google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

प्रियंका ने योगी को चिट्ठी लिखकर उसकी कफील की रिहाई मांगी है जिस पर हैं गंभीर आरोप



डॉक्टरी पेशे को बदनाम करने वाला गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में मासूम बच्चों की मौत के आरोपी डॉ.कफील खान फिलहाल जेल में है। सिर्फ इतना ही नहीं नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करते हुए कफील खान ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में भड़काऊ भाषण भी दिया था। जिसके बाद उसे देशविरोधी गतिविधियों में लिप्त पाया गया और पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। फिलहाल कफील खान मथुरा जिला कारागार में बंद हैं।

अब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने डॉ कफ़ील खान की रिहाई के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है।



सीएम योगी को लिखी चिट्ठी में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने लिखा है कि डॉक्टर कफ़ील खान अब तक लगभग 450 दिन से ज्यादा जेल में गुजार चुके हैं। डॉ कफ़ील ने कठिन परिस्थितियों में निःस्वार्थ भाव से लोगों की सेवा की है। मुझे उम्मीद है कि आप अपनी संवेदनशीलता का परिचय देते हुए डॉ कफ़ील को न्याय दिलवाने का पूरा प्रयास करेंगे।

पत्र के अंत में उन्होंने गुरु गोरखनाथ जी की सबदी का हवाला देते हुए लिखा है कि आपको मेरे इस निवेदन को मानने के लिए ये पंक्तियां प्रेरित करेंगी-

मन में रहिणाँ, भेद न कहिणाँ

बोलिबा अमृत वाणी

अगिला अगनी होईबा

हे अवधू तौ आपण होईबा पाणीं

पत्र में इन पंक्तियों का भावार्थ लिखा है कि किसी से भेद न करो, मीठी वाणी बोलो। यदि सामने वाला आग बनकर जला रहा है तो हे योगी तुम पानी बनकर उसे शांत करो।


टीम स्टेट टुडे



19 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0