google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

केंद्रीय मंत्री ने इंवेस्टर समिट की बड़ी घोषणा, यूपी में 3 लाख नई बसें आएंगी



लखनऊ, 11 फरवरी 2023 : यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-23 का आज दूसरा दिन है। ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के दूसरे दिन केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी लखनऊ पहुंचे। इनमें से एक सत्र में बोलते हुए केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने अपने विचार साझा किए। इस दौरान उन्होंने कहा कि आखें दान की जा सकती है, लेकिन विकास का विजन दान नहीं किया जा सकता। योगी आदित्यनाथ की गाड़ी विकास के हाईवे पर बहुत तेजी से दौड़ रही है। मुझे विश्वास है कि यूपी से जल्द बेरोजगारी की समस्या दूर होगी। यूपी में 3 लाख नई बसें आएंगी। वहीं उन्होंने ये भी कहा कि डेढ़ लाख लोगों को रोजगार मिलेगा।

शिक्षा के क्षेत्र में होगा बड़ा निवेश

ब्रेन ड्रेन की बजाए यूपी ब्रेन गेन की स्थिति में होगा। दूसरे राज्यों व विदेश से बड़ी संख्या में विद्यार्थी यहां करियर संवारने आएंगे। विश्व स्तरीय शिक्षा देने के लिए हो रहे इस बड़े निवेश से सवा छह लाख युवा रोजगार भी पाएंगे। शिक्षा के क्षेत्र मे प्रदेश में 1.60 लाख करोड़ का निवेश किया गया है और इसमें से 99 हजार करोड़ रुपये से दो स्मार्ट सिटी आफ नालेज स्थापित किए जाएंगे।

अस्टिन कंसल्टेंसी ग्रुप द्वारा 58,100 करोड़ रुपये की लागत से अस्टिन स्मार्ट सिटी आफ नालेज स्थापित किया जाएगा। अमेरिका की विश्वस्तरीय अस्टिन यूनिवर्सिटी जैसा इंफ्रास्ट्रक्चर यहां भी विद्यार्थियों को मिलेगा। वहीं इंपीरिया इनोवेशन इन्वेस्टमेंट भी 41,000 करोड़ रुपये की लागत से नालेज सिटी तैयार करेगा। विद्यार्थियों को यूपी में रहकर ही विश्वस्तरीय शिक्षा हासिल करने का मौका मिलेगा और प्रदेश आने वाले समय में एजुकेशन का हब बनेगा।

जापान करेगा एनर्जी में निवेश

जापान उत्तर प्रदेश में हाइड्रोजन एनर्जी और आटोमोबाइल सेक्टर सहित कई क्षेत्रों में बड़ा निवेश करेगा। दिल्ली के पास बन रहे जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट से दोनों ही देशों के बीच बड़े पैमाने पर व्यापार संभव हो सकेगा। जापानी कंपनियां ब्यूरोक्रेट होती हैं। प्रोसेस को ज्यादा महत्व देती हैं और सावधानी से निर्णय लेती हैं। यूपी उनके लिए व्यवसायिक मानकों पर खरा उतरा है। सिंगल विंडो सिस्टम से यह देरी भी कम होगी।

ग्लोबल इनवेस्टर्स समिट में शनिवार को दधीचि हाल में उत्तर प्रदेश के लिए भारत और जापान की विशेष प्लानिंग एवं ग्लोबल पार्टनरशिप के दौरान जापानी उद्योगपति यहां की अपार संभावनाओं से उत्साही दिखे। इसी दौरान पर्यटन विकास को देखते हुए जापान के प्रसिद्ध होटल समूह होटल मैनेजमेंट इंटरनेशनल कंपनी लिमिटेड (एचएमआई) ने यूपी में अयोध्या, वाराणसी और आगरा सहित अन्य शहरों में 30 नए होटल बनाने का एमओयू किया। जापानी कंपनी ने प्रदेश सरकार के साथ 7200 करोड़ के निवेश का समझौता किया। इससे करीब 10 हजार युवाओं को सीधा रोजगार मिलेगा।

मेडिकल क्षेत्र में होगा बड़ा निवेश

वहीं आपको ये भी बता दें ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में मेडिकल सेक्टर में हुए निवेश से विश्व स्तरीय स्वास्थ्य सुविधाएं मिलने की राह आसान होगी। प्रदेश में बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मिलने से लोगों को उपचार के लिए बाहर नहीं जाना होगा। 11 मेडिकल यूनिवर्सिटी, 15 सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल, 17 मेडिकल कालेज 15 मल्टी स्पेशियलिटी अस्पताल, चार कैंसर सेंटर व पांच रिसर्च सेंटर आदि खुलने से प्रदेश के कोने-कोने में उत्कृष्ट उपचार की सुविधाएं मिलेंगी।

स्वास्थ्य विभाग 54,327 करोड़ रुपये का निवेश करा रहा है। 34,500 करोड़ रुपये राग हेल्थ केयर टेक्नोलाजी प्राइवेट लिमिटेड ने निवेश किए हैं। मातृ ज्योति स्कीम के तहत मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के लिए जांच व उपचार की सुविधा दी जाएगी। वहीं आइ स्वास्थ्य स्कीम से लोगों के घर-घर जाकर हेल्थ चेकअप व तत्काल जांच रिपोर्ट उपलब्ध कराने की सुविधा दी जाएगी। यही नहीं मेडिकल डिवाइस मैन्यूफेक्चरिंग यूनिट माई हेल्थ सेंटर लगाएगा।

अदाणी समूह ने किया 24,200 करोड़ का एमओयू

यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट से अदाणी समूह के प्रमुख गौतम अदाणी की दूरी सभी को भले ही अखर रही हो लेकर उत्तर प्रदेश में निवेश को लेकर अपने वादे से दिग्गज कारपोरेट कंपनी पीछे नहीं हटी है। अदाणी समूह की अदाणी लाजिस्टिक्स लिमिटेड ने प्रदेश सरकार के साथ लाजिस्टिक्स एंड वेयरहाउसिंग क्षेत्र के लिए 11 एमओयू किए हैं। कंपनी ने उत्तर प्रदेश सरकार के साथ् 24,200 करोड़ रुपये के एमओयू किए हैं। इस निवेश से करीब 156500 लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार हासिल होंगे। कंपनी ने बहराइच, लखनऊ, गाजियाबाद, प्रयागराज, बरेली, मुरादाबाद, मेरठ, कानपुर और हमीरपुर में लाजिस्टिक्स और वेयरहाउसिंग की इकाई लगाएगी।


0 views0 comments
bottom of page