google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

राष्ट्रीय युवा दिवस की पूर्व संध्या पर काव्य पाठ-एकल अभियान



लखनऊ, 11 जनवरी 2023 : स्वामी विवेकानन्द प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर के माँ सरस्वती की वन्दना के द्वारा कार्यक्रम का प्रारम्भ हुआ अनेको कवियो ने अपनी कविताओं की प्रस्तुती रखी एवं आगामी होने वाले एकल की राष्ट्रीय खेल- कूद समारोह के आयोजन की सफलता के लिए संयोजक मनोज मिश्रा ने चर्चा की ।

इसी श्रृंखला में माधवेंद्र सिंह का उद्बोधन प्राप्त हुआ जिसमे स्वामी विवेकानन्द के जीवन की एक घटना नारी एवं नर्तकी में अन्तर के दृष्टांक पर प्रकाश डालते हुए अवधी कवि रमई काका लखनऊ की कविता भी प्रस्तुत किया एवं सभी कवियों को सम्मानित किया गया। इस कार्यक्रम में राष्ट्रीय महामंत्री मानवेंद्र सिंह जी फ्यूचर के राष्ट्रीय अध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी फ्यूचर के राष्ट्रीय युवा प्रमुख संतोष कुमार डॉ. वीरेंद्र कुमार मीडिया संयोजक व पारिजात सिंह मीडिया सह संयोजक एवं अखिलेश्वर नाथ पाण्डेय अंचल अध्यक्ष के साथ एकल अभियान के विभिन्न सेवावर्ती एवं समिति के कार्यकर्ता उपस्थित रहे राष्ट्रीय युवा दिवस का मुख्य लक्ष्य भारत के युवाओं के बीच स्वामी विवेकानंद के आदर्शों और विचारों को फैलाना है।

इस चयन प्रक्रिया की विशेषता यह थी कि पूरे देश मे प्रत्येक प्रतियोगिता में 1 लाख खिलाड़ियों ने सहभागिता की जिसमें से राष्ट्रीय स्तर पर 1 खिलाड़ी चयनित हुआ, विभिन्न प्रतियोगितों के माध्यम से कुल 32 खिलाड़ियों की टीम बन सकी इस आधार पर यह कहा जा सकता है कि हमारा राष्ट्रीय स्तर का प्रत्येक खिलाड़ी लाखों मे एक है।

आयोजन स्थल व सम्मिलित खिलाड़ी-

स्तर कार्यक्रम संख्या चयनित खिलाड़ी संख्या

ग्राम स्तर 100000 32,00,000

संच स्तर 3297 1,05,504

अंचल स्तर 327 10,464

सम्भाग स्तर 27 864

राष्ट्रीय स्तर 1 32

परिवर्तन की लहर-ग्राम स्तर पर देश भर मे फैले एकल विद्यालयों के आचार्यों व ग्राम समिति के माध्यम से एक पंचायत के 4-5 गाँवों के 06 वर्ष से 14 वर्ष उम्र तक के खिलाड़ियों के मध्य खेल समारोह का आयोजन जब सम्पन्न हुआ, तो ग्रामवासी इस आयोजन के प्रति उदासीन दिखे। बहुत कम स्थानों पर ग्रामवासियों ने इन आयोजनों मे उपस्थिति दर्ज की। किन्तु गाँव के खेल समारोह मे प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले खिलाड़ियों को जब संच स्तरीय खेल समारोह मे सम्मिलित होने कि लिए अपने अभिभावकों के साथ आना अनिवार्य किया गया तब इसका परिणाम यह हुआ कि संच स्तर पर आई हुई 30 टीम के 960 खिलाड़ियों के अभिभावकों की उपस्थिति के कारण समारोह स्थल ने उत्सव का रूप ग्रहण कर लिया। अधिकांश अभिभावक अपने-अपने खिलाड़ी की देख-रेख करते हुए उसके उत्साहवर्धन मे लगे हुए दिख रहे थे। इन खिलाड़ियों के गाँव मे वापस जाते ही देश भर के एक लाख गाँवों मे एक विशेष प्रकार का वातावरण निर्मित हुआ कि एक ओर जहाँ खिलाड़ियों के स्वागत का क्रम चल रहा था, वहीं दूसरी ओर आगामी स्तर के खेल समारोह मे उन्नत प्रदर्शन की अपेक्षा हेतु कठोर अभ्यास का क्रम दिखाई पड़ रहा था। गाँवों मे एकल विद्यालय के आचार्यों की भूमिका बदल चुकी है। ग्रामवासियों को उनके प्रति देखने का दृष्टिकोण भी बदला-बदला सा दिख रहा है।

भविष्य की आषाः-विभिन्न स्तर पर आयोजित खेल समारोहों को जिस प्रकार से समाचार माध्यमों की आत्मीयत मिली, समाचार पत्रों मे खेल पृष्ठ पर सम्मानजनक कवरेज मिला, समाज के अतिविशिष्ट जनों ने इन समारोहों मे हमारा अतिथ्य स्वीकार कर हमारे खिलाड़ियां को आशीर्वाद प्रदान किया, इसके कारण विभिन्न प्रदेशों में स्थित सरकारी खेल विभाग के प्रशिक्षकों ने वनवासी खिलाड़ियों की प्रतिभा को देखकर अपने तन्त्र के माध्यम से इन प्रतिभाओं को निखारने हेतु जैसा आश्वासन दिया है, उसे देखकर अब यह आशा जगी है कि एकल अभियान का अभ्युदय यूथ क्लब राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर वनवासी खिलाड़ियों को पहुँचाने में निश्चित ही सफल हो सकेगा।

शहीदों को भावपूर्ण श्जलि :-जम्मू कश्मीर मे राजौरी के निकट स्थित एकल विद्यालय ग्राम अपर डांगरी (ककरा) में 01 जनवरी 2023 को पाकिस्तानी आतंकवादियों द्वारा जो मानवता की हत्या करने का कार्य किया गया है। वह अत्यन्त निन्दनीय है। उनके इस हमले में एकल विद्यालय की आचार्या सरोज के सुपुत्र दीपक सहित 4 ग्रामवासी शहीद हो गये और उनका छोटा बेटा प्रिंस सहित 7 ग्रामवासी गम्भीर रूप से घायल हो गये उसी स्थान पर आतंकवादियों द्वारा 2 प्म्क् लगा रखी थी जिसमें 02 जनवरी 2023 को प्रातः 11 बजे विस्फोट हो गया। जिसमें बहन सरोज के देवर के 2 बच्चे शहीद हो गये।

एकल अभियान के समस्त कार्यकर्ता परमपिता परमेश्वर से प्रार्थना करते हैं कि शहीद आत्माओं को चिर शान्ति तथा शोक सन्तप्त परिवारों को इस दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करे। एकल अभियान प्रत्येक परिस्थिति मे वीरमाता सरोज के परिवार के साथ है।


15 views0 comments

Comments


bottom of page