google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

पुलिस की देख-रेख में पंचतत्व में विलीन युवती, अंतिम संस्कार में भारी भीड़


नई दिल्ली, 03 जनवरी 2023 : कंझावला मौत मामले में मंगलवार शाम को युवती का अंतिम संस्कार किया गया। कड़ी सुरक्षा में शव को श्मशान पहुंचाया गया। अंतिम यात्रा में पुलिस बल के साथ लोगों की भारी भीड़ भा जुटी। मंगोलपुर खुर्द के वाई ब्लॉक स्थित श्मशान भूमि में पुलिस की देख-रेख में अंतिम संस्कार हुआ।

न्याय की मांग

अंतिम यात्रा में शामिल वाहन पर पोस्टर लगा हुआ है, जिसमें युवती को न्याय चाहिए लिखा हुआ है। अंतिम यात्रा में लोगों की भारी भीड़ है। पुलिस बल भी साथ में है।

सोमवार को हुआ पोस्टमॉर्टम, मंगलवार को आई रिपोर्ट

युवती के शव का पोस्टमॉर्टम सोमवार शाम तीन डॉक्टरों के पैनल ने किया था, जिसकी रिपोर्ट मंगलवार दोपहर आ गई। स्पेशल सीपी (लॉ एंड ऑर्डर) एसपी हुडा ने बताया कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आया है कि युवती की कार से घसीटने से मौत हुई है।

रिपोर्ट में और क्या-क्या?

मौत का कारण सिर, रीढ़, बाएं फीमर, दोनों पैर में चोट के कारण खून बहना और सदमे से बताया गया है। यह चोटें कार से युवती को टक्कर मारने और घसीटे जाने के बाद आई हैं। साथ ही बताया कि पीड़िता के शरीर पर ऐसी कोई चोट नहीं है, जिससे लगे कि युवती के साथ दुष्कर्म हुआ हो। पुलिस ने बताया कि पोस्टमार्टम की फाइनल रिपोर्ट बाद में आएगी।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने किया मुआवजे का ऐलान

पीड़िता के घरवालों को 10 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा। साथ ही केजरीवाल ने कहा है कि इस दुख की घड़ी में दिल्ली सरकार पीड़िता के परिवार के साथ खड़ी है। साथ ही केजरीवाल ने कहा कि भविष्य में कोई जरूरत हुई तो वह भी सरकार की ओर से पूरा किया जाएगा।

ये है पूरा मामला

नव वर्ष की रात पर दिल्ली के कंझावला इलाके में हिट एंड रन का मामला सामने आया। शराब के नशे में धुत होकर तेज रफ्तार बलेनो कार चालक ने एक स्कूटी सवार युवती को टक्कर मारी। इस टक्कर के बाद जमीन पर गिरी युवती टायर के बीच में फंस गई थी। इस दौरान युवती को चालक ने करीब 10-12 किलोमीटर तक घसीटा था। पुलिस की टीम ने कार में सवार पांचों आरोपियों को रविवार को गिरफ्तार कर लिया। जिनके नाम मनोज मित्तल, दीपक खन्ना, अमित खन्ना, कृष्णन और मिथुन हैं। सोमवार को दिल्ली के रोहिणी कोर्ट ने पांचों को तीन दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया।

गृह मंत्रालय सख्त

मामले को बेहद गंभीरता से लेते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा से बात कर घटना के बारे में जानकारी प्राप्त की और मामले की आला अधिकारियों से जांच करवा विस्तृत रिपोर्ट जल्द सौंपने को कहा है। गृहमंत्री के निर्देश पर संजय अरोड़ा ने विशेष आयुक्त आर्थिक अपराध शाखा शालिनी सिंह को जांच की जिम्मेदारी सौंपी है।

क्या बोले सीएम केजरीवाल और उपराज्यपाल?

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह बेहद शर्मनाक घटना है, आरोपियों को फांसी होनी चाहिए। एलजी विनय कुमार सक्सेना ने कहा कि कंझावला-सुल्तानपुरी में हुए अमानवीय अपराध से मेरा सिर शर्म से झुक गया है। उन्होंने कहा कि अपराधियों की राक्षसी संवेदनहीनता से स्तब्ध हूं।

1 view0 comments