google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

केरल में बीजेपी ने मेट्रोमैन श्रीधरन को बनाया मुख्यमंत्री का चेहरा, दुनिया मानती है इनके काम का लोहा



केरल में यूं तो भारतीय जनता पार्टी का अब तक कोई खास आधार नहीं रहा है लेकिन आगामी चुनाव को लेकर बीजेपी की गंभीरता में कोई कमी नहीं है। इतिहास बदलने और वर्तमान को राजनीतिक रुप से पलटने में वर्तमान बीजेपी बेजोड़ है। ऐसे केरल की राजनीति को रफ्तार और आधुनिकता देने के लिए बीजेपी ने जिस चेहरे को अपना चीफ मिनिस्टर ब्रांड किया है उसकी क्षमता प्रतिभा का लोहा देश ही नहीं बल्कि दुनिया में बेमिसाल माना जाता है।


केरल विधानसभा चुनावों में मेट्रोमैन ई. श्रीधरन भाजपा के मुख्यमंत्री पद के प्रत्याशी होंगे। पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष के. सुरेंद्रन ने गुरुवार को यह घोषणा की। गुरुवार सुबह श्रीधरन ने दिल्ली मेट्रो रेल कार्पोरेशन (डीएमआरसी) की आउटडोर यूनीफार्म पहनकर पलारीवत्तम फ्लाईओवर का निरीक्षण किया, जिसका डीएमआरसी ने पुननिर्माण किया है। डीएमआरसी में 24 साल के करियर में उन्होंने आखिरी बार यह यूनीफार्म पहनी।


श्रीधरन बीजेपी में कुछ समय पहले ही शामिल हुए हैं। डीएमआरसी के प्रिंसिपल एडवाइजर रहे श्रीधरन इस्तीफा देने के बाद वह नामांकन दाखिल करेंगे।


श्रीधरन का कहना है कि 'लोग अच्छी तरह जानते हैं कि उनके लिए और राज्य के लिए क्या अच्छा है। मुझे पूरा विश्वास है कि वे भाजपा को सत्ता में लाएंगे। मैं बड़ी जीत की उम्मीद कर रहा हूं। मैंने भाजपा से सिर्फ एक मांग की है कि मैं ऐसे विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ना चाहता हूं जो मलप्पुरम जिले के पोन्नानी से ज्यादा दूर न हो जहां मैं अभी रह रहा हूं।'


88 वर्षीय भाजपा नेता यह भी कहा कि शारीरिक उम्र से ज्यादा मानसिक उम्र इस बात का फैसला करती है कि एक व्यक्ति को क्या जिम्मेदारियां उठानी चाहिए। उन्होंने कहा, 'सिर्फ शारीरिक उम्र नहीं, बल्कि मानसिक उम्र मायने रखती है। मानसिक तौर पर मैं बेहद चुस्त और युवा हूं। मुझे अभी तक स्वास्थ्य संबंधी कोई परेशानी नहीं है। मुझे नहीं लगता कि स्वास्थ्य कोई मुद्दा होगा। मैं एक सामान्य राजनीतिज्ञ की तरह काम नहीं करूंगा, बल्कि मैं टेक्नोक्रेट की तरह अपना काम जारी रखना चाहूंगा।'


मेट्रोमैन ने कहा, 'यह डिजिटल युग है। इसलिए मैं घर-घर या दुकान-दुकान नहीं जाऊंगा, लेकिन मैं विधानसभा क्षेत्र के हर घर और हर व्यक्ति तक इस संदेश के साथ पहुंचूंगा कि मैं राज्य के लिए क्या कर रहा हूं।'

उन्होंने कहा कि वह मतदाताओं का समर्थन हासिल करने के लिए उन्हें अपनी पेशेवर क्षमता और प्रामाणिकता दिखाएंगे।


केरल बीजेपी अध्यक्ष सुरेंद्रन ने श्रीधरन की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए कहा कि सिर्फ पांच महीने की अवधि में पलारीवत्तम फ्लाईओवर का पुनर्निर्माण शामिल है जो निर्धारित समय से काफी कम है। सुरेंद्रन ने कहा, 'उन्होंने बिना किसी भ्रष्टाचार के पांच महीने में परियोजना को पूरा कर दिया। इसीलिए हमने श्रीधरन और हमारी पार्टी नेतृत्व से अनुरोध किया कि उन्हें (राजग के) मुख्यमंत्री पद के प्रत्याशी के तौर पर पेश किया जाए।'


दुनिया के कई देशों ने किया है श्रीधरन का सम्मान


कोलकाता मेट्रो से लेकर दिल्ली मेट्रो तक में ई श्रीधरन का अहम योगदान है। इसके लिए उन्हें वर्ष 2001 में पद्म श्री और 2008 में पद्म विभूषण का सम्मान दिया गया था। केवल भारत ही नहीं फ्रांस सरकार ने भी वर्ष 2005 में इन्हें 'Chavalier de la Legion d’honneur' अवार्ड से सम्मानित किया था। अमेरिका की विश्व प्रसिद्ध पत्रिका टाइम मैग्जीन ने श्रीधरन को एशिया हीरो के टाइटल से नवाजा था।


टीम स्टेट टुडे


विज्ञापन
विज्ञापन

19 views0 comments

Comments


bottom of page