google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

कभी बिकरू में कोई नहीं खोलता था मुंह...आज चौपाल में शिकायतों की लगी लाइन


कानपुर, 29 अप्रैल 2022 : कई दशकों तक बिकरू में दबंगई और आतंक का राज चलता था लेकिन अब यहां के ग्रामीण खुलकर बोलते भी हैं और शिकायत भी करते हैं । गुरुवार को डीएम नेहा शर्मा ने जनशिकायतों को सुनने के लिए चौपाल लगायी तो शिकायतें भी खूब आयी। इन शिकायतों पर डीएम ने ताबड़तोड़ एक्शन लिए । डीएम के आदेश पर धान बिक्री का पैसा मांगने वाले दबंग को तत्काल हिरासत में लिया गया वहीं शिक्षिका को भी निलंबित कर दिया गया । तीन शिक्षामित्रों की जांच शुरू हो गई जबकि सिकंदरपुर में शिकायतें मिलने पर लेखपाल के कार्यों की जांच के आदेश दिए । सखरेज गांव में विकास कार्यों संबंधी शिकायत मिलने पर पंचायत सचिव को चेतावनी दी ।

जिलाधिकारी नेहा शर्मा ने गुरूवार को शिवराजपुर के सिकंदरपुर, सैलाहा, सखरेज और बिकरू गांव में चौपाल लगाकर जन शिकायतें सुनी । जिलाधिकारी दोपहर एक बजे सिकंदरपुर गांव पहुंची । यहां पर गांव वालों ने राजस्व संबधी शिकायतें की । कई ग्रामीणों ने लेखपाल द्वारा पट्टे की भूमि पर कब्जा न मिलने की बात कही । जिस पर नाराज जिलाधिकारी ने एसडीएम बिल्हौर से लेखपाल रोहित के कार्यो की जांच कराने के आदेश दिए है । यहां पर गांव की पार्वती देवी ने पेंशन और रामदास ने धान बिक्री का भुगतान न होने की शिकायत की । यहां के बाद डीएम सैलाहा गांव पहुंची । यहां पर ग्राम प्रधान सुरभि सिंह ने रजबहे में पानी न आने की समस्या रखी । सखरेज गांव की चौपाल में राशन वितरण व वृद्धापेंशन न मिलने की शिकायत की गई । जिस पर डीएम ने जांच के लिए बीडीओ को निर्देशित किया । बिकरू गांव में जिलाधिकारी ने शिकायत मिलने पर सहायक अध्यापिका सरिता दुबे को निलंबित कर दिया जबकि शिक्षा मित्र रिचा, स्वाती और ज्योति की पंद्रह दिन में जांच कर रिपोर्ट देने को कहा है । बिकरू में सबसे अधिक शिकायतें पट्टे पर कब्जा दिलाने को लेकर की गईं । गांव के चंद्रशेखर, रहीश, हरिबालक और जगदीश ने कहा कि उन लोगों को पट्टे की जमीन पर कब्जे नही मिल पा रहे है । डीएम ने तहसीलदार को कब्जे दिलाने के लिए निर्देश दिए ।

साहब बंदूक दिखाकर धमका रहा दबंग

बिकरू में चौपाल के दौरान गांव के वृद्ध रमाकांत ने जिलाधिकारी से गांव के अंशू दुबे द्वारा धान बिक्री का पैसा मांगने पर बंदूक दिखाकर धमकाने का आरोप लगाया । पटल पर शिकायत आते ही जिलाधिकारी का पारा चढ़ गया । नाराज जिलाधिकारी ने इंस्पेक्टर को बुलाकर तत्काल कार्रवाई कराने को कहा । पीड़ित ने बताया कि एक सप्ताह पहले उन्होनें दारोगा शैलेंद्र यादव से शिकायत की थी लेकिन दारोगा ने कार्रवाई नहीं की। डीएम के आदेश के बाद पुलिस ने आरोपित को हिरासत में लिया है ।

मिड डे मील में रोज मिलती है खिचड़ी

बिकरू गांव में प्राइमरी स्कूल के बच्चों ने डीएम के समक्ष मिड डे मील का भोजन गुणवत्ता विहीन होने की शिकायत की । बच्चों ने कहा कि स्कूल में मैन्यू के हिसाब से भोजन नही मिल रहा है। रोज उन लोगों का खिचड़ी खानी पड़ती है। जिस पर डीएम ने बीएसए पवन तिवारी से जांच करा कार्रवाई करने को कहा है।

3 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0