google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

आंदोलन छोड़ गायब हुए किसान नेता - गृहमंत्रालय ले सकता है बड़ा एक्शन

Updated: Jan 27, 2021



गणतंत्र दिवस पर राजधानी दिल्ली में तथाकथित किसानों की हिंसा और अराजकता के बाद केंद्रीय गृहमंत्रालय

ने न सिर्फ संज्ञान में लिया है बल्कि इसके खिलाफ सख्त ऐक्शन लेने की भी तैयारी में है।


ट्रैक्टर परेड में हंगामें की स्थिति बनने के बाद केंद्रीय गृह सचिव ने गृह मंत्री अमित शाह को दिल्ली की मौजूदा स्थिति के बारे में जानकारी दी है। बताया जा रहा है कि देर रात केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से मामले में बड़ा ऐक्शन लिया जा सकता है। कई किसान नेता रडार पर हैं। सिंघू बॉर्डर पर भी ट्रैक्टर परेड के बाद प्रमुख किसान नेता दिखाई नहीं दे रहे हैं। वहीं दिल्ली पुलिस ने किसानों के प्रदर्शन को उग्र और हिंसक बताया है। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनकारियों से झड़प में पुलिस के 83 जवान घायल हुए हैं।


राजधानी में अतिरिक्त बल तैनात


मामले को गंभीरता से लेते हुए केंद्र सरकार ने एहतियातन राजधानी में अतिरिक्त पैरामिलिट्री फोर्स तैनात करने का फैसला किया है। बताया गया कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में शांति कायम करने तथा लॉ ऐंड ऑर्डर को दुरुस्त रखने के लिए अतिरिक्त केंद्रीय बलों की तैनाती की जाएगी। वहीं दिल्ली से सटे हरियाणा राज्य के कई जिलों में प्रदेश सरकार ने इंटरनेट और एसएमएस सेवाओं पर रोक की मियाद बढ़ा दी है। सरकार ने निर्देश जारी किया है कि सोनीपत, पलवल और झज्जर जिलों में बुधवार शाम 5 बजे तक इंटरनेट और एसएमएस सेवाओं पर रोक रहेगी, ताकि अफवाहों को फैलने से रोका जा सके।


टीम स्टेट टुडे

44 views0 comments

Commentaires


bottom of page