google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

कोरोना से कांप रहे प्रदेश में सीएम योगी ने दिखाया रौद्र रुप – दौड़ पड़े अधिकारी, जमकर कटे बिना मॉस्क



राजधानी समेत पूरे प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सीएम योगी ने टीम 11 की बैठक में अधिकारियों को कड़े निर्देश दिये हैं। सीएम ने मेडिकल स्क्रीनिंग, एम्बुलेंस सेवा, कन्टेनमेंट जोन में निगरानी के लिए ड्रोन कैमरे, शहरी क्षेत्रों में सर्विलांस टीम द्वारा घर-घर सर्वे के साथ ही स्वच्छता अभियान को तेज करने और सभी वेंटिलेटर्स को क्रियाशील रखने का आदेश दिया है।


सीएम का ट्वीट



उत्तर प्रदेश में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को लेकर मुख्यमंत्री कार्यालय ने किया ट्वीट किया है। के जी एम यू के पल्मोनरी क्रिटिकल केयर विभाग के विभागाध्यक्ष डा. वेद प्रकाश ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि वर्तमान में बारिश की वजह से वायु में नमी आने से संक्रमण बढ़ रहा है इससे निपटने के लिए सभी को मास्क लगाना और सोशल डिस्टेन्सिंग का अनुपालन करना आवश्यक है।


कोरोनाकाल में दिखी अफसरों की तेजी



कोरोना के बढ़ते मामलों पर सीएम के तेवर देखने के बाद अधिकारियों ने फील्ड में मोर्चा संभाल लिया है। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने सीएमओ दफ्तर का औचक निरीक्षण किया। यहां उन्होने कोरोना मामलों के सबन्ध में जानकारी हासिल की। राजधानी में मरीजों की संख्या और इंतजामों पर डिप्टी सीएमओ से कई सवाल भी पूछे। अवनीश अवस्थी ने किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरतने और सभी प्रकार की दिक्कतों से शासन को तत्काल अवगत कराने के निर्देश भी दिए हैं।


नोटिस और चालान की आई बाढ़



सीएम योगी की सख्ती के बाद एसी दफ्तरों में बैठे प्रशासनिक अफसर फील्ड में निकले। कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन न करने पर डीएम लखनऊ ने कड़ी कार्रवाई की है। नगर मजिस्ट्रेट और एफएसडीए की टीम ने गोमती नगर के होटल कसाया इन का किचन व रेस्टोरेंट्स सील कर दिया है। किचन में चारों तरफ भारी गन्दगी का अम्बार मिला है। होटल कसाया इन के प्रबंधन को प्रोटोकॉल उल्लंघन का नोटिस जारी किया गया है। डीएम लखनऊ अभिषेक प्रकाश ने एफएसडीए और जिला प्रशासन की टीमों को सघन छापेमारी के निर्देश दिए हैं।

लखनऊ में मास्क न पहनने पर जुर्माना वसूला जा रहा है। जिला प्रशासन के अफसर पुलिस संग मिलकर अभियान चला रहे हैं।


अनलॉक के बाद कोरोना मामलों की संख्या कई गुना रफ्तार से बढ़ी है। खासतौर पर उत्तरप्रदेश में अब 2 हजार मामले प्रतिदिन के आने से अफसरों के माथे पर भी शिकन आ गयी है लखनऊ में पहली बार 300 मामले एक दिन में आये। इसलिए अब ऐसिप्टोमेटिक मरीजों के लिए होम आइसोलेशन की मांग तेजी से बढ़ी है।

टीम स्टेट टुडे




80 views0 comments

Comments


bottom of page