google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

डीएम ने खाद विक्रेताओं को दिया सख्त निर्देश

Updated: Oct 19, 2022


पीलीभीत, 16 अक्टूबर 2022: खरीफ 2022 मे जनपद के टॉप-20 डीएपी उर्वरक विक्रेताओं की माह अप्रैल से अगस्त 2022 की सूची पोर्टल से निकालकर अधिक डीएपी बिक्री करने वालें उर्वरक विक्रेताओं के विरूद्ध उचित कार्यवाही को अमल मे लाये जाने के क्रम में माह अप्रैल से अगस्त 2022 तक जनपद के टॉप-20 की सूची में से मानक से अधिक डीएपी बिक्री करने वाले 9 उर्वरक विक्रेताओं जिसमें से 5 सहकारी समितियॉ, 1 निजी उर्वरक विक्रेता, 1 औधानिक उत्पादन विपरण सह0 समिति, इन्द्रानगर, 1 कृभकों केन्द्र एवं 1 इफको ई बाजार पूरनपुर पीलीभीत उर्वरक विक्रेताओं को कारण बताओं नोटिस जारी किये गये थे।

जिसके क्रम मे इनका स्पष्टीकरण कार्यालय में प्राप्त हुआ, जिसका अध्ययन करने के उपरान्त सहायक आयुक्त/सहायक निबन्धक, सह. पीलीभीत को उक्त 5 सहकारी समितियों के विरूद्ध जॉच एवं कार्यवाही करने हेतु पत्र प्रेषित किया गया। साथ ही अधोहस्ताक्षरी द्वारा जनपद के उक्त टॉप-20 की सूची मे से 03 उर्वरक विक्रेताओं का उर्वरक प्राधिकार पत्र 15 अक्टूबर को निरस्त करते हुए पी.ओ.एस. मशीन निर्धारित अवधि में कार्यालय में जमा करने हेतु निर्देशित किया गया है। जिसका विवरण निम्न प्रकार है मै0 पीलीभीत खाद निगम, मण्डी समिति पीलीभीत, मै इन्द्रानगर औधानिक उत्पादन विपरण सह0 समिति, इन्द्रानगर जनपद पीलीभीत, मै इफको, ई-बाजार पूरनपुर जनपद पीलीभीत। आगामी दिनों मे भी किसी भी प्रकार की अनियमितता पाये जाने पर त्वरित कार्यवाही की जायेगी। तथा प्रत्येक उर्वरक विक्रेता निजी/सहकारिता को निर्देशित किया जाता है कि कृषक की खतौनी एवं लगायी जानें वाली फसल के संस्तुति अनुसार ही उर्वरक बिक्री की जायें।


रिपोर्ट - रमेश कुमार




26 views0 comments

Comments


bottom of page