google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

यूपी में दंगा भड़काना चाहती है पीस पार्टी, हिंदू देवी देवताओं की आपत्तिजनक पोस्ट, नेता अरेस्ट



पीस पार्टी अपने नाम के उलट उत्तर प्रदेश में अशांति और दंगे फैलाने की हर कोशिश कर रही है। बहराइच में पीस पार्टी के जिला अध्यक्ष मोहम्मद शकील ने फेसबुक पर अभद्र टिप्पणी की थी। जिसके बाद आरएसएस और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने नगर कोतवाली में शकील के खिलाफ नामजद तहरीर दी थी। जिसके बाद पुलिस ने एक्शन लेते हुए पीस पार्टी के जिला अध्यक्ष मोहम्मद से को गिरफ्तार कर लिया है और आगे की विधिक कार्रवाई कर रही है।


पीस पार्टी उत्तर प्रदेश में शांति भंग करना चाहती है। इस पार्टी का अध्यक्ष है डा. अयूब। जिसे कुछ दिन पहले विवादित पर्चे बंटवाने के आरोप में गोरखपुर से गिरफ्तार किया गया। अयूब पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत कार्रवाई हुई है।



अयूब की गिरफ्तारी के बाद अब उसके गुर्गे प्रदेश की कानून व्यवस्था बिगाड़ने की मुहिम में लग गए हैं। इस संबंध में जानकारी देते हुए सीओ सिटी कहा कि सोशल मीडया पर पीस पार्टी के जिला अध्यक्ष मोहम्मद शकील खान ने फेसबुक के माध्यम से हिंदू देवी देवताओ पर अप्पतिजनक टिप्पड़ी वा पोस्ट किए गए थे। उन्होंने कहा कि प्रकरण के संज्ञान में आने पर उक्त शकील अहमद खान पर नगर कोतवाली में मुकदमा अपराध संख्या 268/ 20 धारा 353 A 295 A वा आई टी एक्ट की धारा 67 का अभियोग पंजीकृत करते हुए आरोपी शकील खान को जेल रवाना किया गया है।



इससे पहले गोरखपुर पुलिस ने धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में डॉ. अयूब को उसके नर्सिंग होम से गिरफ्तार किया था और लखनऊ पुलिस को सौंप दिया था। दरअसल डॉ. अयूब ने लखनऊ में विवादित विज्ञापन दिया था और मजहबी पर्चे बंटवाए थे। पुलिस के मुताबिक, पर्चों में लिखी बातें बेहद भड़काऊ थीं जिससे धार्मिक भावनाएं भड़क सकती थीं।

लखनऊ के हजरतगंज थाने में धारा 153(ए), 505(2) आईपीसी और आईटी ऐक्ट के तहत केस दर्ज किया गया था। डा. अयूब कहने को एक सर्जन डाक्टर है लेकिन पेशे की आड़ में ना सिर्फ मजहबी और धार्मिक भावनाएं भड़काता है बल्कि देशद्रोह के मामलों में गिरफ्तारी से इस बात में संदेह नहीं है कि अयूब और पीस पार्टी के झंडे तले चल रहा उसका गैंग देशविरोधी ताकतों के हाथ में खेल रहा है।


टीम स्टेट टु़डे




303 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0