google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

आजम पर आमने-सामने सरकार और सपा, दोनों सदनों में जमकर हंगामा


लखनऊ, 20 सितंबर 2022 : उत्तर प्रदेश विधानमंडल केमानसून सत्र केतीसरे दिन बुधवारको समाजवादी पार्टीके सदस्यों नेदोनों सदनों विधानसभा और विधानपरिषद में आजमखां के मुद्देको लेकर जमकरहंगामा किया। प्रश्नकाल शुरूहोते ही समाजवादीपार्टी के सदस्योंने आजम परफर्जी मुकदमे लगानेऔर उनके परिवारको प्रताड़ित करनेका आरोप लगायाऔर वेल मेंआ गए। इसकारण सदन कोस्थगित भी करनापड़ा।

विधान सभा मेंप्रश्नकाल के पहलेसपा नेता माताप्रसाद पांडेय ने आजमखां का मुद्दाउठाया। कहा किउनका उत्पीड़न होरहा है। इसकेबाद नेता प्रतिपक्षअखिलेश यादव नेकहा कि भाजपाआजम खां काउत्पीड़न कर रहीहै। अखिलेश नेकहा कि उनकोऔर प्रताड़ित नकरे। उन्हें काफीसजा मिल चुकीहै। उन परबदले की भावनासे फर्जी मुकदमेदर्ज हो रहेहैं।

विधान सभा मेंमंत्री सुरेश खन्ना नेआरोपों के जवाबमें कहा किआजम खां केखिलाफ कोई भीमुकदमा फर्जी नहीं है।बदले की भावनासे काम करनेका आरोप गलतहै। उन्होंने कहाकि कानून सेऊपर कोई नहींहै। हम इनआरोपों का खंडनकरते हैं। जिसनेगवाही दी हैवह उसी जातिका है औरजिसने मुकदमा लिखायावह उसी जातिका है। गवाहको गवाही देनेजिस दिन जानाथा, तो सुबहलोगों ने पहुंचकर धमकाया गया, इस मामले मेंकोतवाली में मुकदमालिखा गया है।विवेचना चल रहीहै।

उधर विधानपरिषद में भीप्रश्नकाल शुरू होतेही समाजवादी पार्टीके सदस्यों नेआजम खां परफर्जी मुकदमे लगानेऔर उनके परिवारको प्रताड़ित करनेका आरोप लगाया।सपा सदस्य वेलमें आ गए।सभापति ने विधानपरिषद पहले 11:30 बजेतक उसके बाद 12:00 बजे तक केलिए स्थगित करदी। इससे पहलेसमाजवादी पार्टी के नरेशउत्तम पटेल नेकहा कि आजमखां और उनकेपूरे परिवार कोजिस तरह सेफर्जी मुकदमे लगाएजा रहे हैंऔर समाजवादी पार्टीके विधायकों कोसदन में नहींआने दिया गया।यह लोकतंत्र केलिए ठीक नहींहै।
0 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0