google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

'...दृश्‍य देखकर ही कलेजा फटने लगता है, बड़ी लापरवाही हुई है'


पटना, 4 जून 2023 : बिहार के उप मुख्‍यमंत्री ने ओडिशा ट्रेन हादसे पर दुख जताते हुए कहा कि यह बहुत बड़ी घटना है। इसमें बिहार के भी कई लोग घायल हुए हैं। यह अब तक का सबसे बड़ा हादसा है। तेजस्‍वी यादव ने हादसे में मृत लोगों के परिवारों के प्रति संवदेना व्‍यक्‍त की। उन्‍होंने कहा कि यह हादसा लापरवाही का नतीजा है।

उन्‍होंने कहा कि यह लापरवाही तो हुई है, जिस प्रकार के दृश्‍य सामने आए हैं, वह देखकर कलेजा फटने को आता है, जिस प्रकार से बच्‍चों से लेकर बुजुर्ग यात्रियों की मृत्यु हुई है। ये कहीं न कहीं रेलवे द्वारा जो दावा किया जाता था कि सेफ्टी जो है, प्रायोरिटी है, लेकिन इतना बड़ा हादसा हो गया। इसके बाद भी अभी भी किसी पर जिम्‍मेवारी तय नहीं हुई है, इसका जिम्‍मेवार कौन है।

तेजस्‍वी ने सीएम नीतीश से की मुलाकात

तेजस्‍वी ने कहा कि हालांकि, ये वक्‍त राजनीति‍ का नहीं है, लेकिन जिम्‍मेवारी भी तय होनी चाहिए कि जो लोग इसमें लापरवाह हैं, उनपर कार्रवाई होनी चाहिए। शायद जांच टीम जो है, बन गई हो, लेकिन अगर नहीं बनी है तो जल्‍द से जल्‍द जांच टीम बननी चाह‍िए।

इसमें हम लोग देख रहे हैं कि खासकर बिहार के लोगों को कितना नुकसान हुआ है। कल ही उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के साथ मुलाकात की है। सारी जानकारी जुटाई जा रही है, उस हि‍साब से निर्णय लिया जाएगा।

रेलवे का बिहार रहा है पुराना नाता: तेजस्‍वी

दोषियों पर कार्रवाई के पीएम के बयान को लेकर मीडिया ने तेजस्‍वी से सवाल किया तो उन्‍होंने कहा कि बिहार का रेलवे से पु‍राना जुड़ाव रहा है। राम विलास पासवान, उनके पिता लालू यादव, नीतीश कुमार, ये सभी रेलमंत्री रहे हैं।

जिस प्रकार से रेलवे का निजीकरण किया जा रहा है, तो क्‍या कार्रवाई होगी, नहीं होगी ये तो हमको पता नहीं है। पहलवानों के मामले में भी अबतक तो कार्रवाई नहीं हुई है, लेकिन अबतक तो इसकी (रेल हादसे की) किसी को तो जिम्‍मेदारी लेनी चाहिए थी।

0 views0 comments

Commenti


bottom of page