google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

प्रियंका गांधी क्यों बोलीं, कहां बोलीं - "मर जाऊंगी पर बीजेपी के साथ कभी नहीं मिलूंगी"



परिवर्तन, प्रतिज्ञा, प्रगति के गगनभेदी जयघोष के साथ अध्यात्म व क्रांति की भूमि गोरखपुर में हुई कांग्रेस की प्रतिज्ञा रैली
प्रतिज्ञा रैली में उमड़े जनसैलाब को प्रियंका गांधी ने किया सम्बोधित
प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के विज्ञापनों में दिखाए गए विकास के कही दर्शन नहीं हुए-प्रियंका गांधी
नाव और नदी का अधिकार सरकार ने निषादों से छीना-प्रियंका गांधी
महिलाओं को मुफ्त बस यात्रा की सुविधा के साथ सभी प्रतिज्ञायें पूरी करेंगे-प्रियंका गांधी
उत्तर प्रदेश में किसानों की सुनवाई नही, सरकार कर रही प्रताड़ित-प्रियंका गांधी
दलित, पिछड़े व ब्राह्मणों को प्रताड़ित किया सरकार ने भाजपा सरकार की आग में जनता जल रही है-प्रियंका गांधी


इंदिरा गांधी की शहादत दिवस व लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती पर गोरखपुर के चम्पादेवी पार्क में आयोजित रैली में ‘‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’’ के नारे से भाषण की शुरुआत करते हुए कांग्रेस की प्रभारी राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने ऐलान किया कि वे मर जायेंगी लेकिन बीजेपी से कभी नहीं मिलेंगी।



समाजवादी पार्टी की ओर से कांग्रेस और बीजेपी को एक बताने को हास्यास्पद बताते हुए उन्होंने कहा कि विपक्ष जनता के मुद्दों पर संघर्ष से गायब है। सिर्फ कांग्रेस पार्टी के लोग आरएसएस और बीजेपी से समझौताहीन संघर्ष कर रहे हैं।



उन्होंने उत्तर प्रदेश के उम्भा में आदिवासियों के नरसंहार, प्रयागराज में निषादों के उत्पीड़न, हाथरस, उन्नाव, शाहजहांपुर में बेटियों के साथ अन्याय, लखनऊ के विवेक तिवारी के साथ अन्याय, महोबा के व्यापारी इन्द्रकांत सहित गोरखपुर में कानपुर के व्यापारी मनीष गुप्ता की हत्या का ज़िक्र करते हुए कहा कि यूपी में अन्याय और कुशासन चरम पर है। लखीमपुर में किसानों व पत्रकार की मंत्री पुत्र द्वारा की गई हत्या का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि देश के गृहमंत्री कहते हैं कि उत्तर प्रदेश में दूरबीन से ढूंढने पर भी अपराधी नहीं मिलतें हैं, पर अपराधी तो उनके बगल में बैठे थे। ललितपुर में खाद के लिये लाइन में लगे गरीब किसानों की मौत व दो किसानों की आत्महत्या के बाद भी सरकार मौन है।



प्रियंका गांधी ने प्रतिज्ञा रैली में उमड़े जनसैलाब को सम्बोधित करते हुए कहा कि सरकार ने नाव, नदी पर निषादों के अधिकार को छीन लिया है। हम मछली पालन को कृषि का दर्जा देकर उनकों कृषकों के समान सुविधाएं देंगे, खनन में निषाद समुदाय को प्राथमिकता देंगे और गुरु मछेन्द्रनाथ के नाम पर विश्वविद्यालय की स्थापना करेंगे।

उन्हांनें कहा कि पूर्वांचल की चीनी मिलों को सपा-बसपा के राज में बंद किया गया। महिलाओं पर अत्याचार, अन्याय उत्पीड़न हो रहा है, उनको कही न्याय नहीं मिल रहा है, लेकिन हम महिलाओं के सशक्तीकरण के लिये काम करेंगे। अपनी प्रतिज्ञाओं को दोहराते हुए उन्होंने कहा कि महिलाओं के लिये लड़ूंगी, आपको शक्ति दूंगी, आप हमारा साथ दीजिये। मैं आपके लिये लड़ूंगी, मर जाऊंगी लेकिन कभी झुकूंगी नहीं। उन्हांनें कहा कि प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के विज्ञापनों में दिखाए गए विकास के कही दर्शन अभी तक नही हुए। उन्होंने कहा कि यूपी में किसानों की सुनवाई नही हो रही है। धान और गन्ने के दाम को लेकर बीजेपी सरकार के तमाम दावे खोखले साबित हुए हैं। उन्होंने कहा कि जनता को अन्याय, अत्याचार से बचना मेरा धर्म है मेरी आस्था जनता और देश के प्रति है। कांग्रेस का एक-एक कार्यकर्ता इंदिरा जी की तरह जनता व देश के प्रति अपने शरीर का एक-एक कतरा खून कुर्बान करने को तैयार है।


प्रियंका गांधी ने कबीर दास का उल्लेख करते हुए कहा कि भाजपा महंगाई बढाकर जनता को लूटकर अपने पूंजीपति मित्रों की जेब मे धन डाल रही है। देश मे प्रति व्यक्ति आय 27 रुपये है। प्रधानमंत्री के मित्र प्रतिदिन हजार करोड़ कमा रहें हैं। असमानता बढ़ती जा रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार बनने पर प्रतिवर्ष तीन घरेलू रसोई गैस सिलेंडर मुफ्त देगी। आज हज़ार रुपये के करीब सिलेंडर हो गया है जिसने जनता का दीवाला निकाल दिया है। उन्हांनें कहा कि 70 सालों की मेहनत के बल पर हासिल विकास को सात सालों में गंवा देने वाली भाजपा सरकार में प्रतिदिन 3 युवा बेरोजगार आत्महत्या करने को विवश है। अपराधियो का तांडव खुलकर चल रहा है। गोरखपुर में गरीब रेहड़ी पटरी दुकानदारों के साथ झोपड़ियों पर योगी का बुलडोजर चल रहा है। नासूर बन चुकी जलभराव की समस्या मुख्यमंत्री के शहर का विकास मॉडल बन चुका है क्या?



प्रियंका गांधी ने कहा कि जनता आस्था व्यक्त कर नेताओं के प्रति विश्वास व्यक्त करती है, वादा तोड़ने वाले नेताओं से सवाल पूछना जनता का हक है और ऊन्हें पूछना चाहिए। यह परिवर्तन के बदलाव का समय है, उन्होंने महिलाओं से मुखातिब होते हुए कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने पर महिलाओं की बसों में यात्रा मुफ्त होगी। वही आंगनबाड़ी व आशा बहुओं को न्यूनतम 10 हजार मानदेय दिया जायेगा। उन्होंने विश्वास जताया कि गुरु गोरखनाथ, बुद्ध, कबीर की धरती से परिवर्तन की लहर पूरे उत्तर प्रदेश में दया, करुणा समता, ममता के लिये बहेगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार बनने पर सभी प्रतिज्ञाओं को पूरा करना हमारा प्रण है हम उस वचन को निभाएंगे।



रैली को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद, आरपीएन सिंह, पूर्व सांसद कमल किशोर कमांडो, जितेंद्र सिंह, पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी, अखिलेश प्रताप सिंह, इमरान प्रतापगढ़ी, वीरेंद्र चौधरी, विश्वविजय सिंह सहित अनेक नेताओं ने सम्बोधित किया।


टीम स्टेट टुडे



13 views0 comments

Comments


bottom of page