google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

स्वतंत्रता दिवस पर खुले रहेंगे बाजार, स्कूल-कालेज और सभी दफ्तर


लखनऊ, 14 जुलाई 2022 : देश की स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे होने पर आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। यह आयोजन देशभर में चल रहा है। इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महत्वपूर्ण निर्णय लिया है कि इस बार स्वतंत्रता दिवस पर कोई भी स्कूल-कालेज, विश्वविद्यालय, सरकारी, गैर सरकारी दफ्तर और बाजार बंद नहीं रहेगा। इस संबंध में निर्देश जारी करने के साथ मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने कहा है कि राष्ट्रीय पर्व पर कोई भी छुट्टी मनाने न जाए।

स्वतंत्रता दिवस की तैयारी की समीक्षा करते हुए मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने अधिकारियों से कहा कि इस वर्ष का स्वतंत्रता दिवस बाकी के कार्यक्रमों से काफी अलग और खास है। भारत की आजादी के 75 वर्ष पूरे हो रहे हैं। हमें इसे विशेष तरीके से मनाना है। हम बहुत रचनात्मक गतिविधियां कर सकते हैं। हर एक जिला इसे एक कार्यक्रम के तौर पर तैयार करे। स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों से जुड़ी जगहों पर कार्यक्रम हों। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का आदेश है कि इस वर्ष स्वतंत्रता दिवस पर कोई भी स्कूल-कालेज, विश्वविद्यालय, सरकारी, गैर सरकारी दफ्तर और बाजार बंद नहीं होगा। आजादी के अमृत पर्व पर हर तरफ उत्सव का माहौल रहे।

मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने हर घर तिरंगा कार्यक्रम की तैयारी को लेकर गैर सरकारी संगठनों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि 11 से 17 अगस्त तक देश स्वतंत्रता सप्ताह मनाएगा। इस दौरान सभी के घरों, सरकारी गैर सरकारी दफ्तरों, संस्थानों, सार्वजनिक स्थलों पर तिरंगा फहराया जाना तय हुआ है।

समाज के हर वर्ग, हर तबके, हर सामाजिक संगठन, जनप्रतिनिधियों, स्वयंसेवी संस्थाओं, एनसीसी कैडेट, नेहरू युवा केंद्र, गांव के नवयुवक मंगल दल, महिला स्वयंसेवी संगठनों, खेल, व्यापारिक संगठन आदि को जोड़ें। हर कोई अपने तरीके से स्वतंत्रता सप्ताह से जुड़े, ऐसा हमारा प्रयास हो। स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों, बलिदानी वीरों के स्वजन को आमंत्रित कर उन्हें सम्मानित किया जाए। मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने कहा कि पूरी दुनिया देखे, ऐसा माहौल रहे। स्वतंत्रता दिवस के इस अविस्मरणीय अवसर पर कोई भी छुट्टी मनाने न जाए। उद्देश्य यही है कि यह पर्व मात्र एक सरकारी कार्यक्रम न रहे, बल्कि हर एक नागरिक का कार्यक्रम बने। पूरे सात दिन तक उत्सव का माहौल हो।

कानपुर के श्यामलाल गुप्ता जी का लिखा विजयी विश्व तिरंगा प्यारा सहित अन्य देशभक्ति गीतों का सस्वर गान हो। बच्चों को इन गीतों के साथ राष्ट्रगान और राष्ट्रगीत कंठस्थ कराएं। साथ ही स्वतंत्रता दिवस पर दीपावली जैसी साफ-सफाई का विशेष अभियान चलाया जाए। देश के निर्माण में योगदान देने वाले श्रमिकों, मजदूरों, घरों में सेवा कार्य कर रहे लोगों, स्वच्छाग्रहियों के सम्मान समारोह करें। इस अवसर पर पर्यटन एवं संस्कृति विभाग के प्रमुख सचिव मुकेश मेश्राम और लखनऊ के जिलाधिकारी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी और विभिन्न गैर सरकारी संगठनों के पदाधिकारी उपस्थित थे। अन्य जिलों से वरिष्ठ अधिकारी और संगठनों के पदाधिकारी वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े।

2 views0 comments