google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

गन्ने में प्राकृतिक खेती की संकल्पना


पीलीभीत, 27 नवम्बर 2022 : गन्ना विकास परिषद पीलीभीत के ग्राम सुंदरपुर में आज आयोजित किसान गोष्ठी में गन्ना शोध परिषद शाहजहांपुर के वैज्ञानिक डॉक्टर मनीष मोहन द्वारा गन्ने की उन्नतशील प्रजातियां तथा लाल सड़न बीमारी के प्रबंधन विषय पर वार्ता की गई. कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक डॉ एस. एस. ढाका द्वारा खेती में समसामयिक गतिविधियों पर उपस्थित किसान भाइयों का मार्गदर्शन किया गया। डॉ महेंद्र सिंह द्वारा गन्ने में प्राकृतिक खेती की संकल्पना एवं उसकी तकनीकी पर प्रकाश डाला गया।

विभागीय विकास योजनाओं, वर्तमान में गन्ने की आपूर्ति व्यवस्था, गन्ने की पताई प्रबंधन, गन्ना वाहनों पर रिफ्लेक्टिव टेप एवं प्रकाश परावर्तक पेंट के लगाए जाने के बारे में भी उपस्थित कृषकों को विस्तार पूर्वक बताया गया। फसल अवशेष प्रबंधन के निमित्त सभी किसान भाइयों को निशुल्क पूसा डी कंपोजर एवं संबंधित प्रचार साहित्य वितरित किया गया। गन्ना विभाग के सोशल मीडिया लिंक्स से जुड़कर अद्यतन जानकारी प्राप्त करने, सुझाव देने तथा शिकायत दर्ज कराने के विषय में भी अनुरोध किया गया। किसान भाइयों को उनके पंजीकृत मोबाइल नंबर को पेराई सत्र के दौरान परिवर्तित ना करने तथा संदेश के इनबॉक्स को खाली रखने के निमित्त भी अवगत कराया गया।

रिपोर्टर-रमेश कुमार

10 views0 comments