google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

प्रयागराज की तर्ज पर घाटवार तय करें नौका का रेट


सोनभद्र, 18 मार्च 2023 : दो दिवसीय दौरे पर शुक्रवार को काशी आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज की तर्ज पर यहां भी घाट वार नौकाओं का रेट निर्धारित करने का निर्देश दिया। कहा कि गंगा में गहरे स्थानों पर साइनबोर्ड लगाएं जाएं। नाविक किसी भी हाल में शराब पीकर नाव संचालित न करने पाएं। क्षमता से अधिक लोगों को नाव में बैठने न दिया जाए। शत-प्रतिशत नाव सीएनजी में तब्दील की जाएं।

पुलिस कमिश्नर मुथा अशोक जैन ने मुख्यमंत्री को बताया कि गंगा घाट, चौक थाना आदि पर पर्यटक पुलिस की तैनाती कर दी गई है। बाबतपुर, गोदौलिया, अस्सी घाट व श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर में पर्यटन सूचना केंद्रों का संचालन शुरू हो चुका है। अन्य मंदिरों में भी यह व्यवस्था की जाएगी। पर्यटकों की सुविधा के लिए स्मार्ट सिटी द्वारा एक वेबसाइट का भी निर्माण कराया जा रहा है। योगी 24 मार्च को पीएम नरेन्द्र मोदी के प्रस्तावित वाराणसी दौरे की तैयारियां परखने आए हैं। मुख्यमंत्री ने शहर की यातायात व्यवस्था की समीक्षा करते हुए कहा कि सड़कों से अतिक्रमण हटाए जाने के बाद दोबारा लोग अवैध ढंग से पटरियों पर कब्जा न कर लें। ऐसा करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाए।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि शहर की यातायात व्यवस्था ठीक कराए जाने के प्रयास किए जा रहे हैं। अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई प्रभावी रूप से की जा रही है। होमगार्डों को प्रशिक्षण देने के साथ-साथ जन जागरूकता अभियान भी चलाया जा रहा है। रेल यात्रियों को उपलब्ध कराने वाले भोज्य पदार्थों की गुणवत्ता की शिकायतों पर सीएम ने अफसरों को इस संबंध में रेलवे के अधिकारियों से वार्ता करने का निर्देश दिया। कहा कि यात्रियों को गुणवत्ता युक्त भोज्य पदार्थ मिलने चाहिए। गोल्डेन कार्ड नहीं डाउनलोड डीएम एस राजलिंगम ने बताया कि मुख्यमंत्री को बताया कि पांच लाख गोल्डेन कार्ड बन गए हैं और पांच लाख बनने हैं। प्रमुख सचिव स्वास्थ्य ने बताया कि साफ्टवेयर में कमी के कारण कार्ड डाउनलोड नहीं हो रहे हैं। मुख्यमंत्री ने शीघ्र समस्या के समाधान का निर्देश दिया। आरोग्य मेला शिविर लगाने के लिए भी कहा।

नगर निगम के अधिकारी क्षेत्र में भ्रमण करें

मुख्यमंत्री ने कहा कि नगर आयुक्त को निर्देशित करते हुए कहा कि नगर निगम के अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में नियमित रूप से भ्रमण करें और समस्याओं का सुनें, देखें व निस्तारित करें। नगर आयुक्त स्वयं क्षेत्रों में जाएं और अधिकारियों के क्षेत्र में भ्रमण एवं कार्यवाही पर निगरानी रखे।

हरहुआ में बनेगा वर्ल्ड सिटी एक्सपो

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने प्रमुख सचिव नगर विकास नितिन रमेश गोकर्ण ने वाराणसी के विकास के लिए विभाग द्वारा तैयार की कार्ययोजना का प्रेजेंटेशन रखा। बताया कि काशी के पर्यटन, जनसंख्या घनत्व, सिल्क उत्पाद की जरूरतों को देखते हुए हरहुआ में वर्ल्ड सिटी एक्सपो बनाया जाएगा। यह कन्वेंशन सेंटर के रूप में कार्य करेगा। वाराणसी में जनघनत्व अधिक है। इस कारण यातायात की समस्या है। पार्किंग की कमी है। इस सब के बावजूद यहां बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं। लकड़ी के खिलौने के साथ-साथ सिल्क उद्योग का उद्यम है। इन सभी को बढ़ावा देने जाने की जरूरत है। वर्ल्ड सिटी एक्सपो से इन समस्याओं से जहां निजात मिलेगी, वहीं उद्यम को बढ़ावा मिलेगा।

सारनाथ में मेडिसिटी का होगा निर्माण

काशी स्वास्थ्य सुविधा का बड़ा हब है। यहां न केवल पूर्वांचल बल्कि बिहार, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ तक से इलाज के लिए लोग आते हैं। गोकर्ण ने बताया कि इसे ध्यान में रखते हुए सारनाथ में मेडिसिटी का निर्माण कराया जाएगा। इस मेडिसिटी में अनेक प्रकार की स्वास्थ्य सुविधा होगी। साथ ही ही बाबतपुर में वरुणा विहार का निर्माण कराया जाए। बड़ी मंडियां होंगी शहर के बाहर शहर के अंदर बड़ी मंडियां हैं। कार्ययोजना के तहत इसे शहर के बाहर स्थानांतरित किया जाएगा। इससे माल लेकर आने वाली बड़ी गाड़ियां शहर में प्रवेश ही नहीं करेंगी और न सिर्फ जाम बल्कि प्रदूषण से भी लोगों को राहत मिलेगी। बनाए गए मास्टर प्लान में पर्यावरण का पूरा ख्याल रखा गया है। इसकी मुख्यमंत्री ने सराहना की।

इस दौरान कमिश्नर कौशल राज शर्मा ने हरहुआ और मोहनसराय में बनने वाले बस अड्डा के संबंध में जानकारी दी। साथ ही बताया कि वाराणसी में भिक्षावृत्ति मुक्त काशी अभियान के तहत 25 प्रमुख स्थानों से 510 भिखारियों को चिन्हित किया गया है। मुख्यमंत्री ने बाबतपुर मार्ग की एनएचएआइ की सड़क गंदी होने को गंभीरता से लिया। कहा कि कार्ययोजना तैयार कर सफाई कराई जाए। यह बहुत महत्वपूर्ण मार्ग है। इससे काशी की छवि खराब होती है। अिस नदी के पुनरुद्धार के लिए बने ठोस कार्ययोजना योगी आदित्यनाथ ने काशी की विकास योजनाओं की समीक्षा के दौरान निर्देश दिया कि असि नदी के पुनरुद्धार के लिए ठोक कार्ययोजना बनाई जाए। ऐसा इसलिए, क्योंकि पिछले दो दशक से असि के पुनरुद्धार की बात तो की जा रही है, लेकिन दिन प्रतिदिन नदी का अस्तित्व समाप्त होता जा रहा है।

बैठक में पर्यटन एवं संस्कृति व जनपद के प्रभारी मंत्री जयवीर सिंह, मंत्री अनिल राजभर व रविंद्र जायसवाल, सांसद वीपी सरोज, जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम मौर्या, एमएलसी अशोक धवन व विशाल सिंह चंचल, विधायक डा. नीलकंठ तिवारी व सौरभ श्रीवास्तव, अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना संजय प्रसाद, प्रमुख सचिव नितिन रमेश गोकर्ण, प्रमुख सचिव मुकेश मेश्राम, प्रमुख सचिव एसपी गोयल, प्रमुख सचिव पार्थ सारथी सेन शर्मा आदि मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री ने पैक हाउस का निरीक्षण किया, पीएम करेंगे लोकार्पण

मुख्यमंत्री ने करखियांव स्थित इंडस्ट्रियल एरिया में बने पैक हाउस का निरीक्षण किया। मशीनों पर पालिश ठीक से नहीं होने को गंभीरता से लेते हुए उसे ठीक कराने के निर्देश दिए। सामान व्यवस्थित रखने और जल निकासी बनाने के निर्देश दिए। फलों व सब्जियों के निर्यात को करखियांव में एकीकृत पैक हाउस बनाया गया है। पीएम इसका लोकार्पण करेंगे। सीएम के जाते ही एपीडा के निदेशक अंजनी सिंह के दिए निर्देश पर कार्यवाही को लेकर चीफ इंजीनियर व ठेकेदार के बीच तल्ख वार्ता हुई। एक-दूसरे पर आरोप लगाए। निदेशक ने एपीडा के असिस्टेंट जनरल मैनेजर डा. सीबी सिंह को 24 मार्च से पहले बचे काम पूरा कराने का निर्देश दिया।

विकास प्राधिकरण की समीक्षा के दौरान भवनों के आनलाइन मानचित्र स्वीकृत कराए जाने के बाबत जानकारी पूछे जाने पर उपाध्यक्ष विकास प्राधिकरण ने बताया कि आनलाइन आवेदन प्राप्त होते ही 15 दिन के अंदर कार्रवाई की जाती है और इसकी जानकारी आवेदनकर्ता को व्यक्तिगत रूप से वाट्सएप एवं मोबाइल फोन के माध्यम से दी जाती है। जनसामान्य की सुविधा के लिए चार सबजोन आफिस भी बनाए गए हैं। मुख्यमंत्री ने इस संबंध में सप्ताह में दो दिन विशेष शिविर लगाए जाने के लिए कहा।

राजातालाब के गंजारी में प्रदेश सरकार द्वारा उपलब्ध कराई गई भूमि पर बीसीसीआइ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम बना रहा है। मुख्यमंत्री ने इसकी क्षमता 30,000 होने को कम बताया। कहा कि इस संबंध में बीसीसीआइ से वार्ता कर क्षमता को बढ़ाया जाए। इसके लिए कमिश्नर को निर्देशित किया। बता दें कि गंजारी में 31.616 एकड़ भूमि पर स्टेडियम का निर्माण किया जाना है। भूमि की खरीद कर ली गई है।

9 views0 comments

Comments


bottom of page