकुछ युवक ताशखेल रहे हैं।इन्हें आजम खांके बेटे अब्दुल्लाआजम का दोस्तबताया जा रहाहै।

इसमें रिपोर्ट दोमाह पहले अज्ञातमें दर्ज हुईथी, लेकिन अबअब्दु्ल्ला के दोस्तपकड़ लिए गएहैं। सपाइयों नेइसका विरोध भीकिया, लेकिन पुलिसने उन्हें नहींछोड़ा। सोमवार को एकऔर मुकदमा नगरपालिका की सफाईकरने की मशीनको काटकर जौहरयूनिवर्सिटी में दबानेका दर्ज हुआहै। पुलिस नेमशीन के पार्टभी यूनिवर्सिटी सेबरामद कर लिएहैं।

ईडी भीकर रही जांच

आजम खांके खिलाफ जुलाई 2019 में जौहर यूनिवर्सिटीके लिए जमीनेंकब्जाने के 30 मुकदमे दर्जहुए थे। तबप्रशासन ने उन्हेभूमाफिया घोषित कर दियाथा। इसके बादतत्कालीन जिलाधिकारी आन्जनेय कुमारसिंह( वर्तमान मेंमंडलायुक्त मुरादाबाद) ने ईडीको रिपोर्ट भेजदी थी।

भाजपा नेता नेईडी से कीथी शिकायत

भाजपा नेता आकाशसक्सेना ने भीअवैध तरीके सेधन एकत्र करनेकी शिकायत ईडीमें की थी।तब ईडी नेकेस दर्ज करजांच पड़ताल शुरूकर दी। ईडीपहले भी यहांआकर जांच करचुकी है। आजमखां से सीतापुरजेल में हीपूछताछ की थी, जबकि अब्दुल्ला औआज से लखनऊबुलाकर पूछताछ की। अब उन्हेंचंदा देने वालेभी ईडी केनिशाने पर हैं।रामपुर के एकदर्जन लोगों सेपूछताछ हो सकतीहै। इसके अलावामुरादाबाद के भीकई लोगों सेईडी की जांचके दायरे मेंआ रहे हैं।

0 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0