google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

Atiq Ahmed की कब्र पर तिरंगा रखने वाला कांग्रेस नेता हिरासत में


प्रयागराज, 20 अप्रैल 2023 : हर दल निकाय चुनाव में जीत हासिल करने को प्रचार-प्रसार में लगा है। इसी बीच कांग्रेस अपने नेताओं की कार्यप्रणाली से बैकफुट पर नजर आ रही है। पार्षद पद के टिकट बंटवारे से नाराज नेताओं के इस्तीफा देने का मामला शांत भी नहीं हो पाया था कि बुधवार को माफिया अतीक अहमद व उसके भाई अशरफ के गुणगान का मामला सामने आ गया।

आजाद स्क्वायर वार्ड संख्या 43 से कांग्रेस के पार्षद प्रत्याशी राजकुमार रज्जू ने अतीक अहमद को शहीद बताते हुए भारत रत्न देने की मांग रख दी। साथ ही अतीक व अशरफ की कब्र पर तिरंगा रखकर विलाप करते नजर आया। इसका वीडियो प्रसारित होने पर पुलिस ने रज्जू को हिरासत में लेकर राष्ट्रीय ध्वज के अपमान का केस दर्ज करने की बात की है। कांग्रेस ने छह वर्ष के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया है।

अतीक और अशरफ की कब्र पर तिरंगा चढ़ाने का वीडियो

वीडियो में रज्जू ने कहा कि जब मुलायम सिंह यादव को पद्म विभूषण मिल सकता है तो अतीक को भारत रत्न क्यों नहीं दिया जा सकता? उनके पार्थिव शरीर को तिरंगे में लपेटकर सम्मान क्यों नहीं दिया गया? उन्हाेंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से इस्तीफा की मांग तक कर डाली। इसके बाद कसारी-मसारी कब्रिस्तान में अतीक और अशरफ की कब्र पर तिरंगा चढ़ाने का वीडियो इंटरनेट मीडिया में प्रसारित हुआ तो कांग्रेस के पदाधिकारी हरकत में आ गए।

पार्टी ने बाहर किया, पार्षद की उम्मीदवारी वापस

शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष प्रदीप मिश्रा 'अंशुमन' ने राजकुमार को छह वर्ष के लिए पार्टी से निकाल दिया। सफाई देते हुए कहा कि राजकुमार ने माफिया अतीक से संबंधित जो बयान दिया है वो उनका निजी है। पार्टी का उससे कोई लेना-देना नहीं है। पार्टी ने अनुशासनात्मक कार्रवाई करते उन्हें बाहर करके पार्षद की उम्मीदवारी वापस ले ली है।

राष्ट्रीय ध्वज का अपमान

उधर, वीडियो देखने के बाद कोतवाली पुलिस ने राजकुमार को आजाद नगर मोहल्ले से हिरासत में ले लिया। राजरूपपुर चौकी प्रभारी की ओर से धूमनगंज थाने में राष्ट्रीय ध्वज के अपमान का केस लिखाने की बात कही गई है।

51 views0 comments

Comments


bottom of page