google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

अमेठी की रायफल से थर्राता है Pakistan




काशी में पीएम मोदी के स्वागत व अभिनंदन को आतुर दिखा जनमानसः योगी


सीएम ने रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर में कार्यकर्ता सम्मेलन को किया संबोधित


बिना रुके, बिना झुके और बिना थके दस वर्ष तक लगातार पीएम मोदी ने किया है कार्यः सीएम


बोलेः प्रधानमंत्री के रोड शो व नामांकन पर टिकी रही देश-दुनिया की निगाह


'फिर एक बार मोदी सरकार' की अगुआई करेगी काशीः योगी


अपीलः काशीवासियों को नए रिकॉर्ड की तरफ होना है अग्रसर



वाराणसी, 14 मईः मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि काशी का हर जनमानस अपने सांसद व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वागत-अभिनंदन के लिए आतुर दिखा। देश के कोटि-कोटि और लोकतंत्र के प्रति आग्रही, मानवता के कल्याण के प्रति सजग दुनिया के हर नागरिक की निगाह रोड शो व नामांकन कार्यक्रम पर रही। प्रधानमंत्री के नामांकन और सोमवार को उनके आगमन पर काशीवासियों का उमंग, स्नेह देखकर देश-दुनिया अभिभूत है। दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश के प्रधानमंत्री के रूप में मोदी जी ने दस वर्ष तक बिना रुके, बिना डिगे, बिना थके कार्य किया है।


उक्त बातें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहीं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में उन्होंने मंगलवार को रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर में वाराणसी संसदीय सीट के लिए आयोजित भाजपा के कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित किया। सीएम ने कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि काशी को नए रिकॉर्ड बनाने की तरफ अग्रसर होना है, क्योंकि काशीवासियों से जनप्रतिनिधि व संगठन के लोगों से मार्गदर्शक के रूप में पीएम का जुड़ाव प्रेरणादायी है।


नया भारत श्रेष्ठ भारत के रूप में विकसित होने की दिशा में बढ़ चुका है

सीएम ने कहा कि दुनिया के सबसे लोकप्रिय राजनेता के रूप में मोदी जी ने भारत को दुनिया में सम्मान दिलाने, सुरक्षा को पुख्ता करने, आतंकवाद-नक्सलवाद का स्थायी समाधान निकालने, विकास के नित नए प्रतिमान स्थापित करने, गरीब कल्याणकारी योजनाओं की नई श्रृंखला को बढ़ाने और आजाद भारत में आस्था को पहली बार सम्मान व प्रतिष्ठा दिलाने में अतुलनीय योगदान दिया है। पीएम मोदी के नेतृत्व में नया भारत, श्रेष्ठ भारत के रूप में आत्मनिर्भर व विकसित होने की दिशा में आगे बढ़ चुका है। काशी में उनके नामांकन पर दुनिया कौतूहल व आश्चर्य से निगाह लगाई थी।


प्रधानमंत्री ने दिया 'सेवा ही संगठन' का मंत्र

सीएम ने कहा कि काशी नई पहचान बना रही है। दस वर्ष में हुए परिवर्तन का मूर्त रूप नई काशी में दिखने को मिलता है। काशी ने दुनिया को अपनी तरफ आकर्षित किया है। काशी किसी भी राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय समिट को सकुशल संपन्न करती है। काशी आकर हर व्यक्ति अभिभूत होता है। नया काशी सब कुछ दे रहा है। सरकार के साथ साथ संगठन के मार्गदर्शक के रूप में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना के दौरान 'सेवा ही संगठन' मंत्र दिया था। कोरोना महामारी के दौरान जनता-जनार्दन की सेवा करते हुए भाजपा संगठन और कार्यकर्ता सड़कों पर दिखाई दे रहा था।


'फिर एक बार मोदी सरकार' की अगुआई करेगी काशी

प्रधानमंत्री ने काशी से तीसरी बार नामांकन किया है। दस वर्ष में देश के अंदर सांस्कृतिक नवजागरण का जो अभियान चला है, काशी से आपका नामांकन इसे नई ऊंचाई तक ले जाने की प्रेरणा है। काशी से प्रधानमंत्री का नामांकन न केवल उप्र, बल्कि देशवासियों और उसकी आस्था का सम्मान है। आपके नामांकन पर काशी, उप्र, पूरा देश 'फिर एक बार मोदी सरकार' के स्वर के साथ पूरी मजबूती से खड़ा है। काशी का हर नागरिक, हर तबका इस अभियान के साथ जुड़ा है। विपक्ष की विभाजनकारी- विखंडनकारी नीतियों की बदौलत अफवाह, समाज को गुमराह व विभेद पैदा करने की नकारात्मक राजनीति को समाप्त करने के संकल्प के साथ पूरा देश नरेंद्र मोदी के यशस्वी नेतृत्व में तीसरी बार प्रचंड बहुमत से सरकार बनाएगा और काशी उसकी अगुआई करेगा।


कार्यकर्ता सम्मेलन में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी, केंद्रीय मंत्री व चंदौली से भाजपा प्रत्याशी डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय, मछलीशहर के सांसद व प्रत्याशी बीपी सरोज, क्षेत्रीय अध्यक्ष दिलीप पटेल, लोकसभा प्रभारी सतीश द्विवेदी, काशी के जिलाध्यक्ष व विधान परिषद सदस्य हंसराज विश्वकर्मा, महानगर अध्यक्ष विद्यासागर राय आदि पदाधिकारी मौजूद रहे।



 

अमेठी की बनी राइफल एके 203 से थर्राता है पाकिस्तान: सीएम योगी



- मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जगदीशपुर के अमेठी लोकसभा क्षेत्र में जनसभा को किया संबोधित


- सीएम बोले, आज अमेठी का गौरव है यहां पर बनने वाली दुनिया की सबसे आधुनिक राइफल


- बोले, अमेठी के लोग भूखे तो रह सकते हैं, लेकिन प्रभु श्रीराम के नाम के बिना नहीं रह सकते



अमेठी, 14 मई: आज अमेठी में दुनिया की सबसे अच्छी असॉल्ट राइफल क्लाशनिकोव एके 203 का निर्माण हो रहा है, जिसे रशिया के साथ मिलकर भारत तैयार कर रहा है। इसकी सौगात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेठीवासियों को दी है। अमेठी की राइफल एके 203 जब देश के जवानों के हाथों में होती है तो पाकिस्तान थर्राता है। आज यह अमेठी का गौरव है जबकि कांग्रेस और सपा के लोग यहां के नौजवानों के हाथों में तमंचे थमाती थी। ये बातें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को जगदीशपुर के अमेठी लोकसभा क्षेत्र में जनसभा को संबोधित करते हुए कही। इस दौरान उन्हाेंने लाेकसभा प्रत्याशी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के पक्ष में वोट की अपील की।


अमेठी को एक्सप्रेसवे से जोड़ा

सीएम योगी ने कहा कि वाराणसी में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रोड शो में जनता जनार्दन ने अभूतपूर्व स्वागत किया। यह तब होता है जब एक राष्ट्र नायक अपनी जनता जनार्दन के लिए सब कुछ समर्पित कर देता है। काशी की सड़कों पर लाखों लोग घंटों तक रोड शो का हिस्सा बने। प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए काशीवासी इसलिए उत्साहित थे क्योंकि पिछले 10 वर्षों में उन्होंने काशी को पहले से ज्यादा दिव्य और भव्य बना दिया है। उन्होंने काशी को चमका कर रख दिया है। वहीं अमेठी ने भी अपना प्रधानमंत्री चुना था, लेकिन उन्होंने इसे एक जिला मुख्यालय तक नहीं दिया। इतना ही नहीं कनेक्टिविटी के लिए फोर लेन तक नहीं दी। इसी अमेठी को लोकसभा प्रत्याशी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के आग्रह पर एक्सप्रेस-वे से जोड़ा गया ताकि यहां के नौजवानों को रोजगार मिल सके। साथ ही औद्योगिक क्षेत्र विकसित हो सके।


रामलला के दर्शन से मना किया तो रायबरेली विधायक मनोज पांडेय ने तोड़ा पार्टी से नाता

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज अमेठी में मेडिकल कॉलेज, जिला मुख्यालय, पुलिस लाइन, डिस्ट्रिक्ट कोर्ट का निर्माण भारतीय जनता पार्टी कर रही है जबकि पहले लोग सिर्फ वोट के लिए यहां आते थे। इतना ही नहीं डबल इंजन की सरकार पेशेवर गुंडों और अपराधियों का भी इलाज कर रही है। सीएम ने कहा कि यह अवध क्षेत्र है, जहां लोग भूखे तो रह सकते हैं, लेकिन प्रभु श्रीराम को नहीं भूल सकते हैं। श्रीराम तो आपके रोम-रोम में बसते हैं। वहीं पहले जिनको आप चुनते थे, वही प्रभु राम को नकारते थे, अपमानित करते थे और उनके बारे में अनर्गल टिप्पणी करते थे। यह आपके ही वोट से देश में सरकार बनाते थे और यहां से निकलने के बाद अमेठी वासियों को बुरा भला कहते थे। वहीं अमेठी की जनता ने रामलला पर हमला कराने वालों को जवाब दिया और आज उनकी चुनी मोदी सरकार ने 500 वर्षों के इंतजार के बाद अयोध्या में दिव्य, भव्य रामलला का मंदिर बना दिया है। सीएम योगी ने अमेठी की जनता से आग्रह किया कि इस बार फिर उन लोगों को करारा जवाब देना है, जो सिर्फ वोट के लिए आते हैं। वहीं चुनाव खत्म होते ही भूल जाते हैं। उन्होंने अमेठी से लिया तो बहुत कुछ है, लेकिन देने के नाम पर शून्य रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सपा ने जब रामलला के दर्शन से अपने विधायकों को मना किया तो रायबरेली के विधायक मनोज पांडेय ने विद्रोह कर दिया और पार्टी से नाता तोड़ लिया। उन्होंने कहा कि हमारा प्रभु श्रीराम से जन्म जन्मांतर का संबंध है, हम प्रभु श्रीराम को नहीं छोड़ सकते हैं।


मोदी सरकार ने पूर्व पीएम राजीव गांधी की पीड़ा का किया समाधान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी कहते थे कि वह जनता के लिए 1 रुपया भेजते थे, लेकिन उन तक 15 पैसा ही पहुंचता था। बाकी 85 पैसा कांग्रेस के गुंडे और दलाल खा जाते थे। यह उनकी पीड़ा थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उसी पीड़ा का समाधान कर दिया है। उन्होंने हर गरीब का खाता खुलवाया, जिसमें डबल इंजन की सरकार की ओर से भेजा गया पैसा सीधे खाते में जाता है। एक तरफ गरीबों के लिए काम करने वाली मोदी सरकार है और दूसरी तरफ कांग्रेस, सपा के लोग हैं, जो श्रीराम का विरोध करते हैं। वह पाकिस्तान का विरोध करते हैं और कहते हैं कि उनके पास एटम बम है। सीएम ने कहा कि हमारे पास उससे पावरफुल एटम बम है, वह फ्रिज में रखने के लिए नहीं है। हम छेड़ेंगे नहीं, लेकिन अगर कोई छेड़ेगा तो छोड़ेंगे भी नहीं। उन्होंने कहा कि पीओके में लगातार तीन दिनों से हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे लग रहे हैं। इसके बाद भी कांग्रेसी और समाजवादी पार्टी के लोग पाक का समर्थन कर रहे हैं। इन्हे पाकिस्तान में जाकर रहना चाहिये। इन्हे हिंदुस्तान के लोगों के जीवन पर बोझ बनकर रहने की जरुरत नहीं है।


इस अवसर पर प्रदेश सरकार के मंत्री मयंकेश्वर शरण सिंह, विधायक सुरेश पासी, पूर्व विधायक तेजभान सिंह, विधान परिषद सदस्य शैलेंद्र प्रताप सिंह, पूर्व जिलाध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी, जिला महामंत्री राकेश त्रिपाठी आदि उपस्थित थे।



 

पाकिस्तान समर्थक जान लें, हमारे एटम बम फ्रिज में रखने के लिए नहींः योगी




मुख्यमंत्री ने फैजाबाद के सांसद व भाजपा प्रत्याशी लल्लू सिंह के लिए मांगा वोट


दोनों लड़के जीते तो मिलकर लूटेंगे और हारेंगे तो फिर टूटेंगेः सीएम


प्रभु श्रीराम के दर्शन करने से आपकी दुआ का सर्वाधिक सौभाग्य मोदी जी और मुझे मिल रहाः योगी


योगी आदित्यनाथ ने सपा-कांग्रेस की नीतियों व नेताओं को खूब धोया


बाराबंकी, 14 मईः इस देश में रामभक्त और रामद्रोही हैं। रामभक्त राम मंदिर से उत्साहित हैं तो रामद्रोही नाखुश हैं। रामभक्तों पर गोलियां चलाने वाले यह लोग कहते हैं कि राम मंदिर बेकार है। मोदी का विरोध सिर्फ रामद्रोही और पाकिस्तान ही कर रहे हैं। रामभक्त ही राष्ट्रभक्त हैं। वे भारत के उत्थान के बारे में सोचते हैं तो रामद्रोही पाकिस्तान का राग अलाप रहे हैं। वे कहते हैं कि पाकिस्तान के खिलाफ मत बोलो-उसके पास एटम बम है। पाकिस्तान समर्थक रामद्रोही जान लें कि हमारे पास भी एटम बम है, हमारा एटम बम फ्रिज में रखने के लिए नहीं बना है। यह लोग एक तरफ एटम बम की धमकी से भारत के दुश्मनों का उत्साह बढ़ा रहे हैं तो दूसरी तरफ राम मंदिर का विरोध कर राम को अपमानित कर रहे हैं।


सपा-कांग्रेस पर बरसते हुए यह बातें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहीं। फैजाबाद के सांसद व भाजपा प्रत्याशी लल्लू सिंह के लिए दरियाबाद रेलवे स्टेशन के पास मैदान में मंगलवार को जनसभा में योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस-सपा की नीतियों और नेताओं को खूब धोया। बोले कि रामद्रोही नाखुश हैं। वे कहते हैं कि राम मंदिर बेकार है, यह राम भक्तों पर गोलियां चलाते थे। इनके समय में जन्मभूमि पर आतंकी हमला होता था और आतंकियों पर दायर मुकदमे वापस लिए जाते थे।


आपकी दुआओं का सर्वाधिक सौभाग्य मोदी जी और मुझे मिलता है

सीएम ने कहा कि रामलला के विराजमान होने में अयोध्या के आमजन का बड़ा योगदान है, क्योंकि आपके वोट के बल पर मोदी जी को ताकत मिलती है। विदेशी आक्रांताओं ने हमारी आस्था से खिलवाड़ कर अयोध्या में रामलला के मंदिर को क्षतिग्रस्त कर गुलामी के ढांचे को स्थापित किया था, लेकिन आपके वोट की बदौलत इसे हटाने और मंदिर बनाने की ताकत मिली। 22 जनवरी को जब 500 वर्ष का इंतजार समाप्त हुआ और प्रभु रामलला अपने दिव्य-भव्य मंदिर में विराजमान हुए। आपके दर्शन करने से प्रभु श्रीराम के आशीर्वाद का सर्वाधिक सौभाग्य मुझे और मोदी जी को प्राप्त होता है, क्योंकि आप की दुआ हमें लगती है। अब अयोध्या में लाखों का जनसैलाब दर्शन करने उमड़ रहा है।


श्रीराम को खुद साक्ष्य जुटाना पड़ा

सीएम ने कहा कि भारत में शासन की सबसे अच्छी व्यवस्था रामराज्य मानी गई। फिर भी ऐसे कौन लोग थे, जिनकी वजह से रामलला को उनकी जमीन से वंचित किया गया। विडंबना है कि स्वतंत्र भारत में 70 वर्षों तक कहना पड़ा कि अयोध्या धाम राम की जन्मभूमि है। यहां मंदिर बनना चाहिए। हमें प्रमाण और श्रीराम को खुद साक्ष्य जुटाना पड़ा। यह परिस्थिति उन लोगों ने पैदा की, जो राम मंदिर बनने से प्रसन्न नहीं हैं। आपने लल्लू सिंह को वोट दिया तो मोदी जी प्रधानमंत्री बने और सतीश शर्मा को वोट दिया तो मैं मुख्यमंत्री बना। आपकी वजह से रामभक्त सत्ता में आए तो रामलला विराजमान हुए।


एयरपोर्ट महर्षि वाल्मीकि तो भोजनालय मां शबरी के नाम पर बने

सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या का अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट त्रिकालदर्शी महर्षि वाल्मीकि के नाम पर बना। गरीबों के लिए बने भोजनालय माता शबरी के नाम पर हैं। आश्रय स्थल निषादराज के नाम पर हैं। विकास के अनेक कार्य हुए। यहां एयरपोर्ट, भव्य रेलवे स्टेशन व फोरलेन-सिक्सलेन सड़के हैं। पहले माफिया हावी होते थे। अब उनका राम नाम सत्य हो रहा है। हमें रामराज्य की परिकल्पना को साकार करना है तो इसके लिए भारत को आत्मनिर्भर व विकसित बनाना है।


लल्लू सिंह को पिछले बार से दोगुने से अधिक वोट से जीत दिलानी है

सीएम ने अपील की कि जो राम को लाए हैं, कमल पर बटन दबाकर आप उनको लाएंगे। सीएम ने 20 मई को अधिक से अधिक मतदान कर लल्लू सिंह को कमल के फूल पर बटन दबाकर पिछली बार से दोगुने वोट से जिताने का संकल्प दिलाया। बोले तब मेहनत सार्थक होनी चाहिए अन्यथा कांग्रेस व सपा के लोग पहले से ही हमें कठघरे में खड़ा करते हैं। मोदी जी ने बिना चेहरा देखे सबका विकास किया है। अयोध्या में महाराजा राजर्षि दशरथ के नाम पर मेडिकल कॉलेज भी बन गया। जो कभी नहीं हुआ, वह मोदीराज में हुआ है। दोनों लड़के (राहुल-अखिलेश) झूठ बोलकर गुमराह कर रहे हैं। यह जीते तो मिलकर लूटेंगे और हारेंगे तो टूटेंगे।


रामलला के विराजमान होने का पुण्य सपा-कांग्रेस को वोट देकर न खोना

सीएम ने कहा कि महाराज दिलीप ने गोमाता को बचाने के लिए शेर के सामने अपना शरीर प्रस्तुत कर दिया था। वहीं इंडी गठंबधन कहता है कि हमारी सरकार बनी तो अल्पसंख्यकों को रूचि के अनुसार खानपान की छूट देंगे। बहुसंख्यक समाज कहता है कि गो हमारी माता है, इसकी हत्या स्वीकार नहीं करेंगे लेकिन बहुसंख्यक समाज को चिढ़ाने के लिए अल्पसंख्यक गोमांस खाते हैं। सीएम ने कहा कि हमें रामलला के विराजमान होने का पुण्य मिला है, सपा-कांग्रेस को वोट देकर पाप का भागीदार नहीं बनना है।


इस अवसर पर फैजाबाद के सांसद व प्रत्याशी लल्लू सिंह, दरियाबाद विधायक व प्रदेश सरकार के खाद्य व रसद राज्यमंत्री सतीश चंद्र शर्मा, विधायक दिनेश रावत, विधान परिषद सदस्य अंगद सिंह,भाजपा जिलाध्यक्ष अरविंद कुमार मौर्य, जिला प्रभारी अवनीश सिंह, क्षेत्रीय उपाध्यक्ष राजीव मिश्र, पूर्व सांसद बैजनाथ रावत आदि मौजूद रहे।

79 views0 comments

Comments


bottom of page