google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

PM के जीवन पर केंद्रित चित्र प्रदर्शनी का CM ने किया उद्घाटन, बाबा दरबार में लगाई हाजिरी


वाराणसी, 12 नवंबर 2022 : मुख्यमंत्रीयोगी आदित्यनाथ शुक्रवारकी सुबह वाराणसीपहुंचे। वह यहांविविध आयोजनों मेंइस दौरान सम्मिलितहोंगे। वाराणसी आने केबाद सुबह उन्‍होंने रुद्राक्ष कन्वेंशनसेंटर में प्रधानमंत्रीनरेन्द्र मोदी केजीवन पर आधारितआठ दिवसीय चित्रप्रदर्शनी का उद्घाटनकिया। इसके बादवह जल परिवहनको बढ़ावा देनेके लिए गंगामें जेटी काशिलान्यास करने पहुंचे।

इस दौरानउन्‍होंने नेशनलवाटरवे-1 (गंगा नदी) पर आठ सामुदायिकघाटों के लिएसात सामुदायिक घाटोंपर जेटी काउद्घाटन और आधारशिलाओंका अनावरण किया।इसके बाद वहसतुआ बाबा कोश्रद्धांजलि देने पहुंचे, इसके पूर्व वहबाबा दरबार मेंभी दर्शन पूजनकरने पहुंचे। वहांसे वह दीनदयालहस्‍तकला संकुलमें आयोजित गतिशक्ति समिट मेंभी शामिल हुए।

उत्तर प्रदेश केमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथवाराणसी दौरे केदौरान शुक्रवार कोरुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर मेंआयोजित काशी केसांसद व प्रधानमंत्रीमोदी के जीवनपर आधारित चित्रप्रदर्शनी का फीताकाटकर एवं दीपप्रज्वलित कर उदघाट्नकिया। उद्घाटन करनेके पश्चात मुख्यमंत्रीयोगी आदित्यनाथ नेप्रदर्शनी का अवलोकनकिया। इसके बादप्रदर्शनी जनसामान्य के अवलोकनार्थखोल दिया गया।जो प्रतिदिन जनसामान्यके अवलोकनार्थ खुलारहेगा।

काशी केसांसद व प्रधानमंत्रीनरेन्द्र मोदी केजीवन पर आधारितइस चित्र प्रदर्शनीमें 55 चित्रों के माध्यमसे उनके व्यक्तित्वव कृतित्व कोउकेरा गया है।बताते चलें किइन चिंत्रो मेंगुजरात से लेकरप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी केविश्व नेता बननेतक के सफरको कैनवास परखूबसूरती से उकेरागया है। इनपेंटिंग की खासबात ये हैकि इनमें जीएसटी, विमुद्रीकरण और सर्जिकलस्ट्राइक जैसे प्रमुखनीतिगत फैसलो को भीजगह दी गयीहै। इन चित्रोमें नरेन्द्र मोदीके सामने आनेवाली चुनौतियों औरउनकी उपलब्धियों कोभी बखूबी दर्शायागया है।

आयल औरएक्रिलिक रंगों से बनीइन पेंटिंग मेंगुजरात के एकछोटे से शहरमें चाय बेचनेवाले एक युवालड़के से लेकरदुनियां के सबसेबडे लोकतंत्र केप्रधानमंत्री बनने कीसाहसी यात्रा काएक दस्तावेज है।इन पेंटिंग में 12 पेंटिंग प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कीजीवन से सम्बन्धित, 32 पेंटिंग "मन कीबात एवं 11 स्केचमन की बातपुस्तक से शामिलकी गयी है।संकल्प से सिद्धि, काले धन कोना करो, नशीलीदवाओं से सावधानरहे, हमारे किसानोंको बचाओ, पानीएक आशीर्वाद है, खादी, लक्ष्य, मेराभारत, स्वच्छ भारत, जीवन का आदरकरो, मुद्रा योजना, राष्ट्रीय एकता, और मददकरने वाले हाथजैसी उत्कृष्ट रचनाएहै। जो खूबसूरतही नहीं बल्किएक संदेश प्रतीतहोती है।

प्रदर्शनी के उदघाट्नअवसर पर केंद्रीयकैबिनेट मंत्री सर्बानंद सोनोवाल, उत्तर प्रदेश केकैबिनेट मंत्री सूर्य प्रतापशाही, श्रम एवंसेवायोजन मंत्री अनिल राजभर, स्टांप एवं न्यायालयपंजीयन शुल्क राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविंद्र जायसवाल, आयुष मंत्री दयाशंकरमिश्र 'दयालु', प्रदेश सहप्रभारी सुनील ओझा, काशीक्षेत्र के अध्यक्षमहेश चंद श्रीवास्तव, पूर्व मंत्री एवंविधायक डॉक्टर नीलकंठ तिवारी, विधायक गण डाॅ. नीलकंठ तिवारी, सौरभ श्रीवास्तव, डॉ. अवधेश सिंह, सुनील पटेल, महानगरअध्यक्ष विद्या सागर राय, जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा, महापौरमृदुला जायसवाल, अशोक चौरसिया, क्षेत्रीय मीडिया प्रभारी नवरतनराठी, सह-मीडियाप्रभारी संतोष सोलापुरकर, नवीनकपूर, जगदीश त्रिपाठी, अशोक पटेल, संजयसोनकर, सुरेश सिंह, रौनीवर्मा, साधना वेदांती, गीताशास्त्री, आलोक श्रीवास्तव, इं अशोक यादव, अशोक कुमार एडवोकेटआदि लोग प्रमुखरूप से उपस्थितरहे।

बीएचयू के स्वतंत्रताभवन में आयोजितसातवें अंतरराष्ट्रीय आदर्श ग्राम सम्मेलनमें भी सीएमशामिल होंगे। देशमें पहली बारहो रहे इससम्मेलन में 50 से अधिककंपनियों और विश्वविद्यालयोंसहित 20 देशों के 800 सेअधिक प्रतिभागी सम्मलितहोंगे।

इसके बादश्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर मेंबाबा के दर्शन-पूजन केसाथ श्रीकाशी विश्वनाथधाम के त्र्यंबकभवन में आयोजितषष्ठ पीठाधीश्वर सतुआबाबा यमुनाचार्य महाराजकी श्रद्धांजलि सभामें सहभागी होंगे।इसके बाद मुख्यमंत्रीपं. दीनदयाल उपाध्यायहस्तकला संकुल में आयोजितगति शक्ति समिटमें सम्मिलित होंगेफिर लखनऊ लौटजाएंगे। सीएम केसाथ जेटी उद्घाटनसमारोह में परिवहनमंत्री दयाशंकर सिंह औरआदर्श ग्राम कांफ्रेंसमें कृषि मंत्रीसूर्य प्रताप शाहीभी होंगे।

1 view0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0