google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

इमरान मसूद ने छोड़ा सपा का दामन अब करेंगे हाथी की सवारी


लखनऊ, 19 अक्टूबर 2022 : विधानसभा चुनाव से पहलेकांग्रेस छोड़कर समाजवादी पार्टीमें शामिल होनेवाले इमरान मसूदआज बहुजन समाजपार्टी की प्रमुखमायावती की मौजूदमें बसपा मेंशामिल हो गएहैं। बसपा प्रमुखमायावती ने इसकीजानकारी दी।

इमरान मसूद पश्चिमीयूपी की राजनीतिका जाना पहचानानाम- मायावती

मायावती ने कहाकि उत्तर प्रदेशव खसकर पश्चिमीयूपी की राजनीतिमें इमरान मसूदएक जाना-पहचानानाम है, जिन्होंनेआज अपने करीबीसहयोगियों के साथमुझसे मुलाकात कीऔर वे समाजवादीपार्टी छोड़कर, अच्छी नीयतव पूरी दमदारीसे काम करनेके वादे केसाथ, बीएसपी मेंशामिल हो गए, जिसका तहेदिल सेस्वागत है।

साथ ही, पार्टी में कामकरने के इनकेजबर्दस्त जोश वउत्साह को देखकरआज ही उन्हेंपश्चिमी यूपी बीएसपीका संयोजक बनाकरवहां पार्टी कोहर स्तर परमज़बूत बनाने व खासकरअकलीयत समाज कोपार्टी से जोड़नेकी भी विशेषजिम्मेदारी सौंपी गई।

मायावती बोलीं- भाजपाकर रही द्वेषपूर्णव क्रूर राजनीति

मायावती ने कहाकि आजमगढ़ लोकसभाउपचुनाव के बादव अब स्थानीयनिकाय चुनाव सेपहले इमरान मसूदव अन्य लोगोंका बीएसपी मेंशामिल होना यूपीकी राजनीति केलिए इस मायनेमें शुभ संकेतहै कि मुस्लिमसमाज को भीयकीन है किभाजपा की द्वेषपूर्णव क्रूर राजनीतिसे मुक्ति केलिए सपा नहींबल्कि बीएसपी हीजरूरी।

बीएसपी ने पार्टीसंगठन तथा अपनीसभी सरकारों मेंभी गरीबों, महिलाओंव अन्य उपेक्षितोंआदि के हितएवं कल्याण कोसर्वोपरि रखते हुएअपने कार्यों सेयह साबित कियाहै कि सर्वसमाजका हित, रोजी-रोजगार, सुरक्षा वधार्मिक स्वतंत्रता आदि बीएसपीमें ही संभव, जिसपर विश्वास समयकी मांग है।

इमरान मसूद लगातारउपेक्षा से थेनाराज

बता देंकि इमरान मसूदलगातार सपा मेंहो रही उपेक्षासे थे निराश।विधानसभा चुनाव में इमरानमसूद के किसीदावेदार तथा स्वयंइमरान को टिकटनहीं दिया गयाथा। चुनाव केबाद भी इमरानको पार्टी मेंतवज्जो नहीं मिलरही थी। इसलिएइमरान ने हाथीकी सवारी करनेका मन बनाया।इमरान निकाय चुनावमें सहारनपुर नगरनिगम के मेयरपद के लिएखुद या अपनेदामाद को लड़वानाचाहते हैं।


0 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0