google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

ड्योढ़ी घाट पर 26 शवों का अंतिम संस्कार, गांव जाकर पीड़ितों को सीएम ने बंधाया ढांढस


कानपुर, 2 अक्टूबर 2022 : साढ़ थानाक्षेत्र में बेकाबूट्रैक्टर ट्राली पलटने से 26 मौतों के बादशनिवार पूरी रातशवों का पोस्टमार्टमकरने के बादरविवार सुबह कोरथागांव पहुंचाए गए।जिलाधिकारी के अनुरोधके बाद परिवारवालों ने सहमतिदी तो एंबुलेंससे सभी शवड्योढ़ी घाट परलाए गए। यहांरामशंकर ने सबसेपहले पत्नी रानीका अंतिम संस्कारकिया तो मौजूदलोगों की आखेंनम हो गईं।

बलरामपुर दौरा रदकरके मुख्यमंत्री योगीआदित्यनाथ भी कानपुरपहुंच गए। उनकाहेलीकाप्टर पुलिस लाइन केहेलीपैड पर उतराऔर सबसे पहलेएलएलआर अस्पताल पहुंचकर घायलोंका हाल लिया।इसके बाद वहकोरथा गांव पहुंचेऔर दिवंगतजनों केपरिवार में लोगोंसे मिलकर ढांढसबंधाया। विधानसभा अध्यक्ष सतीशमहाना, मंत्री अजीत पाल, राकेश सचान समेतभाजपा नेता औरउनके साथ डीजीपीडीएस चौहान औरप्रमुख सचिव गृहसंजय प्रसाद समेतप्रशासनिक अफसर भीमौजूद हैं।

शनिवार की रातहादसे के बादरविवार सुबह चारबजे तक 18 शवोंके पोस्टमार्टम होगए थे औरएक शव केपोस्टमार्टम में करीब 15 से 20 मिनट कासमय लगा। सुबहछह बजे तकसभी शवों कापोस्टमार्टम पूरा हुआ।एक-एक करकेसुबह साढ़े पांचबजे से शवोंको लेकर एंबुलेंसगांव पहुंचती रहीतो 250 घरों वालेगांव में हरव्यक्ति बदहवास दिखा।

कोई दहलीजपर रखे शवदेखकर आसमान कीओर निहारता तोकोई अपलक उन्हेंदेखे जा रहाथा। मानो कहरहे हों किहे भगवान आखिरउनसे ऐसी कौनसी गलती हुईजो स्वजन छीनलिए। बुजुर्ग स्वयंके कर्मों कोदोष दे रहेथे तो युवाअपनी किस्मत कोकोसते नजर आए।

उधर, सामुदायिकस्वास्थ्य केंद्र में ऑक्सीजनन होना भीमौतों का एककारण बन। देररात ही कानपुरके एलएलआर अस्पतालसे भी दोनोंशव भीतरगांव स्थितसामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेआए गए थे।इसके बाद वहींचिकित्सकों ने पोस्टमार्टमशुरू किए। मंत्रियोंराकेश सचान, अजीतपाल सिंह, सांसददेवेंद्र सिंह भोले, विधायक अभिजीत सिंह सांगाभी रात मेंमौके पर डटेरहे। डीएम विशाखजी ने पलकभी नहीं झपकाई।

ड्योढी घाट परअंतिम संस्कार, आसकते सीएम

महाराजपुर में गंगातट पर 26 शवोंका अंतिम संस्कारड्योढ़ी घाट परकिया जाएगा। पुलिसप्रशासन शवों केसाथ डयोढ़ी घाटजाएगा, वहां परपहले से व्यवस्थाकर ली गईहै ताकि कोईसमस्या न हो।इसके लिए जिलाधिकारीविशाख जी नेहर घर मेजाकर शव ड्योढ़ीघाट ले चलनेको कहना शुरूकिया तो लोगोंने भी सहमतिदी है। ड्योढ़ी घाट पर 13 शवों के लिएचिताएं तैयार कर लीगई हैं, जबकिमृत 13 नाबालिग बच्चों कोभूसमाधि दी जाएगी।

अर्थियां उठाने कोलेकर लोगों नेतैयारी शुरू करदी है। वहींमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथभी अंतिम संस्कारमें शामिल होसकते हैं। जिलाप्रशासन के अधिकारीहेलीपैड के लिएड्योढ़ीघाट में स्थानखोजने की कवायदमें लग गएहैं।

सुबह सातबजे से बननेलगी अर्थियां

कोरथा गांव मेंसुबह सात बजेपुलिस प्रसाशन कीमौजूदगी में सभीशवों को उठानेकी तैयारी परफिर लोग रोपड़े। पुलिस प्रसाशनने सभी शवोंके अंतिम संस्कारकी सामग्री कीव्यवस्था कराई है।सभी अर्थियां बनानेकी शुरुआत होगई।

छह शवदेख सियाराम गशखाकर गिरे : 75 वर्षीयसियाराम के दरवाजेछह शव, देखहुए बदहवास, पत्नी, दो बहुएं, दोपौत्री, एक पौत्रकी मौत हुईहै।

1 view0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0