google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

जानिए कौन कहां से जीता राज्यसभा का चुनाव, हरियाणा और महाराष्ट्र में रोकी गई मतों की गिनती


नई दिल्ली, 10 जून 2022 : राज्यसभा की 16 सीटों के लिए शुक्रवार को मतदान कराया गया। वोटों की गिनती के बाद राजस्थान में कांग्रेस ने तीन और भाजपा ने एक सीट जीत ली। कर्नाटक में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और कांग्रेस के जयराम रमेश को विजेता घोषित किया गया। राजस्थान में क्रास वोटिंग के चलते भाजपा ने अपनी विधायक शोभारानी कुशवाह को निलंबित कर दिया है। हरियाणा और महाराष्ट्र में वोटों की गिनती रोक दी गई है।

हरियाणा में राज्यसभा की दो सीटों पर हुए चुनाव को लेकर बड़ा पेंच फंस गया है। इन दोनों सीटों के लिए मतदान तो हो गया, लेकिन भाजपा, जजपा व निर्दलीय विधायकों द्वारा समर्थित कार्तिकेय शर्मा और उनके एजेंटों की शिकायत के चलते मतों की गिनती नहीं हो पाई। मामला चुनाव आयोग तक पहुंच गया है। विवाद कांग्रेस विधायक किरण चौधरी और भारत भूषण बत्रा द्वारा अपने वोट कांग्रेस के अधिकृत एजेंट विवेक बंसल के साथ जजपा एजेंट दिग्विजय सिंह चौटाला को भी दिखाए जाने के आरोपों से उलझा है।

चुनाव आयोग ने वोटिंग प्रक्रिया की वीडियोग्राफी तलब कर ली है। राज्यसभा चुनाव के रिटर्निंग अधिकारी विधानसभा सचिव राजेंद्र सिंह नांदल का पक्ष भी आयोग ने जाना है। नांदल ने वोट की गोपनीयता भंग होने के आरोपों को खारिज करते हुए किरण चौधरी और बीबी बत्रा के दोनों वोटों को वैध माना और उन्हें बैलेट बाक्स में गिरवा दिया। चुनाव आयोग के पास भी नांदल ने यही जवाब भेजा है कि कहीं कोई गड़बड़ी नहीं हुई है।

भाजपा ने चुनाव आयोग से की मुलाकात

इसको लेकर भाजपा सरकार के चार केंद्रीय मंत्रियों ने नई दिल्ली में चुनाव आयोग से मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल में केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, गजेंद्र सिंह शेखावत, अर्जुन राम मेघवाल, डा. जितेंद्र सिंह शामिल रहे। मीडिया से बातचीत में नकवी ने कहा कि महाराष्ट्र और हरियाणा के चुनावों में खुलेआम अनियमितता हुई है।

गिनती पर रोक के खिलाफ कांग्रेस की ओर से पूर्व केंद्रीय मंत्री विवेक बंसल, मध्य प्रदेश के पूर्व एडवोकेट जनरल विवेक तन्खा व रणजीत राजन ने चुनाव आयोग से मुलाकात की।
0 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0