google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

IAF का C-17 विमान 45 सदस्यीय मेडिकल टीम के साथ तुर्किये रवाना


नई दिल्ली, 07 फरवरी 2023 : तुर्किये और सीरिया में आए विनाशकारी भूकंप से प्रभावित क्षेत्रों में राहत एवं बचाव कार्यों में मदद के लिए भारत सहित दुनियाभर के तमाम देश सहायता समूह, अपने बचाव कर्मी, वित्तीय मदद और उपकरण वहां भेज रहे हैं। भारत ने मंगलवार को चार भारतीय वायु सेना सी-17 ग्लोबमास्टर सैन्य परिवहन विमानों के जरिये राहत सामग्री और 30 बेड वाली चिकित्सा सुविधा प्रदान करने के लिए एक आर्मी फिल्ड हॅास्पिटल भी भेजा है। बता दें कि मंगलवार के दिन पहला सी-17 तुर्किये पहुंचा।

भारतीय वायु सेना के सी-17 विमान में 45 सदस्यीय मेडिकल टीम के साथ रवाना हुआ है। इसमें क्रिटिकल केयर विशेषज्ञ और सर्जन शामिल हैं। वहीं, सीरिया में फंसे लोगों की मदद के लिए भारत ने भारतीय वायु सेना विमान सी-130 के जरिए चिकित्सा आपूर्ति भेजा है। 6 टन आपातकालीन राहत सहायता लेकर भारतीय वायु सेना का एक विमान सीरिया के लिए रवाना हो चुका है।

सोमवार से ही राहत बचाव दल तुर्किये भेज रहा भारत

गौरतलब है कि अंतरराष्ट्रीय मंचों पर तुर्किये के भारत विरोधी रुख के बावजूद मोदी सरकार ने एनडीआरएफ के 200 जवानों के साथ, खोजी डॉग व दवाओं समेत मेडिकल टीम तुर्किये भेजी है। भारत ने कहा कि वह विशेष रूप से प्रशिक्षित कुत्तों और चिकित्सा कर्मियों सहित दो खोज और बचाव दल भेजेगा। बात दें कि सोमवार रात वायुसेना के एक सी-17 विमान ने तुर्किये के लिए उड़ान भरी थी। एनडीआरएफ की खोज और बचाव टीमों के साथ, यह विमान भारतीय वायुसेना द्वारा अन्य भारतीय संगठनों के साथ किए जाने वाले बड़े राहत प्रयासों का हिस्सा है।

कोर्ट मामले पर बुधवार को सुनवाई करने पर हुआ राजी

भारतीय सेना ने तुर्किये के लिए 89 सदस्यीय मेडिकल टीम भेजी है। इस टीम में चिकित्सा विशेषज्ञ शामिल हैं और इसमें एक्स-रे मशीन, वेंटिलेटर, ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र, कार्डियक मॉनिटर और संबंधित उपकरण लगे हुए हैं। बता दें कि भूकंप में मृतकों का आंकड़ा 7,100 से भी ऊपर पहुंच गया है। तुर्की में मरने वालों की संख्या बढ़कर 4544 हो गई है जबकि सीरिया में भी 18032 से अधिक लोगों की भूकंप से जान गई है।

1 view0 comments

Comments


bottom of page