google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

एक परिवार-एक पहचान योजना के तहत बनेगी फैमिली पासबुक


लखनऊ, 1 जून 2023 : उत्तर प्रदेश सरकार जनता से किए चुनावी वादों को धरातल पर लाने की प्रक्रिया में लगातार काम कर रही है। इसी कड़ी में अब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 'परिवार आईडी' जारी करने का ऐलान किया है। उत्तर प्रदेश सरकार हर परिवार के न्यूनतम एक सदस्य को रोजगार-सेवायोजन से जोड़ने के संकल्प को पूरा करने के लिए इस योजना का ऐलान किया है।

एक परिवार-एक पहचान योजना के तहत राज्य के हर परिवार को परिवार आईडी मुहैया कराई जाएगी। इस आईडी के तहत राज्य की परिवार इकाइयों का एक लाइव व्यापक डेटाबेस स्थापित होगा। इस डाटाबेस के जरिए हर एक परिवार की जानकारी सरकार इकट्ठा करके हर परिवार के कम से कम एक सदस्य को रोजगार का अवसर मुहैया कराएगी।

'परिवार आईडी के साथ-साथ पास-बुक भी हो तैयार'

इस योजना से जुड़ी बैठक में सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश के हर एक परिवार को सरकारी योजनाओं का लाभ देने का वादा किया। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि हर एक परिवार को मिल रहे शासकीय योजनाओं के लाभ का पूरा विवरण दर्शाते हुए परिवार का पासबुक भी तैयार कराया जाए। पास-बुक और परिवार आईडी जारी करने से पूर्व परिवार के संबंध में सभी जानकारी इकट्ठा की जाए और इस जानकारी की सत्यता की भी जांच की जाए।

सीएम योगी ने कहा कि हर परिवार की अलग परिवार आईडी व फैमिली पासबुक में उनसे जुड़ी सभी जानकारी होने से सरकार के पास एक डेटा होगा। इस डेटा के तहत हर एक परिवार को आर्थिक रूप से मजबूत बनाया जाएगा।

'परिवार आईडी' के लिए यहां करें पंजीयन

परिवारों की राशन कार्ड संख्या ही फैमिली आईडी होगी। इसका मतलब ये है कि जिस परिवार के पास राशन कार्ड है, उनके लिए उनका राशन कार्ड नंबर ही परिवार आइडी होगी। जबकि ऐसे परिवार जो कि राशन कार्ड धारक नहीं है, वह पोर्टल https://familyid.up.gov.in पर पंजीयन कर परिवार आईडी प्राप्त कर सकते हैं।

सरकारी वेबसाइट पर जाकर परिवार इस आईडी के लिए अप्लाई कर सकते हैं। अब तक इसे लेकर 78 हजार आवेदन प्राप्त किए गए हैं, जिसमें से 33 हजार से अधिक आवेदन स्वीकृत किए जा चुके हैं।

2 views0 comments

Comentários


bottom of page