google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

आजम को साधने में जुटी मायावती, बोलीं- दो वर्ष से अधिक समय तक जेल में रखना द्वेषपूर्ण


लखनऊ, 12 मई 2022 : समाजवादी पार्टी के संस्थापक सदस्य आजम खां की इन दिनों पार्टी से नाराजगी को कैश कराने के प्रयास में कई दल कूद पड़े हैं। इनमें बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती का भी नाम शामिल हो गया है। मायावती ने लम्बे समय बाद तीन ट्वीट किया है। इसमें उन्होंने आजम खां को दो वर्ष से अधिक समय तक जेल में बंद रखने की प्रक्रिया पर बड़ा सवाल खड़ा किया है।

बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने आजम खां के पक्ष में बड़ा बयान दिया है। बसपा मुखिया ने गुरुवार को ट्वीट में कहा है कि भारतीय जनता पार्टी भी कांग्रेस की राह पर चलकर अपने शासित राज्यों में लोगों को टारगेट कर रही है। भाजपा तो कांग्रेस की तरह ही उत्तर प्रदेश तथा अन्य अपने शासित राज्यों में लोगों को टारगेट कर परेशान कर रही है। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से टारगेट करके गरीबों, दलितों, अदिवासियों एवं मुस्लिमों को जुल्म-ज्यादती व भय आदि का शिकार बनाकर उन्हें परेशान किया जा रहा है यह अति-दु:खद, जबकि दूसरों के मामलों में इनकी कृपादृष्टि जारी है।

मायावती ने कहा कि इसी क्रम में उत्तर प्रदेश सरकार अपने विरोधियों पर लगातार द्वेषपूर्ण व आतंकित कार्रवाई कर रही है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ विधायक मोहम्म्द आजम खां को भाजपा सरकार ने करीब सवा दो वर्षों से जेल में बंद कर रखा है। आजम खां के खिलाफ यह कार्रवाई काफी चर्चाओं में है। मायावती ने कहा कि यह लोगों की नजर में न्याय का गला घोंटना नहीं तो और क्या है।

मायावती ने कहा कि इसके साथ ही देश के कई राज्यों में जिस प्रकार से दुर्भावना व द्वेषपूर्ण रवैया अपनाकर प्रवासियों व मेहनतकश समाज के लोगों को अतिक्रमण के नाम पर भय व आतंक का शिकार बनाकर, उनकी रोजी-रोटी छीनी जा रही है, वह अनेकों सवाल खड़े करता है। यह कृत्य तो अति-चिन्तनीय भी है।
14 views0 comments