google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद बने विधान परिषद में नेता सदन, स्वतंत्र देव ने दिया इस्तीफा


लखनऊ, 10 अगस्त 2022 : उत्तर प्रदेश विधान परिषद के नेता सदन पद से स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) ने इस्तीफा दे दिया है। उनकी जगह उपमुख्‍यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (Deputy CM Keshav Prasad Maurya) को विधान परिषद में नेता सदन बनाया गया है।

स्वतंत्र देव सिंह के अचानक इस्‍तीफे से मची यूपी की राजनीति में हलचल

§ स्वतंत्र देव सिंह 20 मई को उन्हें नेता सदन (leader of Legislative Council) बनाया गया था। विधान परिषद में उन्होंने पूर्व डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा की जगह ली थी।

§ इससे पहले 27 जुलाई को कैबिनेट मंत्री स्वतंत्र देव ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। स्वतंत्रदेव स‍िंह को 16 जुलाई, 2019 को पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया गया था। उनका तीन साल का कार्यकाल 16 जुलाई, 2022 को पूरा हो गया था।

§ तीन साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद ही स्वतंत्रदेव ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। फिलहाल स्वतंत्र देव सिंह फिलहाल योगी सरकार में जल शक्ति मंत्री हैं।

§ कैबिनेट मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने डिप्टी सीएम केशव मौर्य को विधान परिषद में नेता सदन बनाए जाने की बधाई दी है।

§ विधान परिषद के प्रमुख सचिव राजेश सिंह ने स्वतंत्रदेव के नेता सदन पद से इस्तीफे की पुष्टि कर दी है। नए नेता सदन के लिए अभी लेटर नहीं आया है। थोड़ी देर में लेटर आने की संभावना जताई जा रही है।

केशव प्रसाद मौर्य वर्तमान में उत्तर प्रदेश सरकार में उप मुख्यमंत्री हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव में वह फूलपुर लोकसभा सीट से तीन लाख से अधिक मतों से जीते थे। अप्रैल 2016 में उन्हें भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया था और उन्हीं के नेतृत्व में भाजपा ने 2017 के विधानसभा चुनाव में ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी। केशव प्रसाद को भाजपा में पिछड़े वर्ग के नेता के तौर पर जाना जाता है। यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में केशव प्रसाद मौर्य समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार पलवी पटेल से 6000 से ज्यादा वोटों से हार गए थे लेकिन उनका उपमुख्यमंत्री पद पर बरकरार रखा गया।
4 views0 comments