google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

सीएम योगी बोले- एक लाख राजस्व गांव को बसों से जोड़ा जाए


लखनऊ, 5 मार्च 2023 : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रंगों के त्योहार होली पर प्रदेशवासियों को बसों का उपहार दिया है। लखनऊ से अब सभी 75 जिलों में राजधानी बस सेवा संचालित की जाएगी। मुख्यमंत्री ने राजधानी बस सेवा की 76 बसों व 39 साधारण यानी कुल 115 बसों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने कहा कि परिवहन निगम प्रदेश के सभी एक लाख राजस्व गांव को बसों से जोड़े। कुछ बसें अपने पास से चलाए जबकि बाकी जगह पीपीपी माडल पर बसों का संचालन किया जाए।

मुख्यमंत्री शनिवार को अपने सरकारी आवास पांच कालिदास मार्ग से उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के 50वें स्वर्णिम वर्ष पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे थे। उन्होंने परिवहन निगम के 50 वर्ष पूरे होने पर डाक विभाग की ओर से जारी विशेष आवरण व विरुपण का अनावरण किया। योगी ने आनलाइन रिजर्वेशन व यात्री फीडबैक मोबाइल एप यूपी-राही भी लांच किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह आजादी का अमृत महोत्सव का पहला वर्ष है। इस प्रथम वर्ष में यूपी परिवहन निगम अपनी स्वर्णिम यात्रा को संजोए हुए नई शानदार यात्रा के लिए कार्य कर रहा है।

25 करोड़ जनता के सुगम व आसान यात्रा के लिए 50 वर्षों से जिस यात्रा को प्रारंभ किया गया, वह अपने साथ होली के पूर्व कुछ नई उपलब्धियों को जोड़ने जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कुंभ व कोरोना में परिवहन निगम द्वारा किए गए कार्यों की एक बार फिर सराहना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी व्यक्ति के आने-जाने के लिए सबसे पहला वास्ता बस स्टैंड से पड़ता है, इसलिए बस अड़डे व बसें साफ-सुथरी होनी चाहिए। कार्मिकों के लिए बस धर्मस्थल जैसी पवित्र होनी चाहिए, क्योंकि वह उनकी आजीविका का आधार है। उसकी सफाई करें, एक घंटे पहले आकर नियमित फिटनेस चेक कर लें। नागरिकों की सुरक्षा का भी ध्यान रखें।

चालक-परिचालक का नियमित मेडिकल चेकअप होना चाहिए। इसके लिए परिवहन निगम को स्वास्थ्य विभाग से एमओयू करना चाहिए।इससे पहले परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि न सिर्फ नई बसों के लिए मुख्यमंत्री ने धनराशि दी बल्कि निगम में अधिकारियों व कर्मियों की नियुक्ति को हरी झंडी दी। कोरोना काल का बकाया 348 करोड़ रुपये भी इस बजट में मुख्यमंत्री ने दिया है। मुख्यमंत्री के दिशा-निर्देश व आशीर्वाद से ही आज परिवहन निगम घाटे से फायदे में पहुंच गया है। इस मौके पर उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक व मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र भी मौजूद थे।

एक हजार नई बसों के लिए 400 करोड़

मुख्यमंत्री ने कहा कि होली पर 150 नई बसें आई हैं। अच्छी बात है कि इन बसों की बाडी परिवहन निगम की वर्कशाप में तैयार की गई है। उन्होंने बताया कि एक हजार नई बसें खरीदने के लिए हमने 400 करोड़ रुपये दिए हैं। बस अड्डों को एयरपोर्ट की तर्ज पर विकसित करने के लिए भी 100 करोड़ रुपये भी दिए गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि होली पर बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट पर भीड़-भाड़ होती है। अच्छी बस सेवा दें तो आमजन को लाभ मिलेगा। लोग पर्व त्योहार मनाने घर पहुंच सकेंगे।

लाखों युवाओं को मिल सकेगा रोजगार

मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी में एक लाख राजस्व गांव हैं। उन सभी गांवों में परिवहन निगम रेलवे व एयरपोर्ट से बेहतर सेवा दे सकता है। आमजन की यात्रा सुरक्षित व आसान हो, गांव से शहर और शहर से गांव लोग आ-जा सकें। आपकी सेवा उनके लिए हमेशा तैयार रहे। परिवहन निगम पर्यटन व राजस्व विभाग से भी बात करे। कहीं अच्छा ढाबा-होटल बने, लोग उसका उपयोग करें। आप एक लाख गांव को जोड़ेंगे तो इससे लाखों युवाओं को रोजगार व स्वावलंबन भी हो सकेगा। आपके पास बहुत अवसर है। प्रदेश में 350 से अधिक तहसीलें हैं, 825 विकास खंड, 762 नगरीय निकायों को बस सेवा से जोड़ दीजिए। इसके लिए निर्णय लेकर समयबद्ध तरीके से काम करना होगा।

13 views0 comments

Comentários


bottom of page