google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

कृष्ण भक्ति का रंग ऐसा चढ़ा कि जो जहां था वहीं झूमने लगा



कोरोना का कहर कम हुआ तो हर शहर की रंगत लौट रही है। मथुरा वृंदावन की रंगत कृष्ण भक्ति की है। संक्रमण काल में त्रस्त जनता को भगवान का ही सहारा रहा। अब जब अनलॉक का दौर है तो भक्तों की भक्ति हिलोरें मार रही है।



मथुरा महानगर के मुख्य गोवर्धन चौराहे पर अंतरराष्ट्रीय संस्था इस्कॉन द्वारा राम-कृष्ण की अलग जलान देश विदेश के भक्त नाच गा रहे हैं। भारत के विभिन्न धार्मिक स्थानों की महत्ता, सनातन धर्म की सत्ता, परमपिता परमेश्वर योगिराज भगवान श्री कृष्ण और श्री राम के नाम को आम जनमानस में हरिकीर्तन के जरिए पहुंचाया जा रहा है। राम कृष्ण के भक्त पूर्ण रुप से भक्तिमय भक्तिरस की भावना से ओत प्रोत भावविभोर होकर जनजागरण कर रहे हैं। भारतीय परंपरा का जीवन रहस्य कृष्ण की भक्ति और जन जन का कल्याण, प्रकृति कल्याण, जीव जंतु कल्याण के प्रति भावना को संचार किया जा रहा है।



दिल्ली के रहने वाले एडवोकेट नितिन गोयल, वृंदावन किशोर प्रभु, कार्तिक गौरंगना दास कोलंबिया, यशो ध्यानदास नेपाल, नवीन मोंगिया पानीपत, संगीता देवी दासी जापान, कृष्णा शरणा वृंदावन दासी, इजराइल व्रज विलासिनी दासी, यूक्रेन पियाली भटटाचार्य कोलकाता के द्वारा चलाया जा रहा है।



अलग अलग देश के लोगों ने भगवान श्री कृष्णा , श्री राम व सनातन रहस्य को जानकर सबकुछ त्याग भक्ति में भाव विभोर होकर इस्कॉन संस्था के माध्यम से भारत में अलग-अलग स्थानों पर संकीर्तन करते हुए सड़कों पर आते जाते सभी लोगों को ईश्वर के प्रति जागरूक कर रहे हैं।



चंद्र मोहन दीक्षित, संवाददाता, मथुरा, स्टेट टुडे

रिपोर्ट – चंद्र मोहन दीक्षित, संवाददाता, मथुरा

टीम स्टेट टुडे






















विज्ञापन

111 views0 comments

Comments


bottom of page