google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

अगर नहीं आता पैनिक अटैक तो डिप्टी डायरेक्टर लूटता रहता मासूम की आबरू


नई दिल्ली, 21 अगस्त 2023 : दिल्ली के डिप्टी डायरेक्टर की दरिंदगी की कहानी ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है। विश्वास की आड़ लेकर एक शख्स ने न सिर्फ रिश्तों का बेरहमी से कत्ल कर दिया, बल्कि दिल्ली के दामन पर कुछ ऐसे दाग छोड़ दिए हैं, जिन्हें मिटाना आसान नहीं होगा। हैरानी की बात ये है कि इस घिनौने खेल में आरोपित का साथ उसकी पत्नी भी दे रही थी, जो खुद एक महिला है।

2020 से शुरू हुई कहानी

साल 2020 में पीड़िता ने अपने पिता को खो दिया, जिसके बाद वह बेहद गुमसुम रहने लगी थी। तब वह 16 साल की थी और 9वीं कक्षा में पढ़ती थी। आरोपित अधिकारी उसके पिता का दोस्त है और लड़की को गम से उबारने के बहाने 2020 अक्तूबर में अपने साथ ले गया।

इसके बाद धीरे-धीरे वह बच्ची को ढांढस बंधाने के नाम पर उसके करीब आया। फिर साल 2020 के नवंबर, दिसंबर और जनवरी 2021 में लगातार उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया। फरवरी 2021 में बच्ची को पता चला कि वह गर्भवती है।

0 views0 comments
bottom of page