google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

बिहार महागठबंधन सरकार में 72 प्रतिशत मंत्री दागी, 17 पर गंभीर केस दर्ज


नई दिल्ली, 17 अगस्त 2022 : बिहार की नई सरकार के विधि मंत्री कार्तिक सिंह के एक अपहरण मामले में वारंटी होने की खबर आने के बाद राजनीति गर्म हो गई है। इसी बीच चुनाव सुधारों के लिए काम करने वाली संस्था एडीआर की रिपोर्ट सामने आई है, जिसमें सरकार के 72 प्रतिशत मंत्रियों के किसी न किसी आपराधिक मामले में आरोपित होने की जानकारी दी गई है। रिपोर्ट के मुताबिक महागठबंधन सरकार के कुल 23 मंत्रियों पर आपराधिक मुकदमे चल रहे हैं। इनमें 17 पर तो गंभीर क्रिमिनल मामले दर्ज हैं।

एडीआर की यह रिपोर्ट चुनाव आयोग को विधान सभा या विधान परिषद चुनाव के वक्‍त दिए गए शपथ पत्र के आधार पर तैयार की गई है। बिहार में अब विपक्ष की भारतीय जनता पार्टी लगातार कानून-व्‍यवस्‍था को लेकर सवाल खड़े करती रही है। ऐसे में आइए जानते हैं कैबिनेट विस्‍तार में बनाए गए मंत्रियों के एडीआर की रिपोर्ट में दर्ज क्रिमिनल रिकार्ड यहां यह भी स्‍पष्‍ट कर दें कि खबर एडीआर की रिपोर्ट के आधार पर दी जा रही है। संभव है कि इस रिपोर्ट में दर्ज कुछ मुकदमे अब समाप्‍त हो चुके हों।

अपहरण के आरोपित कानून मंत्री कार्तिक सिंह

सबसे पहले बात उस मंत्री की, जिसके कारण विवाद खड़ा हुआ है। कार्तिक सिंह आरजेडी कोटे से कानून मंत्री हैं। उनके खिलाफ अपहरण के एक मामले में कोर्ट ने वारंट जारी किया था। 16 अगस्त को उन्हें अदालत में उपस्थित होना था, किंतु उसी दिन उन्होंने मंत्री पद की शपथ ली। हालांकि, उनका कहना है कि कोर्ट ने इस मामले में उन्‍हें बीते 12 अगस्‍त को ही एक सितंबर तक राहत दे दी है।

मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार बोले: मुझे जानकारी नहीं

कानून मंत्री को लेकर हुए इस विवाद पर बीजेपी ने राज्य सरकार पर जमकर हमला किया है। बीजेपी नेता व राज्‍यसभा सदस्‍य सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि कार्तिक सिंह जैसे अपराधी को मंत्रिमंडल में शामिल करना नीतीश कुमार की बड़ी गलती और लापरवाही है। उन्होंने कानून मंत्री की बर्खास्‍तगी की मांग की है। इस विवाद व बीजेपी के बयान पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की प्रतिक्रिया भी आई है। उन्होंने कहा है कि कार्तिकेय सिंह पर लगे आरोपों के बारे में उन्हें जानकारी नहीं है।

दागी मंत्रियों में नंबर वन आरजेडी के सुरेंद्र यादव

बात महागठबंधन की नई सरकार में शामिल अन्‍य मंत्रियों की करें तो दागी मंत्रियों में आरजेडी के सुरेंद्र यादव टाप पर हैं। उनपर कुल नौ आपराधिक मामले दर्ज हैं। आइए डालते हैं नजर, सरकार के मंत्रियों के मुकदमों पर।

महागठबंधन सरकार में दागी मंत्री, एक नजर


जेडीयू


1. जमा खान: कैमूर जिले के चैनपुर विधानसभा सीट से बहुजन समाज पार्टी से विधानसभा चुनाव जीतने के बाद जमा खान जेडीयू में शामिल हो गए। भभुआ के अलग-अलग थानों में उनपर तीन मुकदमें दर्ज हैं।

2. मदन सहनी: बहादुरपुर सीट से जेडीयू विधायक हैं। उनपर बहादुरपुर और घनश्यामपुर थानों में एक-एक मुकदमा दर्ज है।

3. संजय झा: जेडीयू कोटे से मंत्री बनाए गए संजय झा पर दो मुकदमे दर्ज हैं।

आरजेडी


1. कार्तिक सिंह: आरजेडी के बाहुबली पूर्व विधायक अनंत सिंह के करीबी और पटना के एमएलसी हैं। उनपर कुल चार मुकदमे दर्ज हैं।

2. ललित यादव: दरभंगा ग्रामीण सीट से चुनाव जीते ललित यादव पर पटना में एक मुकदमा दर्ज है।

3. रामानंद यादव: पटना के फतुहा से आरजेडी विधायक रामानंद यादव पर पटना में तीन और जहानाबाद में एक मुकदमा दर्ज है।

4. सुरेंद्र यादव: आरजेडी के बेलागंज विधायक सुरेंद्र यादव पर कुल नौ मुकदमे दर्ज हैं।

5. आलोक मेहता: उजियारपुर से आरजेडी विधायक आलोक कुमार मेहता पर तीन मुकदमे हैं।

6. कुमार सर्वजीत: बोधगया सुरक्षित क्षेत्र से आरजेडी विधायक पर पटना में एक मुकदमा दर्ज है।

7. सुधाकर सिंह: आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के बेटे और रामगढ़ के विधायक सुधाकर सिंह पर दो मुकदमे दर्ज हैं।

8. तेज प्रताप यादव: हसनपुर से आरजेडी विधायक व लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव पर पांच मुकदमे दर्ज हैं। इसमें एक दहेज से जुड़ा मामला भी है।

9. जितेंद्र कुमार राय: पहली बार मंत्री बने मढ़ौरा से आरजेडी विधायक जितेंद्र कुमार राय पर पांच मुकदमे दर्ज हैं।

10. शहनवाज: एनआइएमआइएम के टिकट पर जोकीहाट पर जीत के बाद आरजेडी में शामिल हो गए शहनवाज पर एक मुकदमा दर्ज है।

11. चंद्रशेखर: मधेपुरा से आरजेडी विधायक चंद्रशेखर पर तीन मुकदमे दर्ज हैं।

12. सुरेंद्र राम: छपरा के गरखा से आरजेडी विधायक सुरेंद्र राम पर दिघवारा थाने में चार मुकदमे दर्ज हैं।

13. अनिता देवी: नोखा से आरजेडी विधायक अनिता देवी पर एक मुकदमा दर्ज है।

14. मो. इसरायल मंसूरी: मुजफ्फरपुर के कांटी से आरजेडी विधायक मो. इजरायल मंसूरी दो मुकदमों में आरोपित हैं।

कांग्रेस


1. मुरारी प्रसाद गौतम: चेनारी सीट से आरजेडी विधायक मुरारी गौतम पर एक मुकदमा दर्ज है।

'हम'

1. संतोष सुमन: पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के बेटे पर औरंगाबाद में एक मुकदमा दर्ज है।

निर्दलीय

1. सुमित सिंह: चकाई से निर्दलीय विधायक सुमित सिंह पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह के बेटे हैं। उनपर एक मुकदमा दर्ज है।

1 view0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0