google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

निधि का 1 रुपया भी खर्च नहीं कर सके आजम, 10 बार रामपुर से बन चुके MLA


रामपुर, 29 अक्टूबर 2022 : सपा नेता आजमखां सीतापुर जेलमें रहते हुएभी यूपी विधानसभाचुनाव 2022 में चुनावलड़े और रामपुरसीट से दसवींबार विधायक बने।लेकिन, विधायक बनने केबाद से क्षेत्रके विकास केलिए विधायक निधिका एक रुपयाभी खर्च नहींकर सके औरउनकी विधायकी रदकर दी गई।

सांसद निधि कारुपया भी नहींखर्च कर सके

आजम खांकी विधायक निधिमें इस सालतीन करोड़ रुपयेमिले हैं, जोखर्च नहीं होसके। आजम खांसांसद बनने केबाद भी पूरापैसा खर्च नहींकर सके थे।सवा दो सालतक सीतापुर जेलमें बंद रहे।इस दौरान सांसदनिधि के दोकरोड़ 52 लाख रुपयेही खर्च करसके। विधायक चुनेजाने के बादसांसद के पदसे इस्तीफा देदिया।

आजम कीनिधि का पैसाअब सांसद घनश्यामकरेंगे खर्च

सांसद निधि मेंयह नियम हैकि पहली किस्तका 80 प्रतिशत धनखर्च होने केबाद ही दूसरीकिस्त मिलती है।पहली किस्त खर्चन होने केकारण दूसरी किस्तही नहीं मिलसकी। उनके कार्यकालके 4.50 करोड़ रुपये अबआएंगे, जो भाजपासांसद घनश्याम सिंहलोधी खर्च करेंगे।

आजम खांकी चली गईविधायकी

अब आजमखां की विधायकीभी चली गईहै। इस कारणविधायक निधि कापैसा भी वहखर्च नहीं करसकेंगे। आजम खांने सपा शासनकालमें नगर विकासमंत्री रहते अपनेशहर में अरबोंरुपये के विकासकार्य कराए थे, लेकिन कानूनी शिकंजेमें फंसने केबाद विधायक निधिके लिए प्रस्तावभी नहीं देसके।

सीडीओ ने आजमखां को लिखापत्र

मुख्य विकास अधिकारीनंद किशोर कलालका कहना हैकि विधायक निधिमें अभी दोकिस्तें मिली हैं।दोनों किस्तों कोमिलाकर तीन करोड़रुपये मिले हैं, लेकिन शहर विधायकरहे आजम खांकी ओर सेकोई प्रस्ताव नहींमिल सका। इससंबंध में उन्हेंपत्र भी लिखेगए।

4 views0 comments

Comments


bottom of page