google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

परिवार वादी और तमंचा वादी लोग ही अब परेशान हैं


हापुड़, 5 मई 2023 : प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वर्ष 2017 से पहले प्रदेश की पहचान दंगा प्रदेश के नाम से होती थी। जब से भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने उत्तर प्रदेश में कमान संभाली है।

तब से पूरे छह साल में कोई दंगा नहीं हुआ। अब भाजपा से परिवार वादी और तमंचा वादी परेशान हैं। आज उत्तर प्रदेश में दंगा नहीं होता, बल्कि यहां पर सुरक्षित माहौल में कांवड यात्रा निकाली जाती है। प्रदेश का जनमानस पूरी तरह से सुरक्षित है। पेशेवर माफिया का हाल सभी को पता है।

योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को दिल्ली रोड पर स्थित एसएसवी इंटर कॉलेज में जिले की तीन नगर पालिका और एक नगर पंचायत के प्रत्याशियों के समर्थन में जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि गंगा के पावन तट पर बसा हापुड़ जिला प्राचीन है।

एक नया भारत, जिसके बारे में अन्य देशों की भी धारणा बदली है। आज का देश का नागरिक किसी भी देश में जाता है तो सम्मान से देखा जाता है। आज हमारा देश सुरक्षित है, बाह्य और आंतरिक दृष्टि से भी। इंफ्रास्ट्रक्चर, डेवलपमेंट, हाईवे, रेलवे, एयरपोर्ट, एम्स, आईआईएम, आईआईटी और तमाम प्रतिष्ठित संस्थाओं के साथ ही देश की नए सिरे से पहचान बनी है। अब तो अपना हापुड़ भी उसके साथ जुड़ रहा है।

गंगा एक्सप्रेसवे से दूरी होगी कम

गंगा एक्सप्रेसवे मेरठ को हापुड़ होते हुए प्रयागराज से जोड़ेगा। अब तक प्रयागराज पहुंचने के लिए 12 से 14 घंटे लगते थे। गंगा एक्सप्रेसवे के बनने के बाद इसकी दूरी सिर्फ छह घंटे रह जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि नौ वर्षों में करोड़ों गरीबों को छत, घरों में शौचालय, आयुष्मान कार्ड और जनधन खाते खोलने का काम किया गया। कोरोना काल में आप सबने देखा है, हमारा देश ही ऐसा अकेला देश है, जिसने अपने नागरिकों को फ्री राशन देने का काम किया।

जिसका लाभ पिछले तीन सालों से लोगों को मिल रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में गरीब कल्याण के कार्य हो या फिर इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के कार्य, वह तेजी से आगे बढ़े हैं। विरासत को सम्मान मिला है। याद कीजिए 2017 से पहले के उत्तर प्रदेश को, दंगा प्रदेश था, दंगा प्रदेश।

त्योहारों से पहले कर्फ्यू लग जाता था, आज कर्फ्यू नहीं, शानदार तरीके से कांवड़ यात्रा निकलती है। प्रदेश की जनता सुरक्षित है और विकास के बारे में सोच रही है। इसलिए आज वह आपके पास आए हैं। छह वर्षों में प्रदेश के लोगों की धारणा बदली है। आज उत्तर प्रदेश का नागरिक यदि कहीं जाता है तो लोग सम्मान की निगाह से देखते हैं। प्रदेश लोगों को रोजगार के साथ साथ नए-नए उद्योग लगाने की दिशा में आगे बढ़ रहा है।

मुख्यमंत्री ने मजाकिया लहजे में कहा कि नगर निकाय चुनाव आ रहे थे, पहले चरण का चुनाव संपन्न हो गया है। लोग उनसे कह रहे थे कि चुनाव आ रहा है कोरोना आ जाएगा, मैंने कहा कोरोना यहां कुछ नहीं बिगाड़ पाएगा। कोरोना को हमने कैद कर लिया। उन्होंने नगर निकायों का जिक्र करते हुए कहा कि जितनी राज्यों, तमाम देशों की आबादी नहीं होती, उतनी आबादी प्रदेश के नगर निकायों में निवास करती है।

आज गाजियाबाद सुंदर शहरों में शामिल

आज गाजियाबाद सुंदर शहरों में शामिल है। आज नगरों को कूड़े का ढेर नहीं लोग स्मार्ट सिटी कहते हैं। हमने नौजवानों के हाथ में टैबलेट पकड़ाया है। विरोधियों ने तो तमंचा हाथ में पकड़ाया था।

आज व्यापारियों को रंगदारी नहीं देनी पड़ती है। हमने व्यापारी कल्याण बोर्ड के माध्यम से 10,00000 का बीमा व्यापारियों को दिया है। आज अपराधी सिर झुकाकर चलते हैं और जान की भीख मांग रहे हैं।

जेवर एयपोर्ट का मिलेगा हापुड़वासियों को लाभ

जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का लाभ हापुड़वासियों को प्राप्त होगा। हापुड़ के पापड़ के बिना भोजन पूरा नहीं होता। वहीं पिलखुवा अपने वस्त्रों के लिए जाना जाता है। हमारी पहचान विकास है। नगर पालिका में अध्यक्षों के साथ सभासद को भी दिखाना है। मैं वादा करता हूं विकास के लिए कोई पैसे की कमी नहीं आएगी। जिलेवासी पूरी तरह से सुरक्षित रहेंगे। इसी के साथ मुख्यमंत्री ने मात्र 18 मिनट में अपना संबोधन खत्म किया और रवाना हो गए।

1 view0 comments

Comments


bottom of page