google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

लौट आया लॉकडाउन, फ्लाइट में सख्ती, यूपी में मामले बढ़े, संक्रमित होंगे क्वारेंटीन



बीते साल मार्च महीने के यही दिन थे जब पहले जनता कर्फ्यू और फिर लॉकडाउन का ऐलान हुआ था। साल बीत गया महीना फिर वही आया है और कोरोना के बढ़ते मामले लाया है। देश के कई राज्य, कई राज्यों के कई जिले ऐसे हैं जहां पूर्ण लॉकडाउन का ऐलान कर दिया गया है। सड़कों पर सन्नाटा है। कई जिले ऐसे हैं जहां नाइट कर्फ्यू जारी है। धीरे धीरे पटरी पर लौटती जिंदगी के बीच बढ़ते कोरोना के मामले ना सिर्फ चिंता का विषय है बल्कि पहले से ज्यादा सावधान रहने की जरुरत है।


देश में लगभग ढाई महीने बाद एक दिन में 24 हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं। यह एक दिन में इस साल मरीजों की सर्वाधिक संख्या है। महराष्‍ट्र, पंजाब, केरल, गुजरात, तमिलनाडु और कर्नाटक में सबसे ज्‍यादा मामले सामने आ रहे है। महाराष्ट्र में एक बार फिर लॉकडाउन हो चुका है।


कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते औरंगाबाद, नागपुर, परभणी और पुणे में एक बार फिर लॉकडाउन लगाया गया है। महाराष्ट्र में बीते 24 घंटों के दौरान 15 हजार से अधिक नए केस मिले है। औरंगाबाद में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए वीकेंड पर पूरी तरह लॉकडाउन लगाया दिया गया है। नागपुर में 15 से 21 मार्च के बीच लाकडाउन लागू रहेगा।।


राजधानी दिल्ली में भी नए मामलों में इजाफा हो रहा है। हरियाणा पंजाब बार्डर पर किसान आंदोलन जरुर कर रहे हैं लेकिन पंजाब के शहरों की स्थिति खराब हो रही है। पंजाब में एक बार फिर स्कूलों को बंद करने का फैसला लिया गया है। लुधियाना, पटियाला, मोहाली और फतेहगढ़ साहिब सहित आठ जिलों में नाइट कफ्र्यू लगाया गया है। यह कफ्र्यू रात 11 बजे से लेकर सुबह पांच बजे तक लागू रहेगा।


मध्य प्रदेश कई जिलों में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी के चलते भोपाल और इंदौर में नाइट कर्फ्यू लगाए जाने की तैयारी है।


दिल्ली में कोरोना के मामले बढ़ने लगे हैं। पिछले 24 घंटे में 431 नए मामले आए हैं। इससे पहले एक दिन में 409 मामले मिले थे।


उत्तर प्रदेश में हालात बिगड़े


उत्तर प्रदेश के हालात पर स्वास्थ्य विभाग लगातार नजर बनाए हुए है। प्रदेश में तेजी से बढ़ रहे कोरोना मामलों से चिंतित सरकार ने शनिवार से फिर पूरे राज्य में टेस्टिंग की प्रक्रिया फिर शुरु कर ने का फैसला लिया है। बाजारों में दुकानों में काम कर रहे कर्मियों, मलिन बस्तियों में रहने वाले लोगों, जेलों और वृद्धाश्रम में रहने वाले लोगों के सैंपल लिए जाएंगे। स्वास्थ्य विभाग 15 दिनों तक वृहद टेस्टिंग अभियान चलाएगा।


जो लोग कोरोना संक्रमित पाए जाएंगे उनको क्वारंटीन किया जाएगा। संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने वालों की जांच होगी।


यूपी में कोरोना संक्रमण के रोगी दोबारा बढ़ रहे हैं। शुक्रवार को एक महीने बाद सर्वाधिक 167 नए रोगी मिले। इससे पहले तीन फरवरी को 197 संक्रमित मरीज मिले थे।


फ्लाइट से उतारे जाएंगे बिना मॉस्क यात्री


कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने एक कड़ा फैसला लिया है। इस नियम के तहत अगर आप फ्लाइट के अंदर बिना मास्क पहने पकड़े जाते हैं तो आपको फ्लाइट से उतार दिया है। नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (Directorate General of Civil Aviation-DGCA) ने इसको लेकर एक गाइडलाइन जारी की है।


क्या है उपाय


पिछले 83 दिनों से हर दिन नए संक्रमण के मामलों में तेजी देखी जा रही है। वैज्ञानिकों ने देश में कोरोना वायरस संक्रमण की नई लहर आने की आशंका जताई है। भारत में बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों से चिंता होना लाजिमी है। हालात की गंभीरता को भांपते हुए वैज्ञानिकों ने कह दिया है कि देश में संक्रमण का कहर एक बार फिर शुरू हो सकता है। इनका कहना है कि इसे रोकने के लिए अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन की खुराक देना होगा और कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करना होगा


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन
विज्ञापन

117 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0