google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

कोरोना का कहर, दिल्ली में 1,520 नए केस, जापान-थाईलैंड से आने वालों पर निगरानी


नई दिल्ली, 30 अप्रैल 2022 : देश मेंकोरोना संक्रमण के मामलेलगातार बढ़ रहेहैं। स्वास्थ्य मंत्रालयके नवीनतम आंकड़ोंके मुताबकि बीते 24 घंटे में 3,688 नए केसमिले हैं और 50 मौतें दर्ज कीगई हैं, जिनमें 45 मौतें अकेले केरल सेहैं। केरल मेंपहले हुई मौतोंको नए आंकड़ोंके साथ जारीकिया जा रहाहै। सक्रिय मामले 883 बढ़े हैं औरइनकी संख्या 18,684 होगई है जोकुल मामलों का 0.04 प्रतिशत है। दैनिकसंक्रमण दर 0.74 प्रतिशत औरसाप्ताहिक संक्रमण दर 0.66 प्रतिशतहै।

दिल्‍लीमें 1,520 नए मामले

दिल्‍लीमें पिछले 24 घंटोंमें कोरोना के 1,520 नए मामले दर्ज किएगए जबकि एकव्‍यक्ति कीसंक्रमण से मौतहो गई। वहीं 1,412 लोग संक्रमण से ठीकहुए। राष्‍ट्रीयराजधानी में सक्रियमामले बढ़कर 5,716 होगए हैं जबकिपाजिटिविटी रेट 5.10 फीसद परपहुंच गई है।

कर्नाटक में जापानऔर थाईलैंड सेआने वालों कीहोगी जांच

वहीं कर्नाटकसरकार ने कोविड-19 संक्रमण की ताजाचिंताओं के बीचअधिकारियों को निर्देशदिया है किवे जापान औरथाईलैंड से आनेवालों के लिएनिगरानी उपाय करें।समाचार एजेंसी पीटीआइ कीरिपोर्ट के मुताबिकराज्‍य सरकारने अधिकारियों सेकहा है किहवाईअड्डा प्रयोगशाला में जापानऔर थाईलैंड सेआने वालों सिम्‍टोमैटिक मरीजों कीआरटी-पीसीआर जांचसमेत सभी निगरानीउपाय शुरू किएजाएं।

लगाई गई 189.01 करोड़ डोज

कोविन पोर्टल केआंकड़ों के मुताबिकअब तक कोरोनारोधी वैक्सीन कीकुल 189.01 करोड़ डोज लगादी गई हैं।इनमें 100.34 करोड़ पहली, 85.98 करोड़दूसरी और 2.68 करोड़सतर्कता डोज शामिलहैं। स्वास्थ्य मंत्रालयके अनुसार राज्योंव केंद्र शासितप्रदेशों के पासअभी 19.43 करोड़ डोज बचीहैं, जिनका टीकाकरणमें इस्तेमाल कियाजाना है।

सतर्कता डोज केतौर पर स्पुतनिकवी की सिफारिश

वहीं कोरोनावायरस के खिलाफरूसी वैक्सीन स्पुतनिकवी लगवाने वालोंके लिए बड़ीराहत की खबरहै। टीकाकरण परराष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (एनटागी) की समितिने ऐसे लोगोंको सतर्कता डोजके तौर परस्पुतनिक वी कीपहली डोज लगानेकी सिफारिश कीहै। अब सरकारको फैसला करनाहै। अभी कोविशील्डऔर कोवैक्सीन सतर्कताडोज के तौरपर लगाई जारही है।

एसआइआइ कोवोवैक्‍सके आंकड़े मांगे

भारत केदवा महानियंत्रक (डीसीजीआइ) के विषय विशेषज्ञसमिति (एसईसी) ने सातसे 12 वर्ष आयुवर्गके बच्चों केलिए कोवोवैक्स कोमंजूरी देने कोलेकर सीरम इंस्टीट्यूटआफ इंडिया (एसआइआइ) से और आंकड़ोंकी मांग कीहै। सरकार दूसरीडोज और सतर्कताडोज के बीचअंतराल को घटाकरनौ से छहमहीना भी नहींकरेगी। सूत्रों ने बतायाकि शुक्रवार कोहुई एसईसी कीबैठक में सीरमके आवेदन परविचार किया गयाऔर उसके बादकंपनी से कुछजानकारियां मांगी गईं।

4 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0