google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

भूपेंद्र चौधरी ने कहा, बहकावे में आने वाले नहीं केशव, पहले परिवार-पार्टी संभालें अखिलेश


लखनऊ, 8 सितंबर 2022 : भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी ने केशव को लेकर दिए बयान पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने कहा है कि केशव प्रसाद तो किसी के बहकावे में आने वाले नहीं हैं लेकिन आखिलेश यादव पहले अपने परिवार और पार्टी को संभालें। वह शताब्दी एक्सप्रेस से आते समय इटावा में पत्रकारों से वार्ता के बाद कानपुर पहुंचे।

इटावा में उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि पहले अखिलेश यादव अपने परिवार, पार्टी को एक कर लें उसके बाद भारतीय जनता पार्टी के विधायकों को तोड़ने की सोचें। केशव प्रसाद मौर्या भारतीय जनता पार्टी की विचारधारा के शख्स हैं। उन्होंने कई प्लेटफार्म पर काम किया है, वह किसी के बहकावे में आने वाले नहीं हैं। उन्होंने पत्रकारों से यह बात अखिलेश यादव द्वारा दिए गए उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या को मुख्यमंत्री बनाने के बयान पर कही।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा को मजबूत करने के प्रयास लगातार किए जा रहे हैं। प्रदेश में पार्टी के कार्यक्रम, अभियान आगे बढ़ाए जा रहे हैं। इस समय हमारी सरकार है तो सरकार की उपलब्धियां जनता तक पहुंचाई जा रहीं हैं। 11.20 बजे के तय समय से शताब्दी एक्सप्रेस करीब 40 मिनट देरी से कानपुर पहुंची। वह यहां पर कानपुर बुंदेलखंड क्षेत्र की बैठक के लिए आए हैं।

उनके आगमन की जानकारी के बाद सुबह से ही कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर भाजपा कार्यकर्ता और नेता मौजूद थे और प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी को फूल माला पहनाकर स्वागत किया। उनके करीब पहुंचने के लिए कार्यकर्ताओं ने सभी सीमाएं लांघ दीं। स्टेशन पर भाजपा जिलाध्यक्ष, सांसद व विधायकों ने उनका स्वागत किया। प्लेटफार्म से लेकर स्टेशन परिसर के बाहर तक भाजपा जिंदाबाद के नारों से गूंजता रहा।

सुरक्षा बलों के बीच घिरे प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी बोगी से उतरे और कार्यकर्ताओं की भीड़ के बीच लोगों से मिलते हुए बाहर पहुंचे। इसके बाद घंटाघर, टाटमिल, बाबूपुरवा, किदवई नगर, मौरंग मंडी चौराहा आदि स्थानों पर उनका पार्टी पदाधिकारियों ने स्वागत किया। जुलूस के रूप में वह क्षेत्रीय कार्यालय पहुंचे, जहां पर बैठक करेंगे। स्वागत में क्षेत्रीय अध्यक्ष मानवेंद्र सिंह, विधायक सुरेंद्र मैथानी, महेश त्रिवेदी, पूर्व महापौर रवीन्द्र पाटनी, जिलाध्यक्ष सुनील बजाज, डा. बीना आर्या, अनूप अवस्थी, शिवराम सिंह आदि रहे।

बैठक में प्रमुख रूप से 17 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन के साथ शुरू हो रहे सेवा सुशासन और गरीब कल्याण अभियान के संबंध में तैयारियों की जानकारी लेंगे। यह अभियान दो अक्टूबर को गांधी जयंती तक चलेगा। इसके अलावा निकाय चुनाव और विधान परिषद चुनाव के संबंध में भी वह पदाधिकारियों से चर्चा करेंगे। बाद में वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कार्यालय, विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना, सांसद सत्यदेव पचौरी, विधान परिषद सदस्य व पार्टी उपाध्यक्ष सलिल विश्नोई के यहां भी जाएंगे।
0 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0