google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

बैठक में बोले सीएम- विपक्षियों के पास न विकास की दृष्टि और न जनता का विश्वास


लखनऊ, 20 फरवरी 2023 : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि विपक्षी दलों के पास न विकास की दृष्टि है और न ही जनता का विश्वास। उन्होंने भाजपा तथा सहयोगी दलों के विधानसभा और विधान परिषद सदस्यों से कहा है कि वे विधानमंडल के बजट सत्र के दौरान सरकार की उपलब्धियों की जोर शोर से चर्चा करें और विपक्ष के षड्यंत्रों को नाकाम करें।

योगी बजट सत्र से पहले रविवार को लोकभवन में भाजपा व सहयोगी दलों के विधान सभा और विधान परिषद सदस्यों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। योगी ने कहा कि यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के माध्यम से सरकार 33.5 लाख करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव हासिल करने में सफल हुई है। जी 20 देशों की बैठकों का भी प्रदेश में सफल आयोजन हो रहा है।

उन्होंने कहा कि सरकार की सफलता से तिलमिलाया विपक्ष सत्र के दौरान सदन की कार्यवाही को बाधित करने की कोशिश कर सकता है। उन्होंने कहा कि यदि सपा कहे कि हम प्रदेश को गुंडा और दंगा मुक्त कर देंगे तो कोई उस पर विश्वास नहीं करेगा। यदि बसपा कहे कि हम जातिवाद को मिटा देंगे तो कोई उस पर भरोसा नहीं करेगा। कांग्रेस यदि प्रदेश को भ्रष्टाचारमुक्त करने का दावा करे तो किसी को उस पर यकीन नहीं होगा।मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा अगर यह दावा करे तो लोग उस पर भरोसा करेंगे क्योंकि हमने जो कहा है, उसे किया है। उन्होंने ने भाजपा व सहयोगी दलों के विधायकों से कहा कि वे विपक्ष के उकसावे में न आकर सदन में धैर्य और संयम का परिचय दें। साथ ही ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट और जी20 देशों की बैठक समेत सरकार की उपलब्धियों को सदन में मजबूती से रखें।

बैठक में भाजपा के प्रदेश महामंत्री (संगठन) धर्मपाल सिंह ने विधायकों को संगठन के अभियानों की जानकारी देने के साथ सांगठनिक ढांचे को मजबूत करने के लिए कहा। उन्होंने निकाय चुनाव में विधायकों को जुटने के लिए कहा। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व ब्रजेश पाठक ने भी बैठक को संबोधित किया।

लेटलतीफी का परिचय न दें विधायक

मुख्यमंत्री ने सोमवार को राज्यपाल के अभिभाषण के दृष्टिगत सभी विधायकों को सदन में समय से मौजूद रहने की हिदायत दी। यह भी कहा कि बीते दिनों राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु के स्वागत समारोह में भी बड़ी संख्या में विधायक लेट पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि जिम्मेदार जनप्रतिनिधि के तौर पर विधायकों का देर से आना शोभा नहीं देता।

सवाल पूछकर सरकार को असहज न करें सत्ता पक्ष के विधायक: खन्ना

बैठक में संसदीय कार्यमंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने इस बात पर आपत्ति जतायी कि सत्र के दौरान कुछ विधायक सरकार के खिलाफ सवाल पूछकर सदन में सत्ता पक्ष के लिए असहज स्थिति पैदा करते हैं। वे ऐसा न करें। उन्होंने कहा कि यदि विधायकों का कोई काम है तो उन्हें बताएं, वह संबंधित मंत्री से कह देंगे।

1 view0 comments

Kommentare


bottom of page