google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

भूपेंद्र चौधरी बोले-पश्चिम का आदमी खरा, शिकायत तो करेगा लेकिन रहेगा भाजपाई


लखनऊ, 5 सितंबर 2022 : किसान आंदोलन और जाटों की नाराजगी के लोकसभा चुनाव 2024 पर होने वाले प्रभाव पर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी ने खास अंदाज में जवाब दिया।

बोले, मैं, पश्चिम का आदमी खरा होता है, शिकायत तो करेगा लेकिन रहेगा भाजपाई ही। लोकतंत्र में सभी को विचार व्यक्त करने की स्वतंत्रता है। पश्चिम के लोग अपने अधिकारों के लिए निर्भीक होकर मांग करते हैं साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बहुत लाड़ (प्यार) करते हैं।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चौधरी ने कहा कि हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के पहले चरण में पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 58 में 46 सीटों पर जीत दर्ज की। पिछले लोकसभा चुनाव में 64 सीटों पर दर्ज की, अब 2024 में अन्य दलों का सूपड़ा साफ कर देंगे।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के भाजपा को लोस चुनाव में 50 सीटें आने के दावे पर चौधरी ने कहा कि नीतीश ने अपना चेहरा बिगाड़ लिया। अन्य दल जनता से पूरी तरह से दूर हो चुके हैं। जबकि भाजपा कार्यकर्ता जनता के दुख दर्द में शामिल होकर जुड़े हुए हैं।

लगातार बढ़ रही बेरोजगारी की चर्चा करने पर उन्होंने कहा कि प्रदेश में हर स्तर पर विकास हो रहा है। नौकरी भी उसी में शामिल है। मणिपुर के राज्यपाल सतपाल मलिक और पीलीभीत से भाजपा सांसद वरुण गांधी लगातार आलोचना के सवाल पर उन्होंने कहा कि वह संवैधानिक पद पर हैं, मैं कोई टिप्पणी नहीं करूंगा।

नगर निकायों के चुनाव होगा संगठन में पुनर्गठन

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी ने स्पष्ट कहा है कि प्रदेश में भाजपा संगठन का पुनर्गठन निकाय चुनाव के बाद होगा। इस समय भाजपा के कार्यकर्ताओं का एक लक्ष्य नगर निकायों के चुनाव को जीतना। बूथ से लेकर अखिल भारतीय संगठन का गठन होगा। संगठन का कार्यकाल तीन वर्ष का होता है। उसके बाद पुर्नगठन किया जाता है।

राहुल गांधी को कोई गंभीरता से नहीं लेता

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की ओर से महंगाई को लेकर की जा रही चर्चा के संबंध में प्रश्न पूछने पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि राहुल उनकी बहन और उनके पार्टी के नेताओं को अब जनता गंभीरता से नहीं लेती है। बोले, कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भूमिका हमेशा के घेरे में रहती है। वह कब क्या कह दें, इस बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता है। विपक्षी दल ना तो जनता से जुड़े हैं और ना ही जमीन पर काम कर रहे हैं।

बोले- चेहरे देखकर नहीं काम करता कानून

भाजपा विरोधी नेताओं के विरुद्ध लगातार सीबीआइ और ईडी की लगातार हो रहीं छापमारी से उनको डराने की कोशिश किए जाने के प्रश्न पर भूपेंद्र चौधरी ने कहा कि छापे चेहरे देखकर नहीं हो रहे हैं। भाजपा का भी कोई नेता गड़बड़ करेगा तो उसके विरुद्ध भी कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि विरोधी दल के तमाम लोग ईडी और सीबीआइ के छापों से डरते क्यों हैं। अगर सही हैं तो उनको डरने की क्या जरूरत है।

कक्ष को लेकर लेकर कुछ नाराजगी भी दिखाई

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सर्किट हाउस राज्यपाल कक्ष में पहुंचे तो वहां पर प्रदेश सरकार के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना कपड़े बदल रहे थे। वहां उन्हें कपड़े बदलने के लिए कमरा नहीं मिल पाया। इसके बाद वह दूसरे कमरे में चले गए और वहां जाकर कपड़े बदले और जलपान किया। उन्होंने नाराजगी जताई तो नहीं लेकिन उनके अंदाज को देखकर लोग भांप गए।

1 view0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0