google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

सड़क सुरक्षा में सीएम ने मांगा सबका सहयोग, कहा-जनहानि रोकने में सामूहिक प्रयास की जरूरत


कानपुर, 2 अक्टूबर 2022 : मुख्यमंत्रीयोगी आदित्यनाथ नेकहा है किसड़क सुरक्षा नियमोंका पालन करकेजनहानि को रोकनेके लिए सामूहिकप्रयास की जरूरतहै। इसके लिएआमजन, सरकार औरमीडिया को आगेआना होगा। स्कूलकालेजों और संस्थाओंमें जागरूकता कार्यक्रमचलाए जाएं। जोवाहन जिस कार्यके लिए हैं, उनका इस्तेमाल उसकेलिए ही कियाजाए। कानपुर केघाटमपुर में हुएहादसे में 26 महिलाओंव बच्चों तथाचकेरी में हाईवेपर हुए हादसेमें पांच लोगोंकी मौत काजिक्र करते हुएउन्होंने दुख जताया।एलएलआर अस्पताल में भर्तीघायलों से मिलकरहाल जाना औरअफसरों को दिशानिर्देश भी दिए।

दुख कीघड़ी में सरकारआपके साथ

उनका हेलीकाप्टररविवार की दोपहर 12:58 बजे पुलिस लाइन हेलीपैडपर उतरा औरवह यहां सेसीधे एलएलआर अस्पतालपहुंचे। सीएम नेएलएलआर हैलट अस्पतालकी इमरजेंसी मेंभर्ती घायलों सेमुलाकात की।पीड़ितों से उन्होंनेशोक संवेदना भीव्यक्त की। बोले, घबराएं मत। दुखकी इस घड़ीमें सरकार आपकेसाथ है।

मृतकों को राहतकोष दिए दो-दो लाखरुपये

इमरजेंसी वार्ड सेबाहर आने केबाद सीएम पत्रकारोंसे वार्ता मेंकहा कि अस्पतालमें भर्ती साढ़के कोरथा औरचकेरी के अहिरवांमें सुबह हुईदुर्घटना के घायलऔर उनके परिजनोंसे मिला हूं।दोनों घटनाओं केसभी मृतकों कोराहत कोष सेदो लाख रुपयेऔर घायलों को 50 हजार रुपये दिए गएहैं। कहा, घायलोंका इलाज तत्परतासे किया जारहा है। सरकारने ऐसी घटनाओंको रोकने केलिए समय समयपर कार्यक्रम चलाएहैं।

प्राथमिकता में हैसड़क सुरक्षा

उन्होंने राष्ट्रपति औरप्रधानमंत्री समेत सभीमहत्वपूर्ण लोगों की संवेदनाओंके बारे मेंभी बताया। पीएमरिलीफ फंड सेमिली मदद कीजानकारी दी। कहा, अंतिम संस्कार कीप्रक्रिया पूरी होनेके बाद पीड़ितोंको मदद राशिदी जाएगी। उन्होंनेकहा कि सड़कसुरक्षा सरकार की प्राथमकितामें है। चिंताका विषय हैकि सड़क दुर्घटनाओंमें कई जानेंजाती हैं, इसेदेखते हुए परिवहनविभाग जागरूकता लानेका कार्य करें।उन्होंने अपील करतेहुए कहा किटै्क्टर ट्राली जिस कार्यके लिए हैउसमें ही प्रयोगमें लाएं।

स्कूल-कालेजों औरविभागों में चलेंजागरूकता अभियान

उन्होंने सड़क सुरक्षाको लेकर स्कूलकालेज से लेकरमहत्वपूर्ण संस्थानों और विभागोंको जोड़कर जागरूकताअभियान चलाने के निर्देशदिए। सड़क दुघटनाओंसे हो रहीमौतों को लेकरसरकार जागरूकता कार्यक्रमचलाएगी और तेजीसे आगे बढ़ाएगी। इसकेलिए गृह मंत्रालयशिक्षा मंत्रालय सहित अन्यविभागों को सुबहही निर्देशित कियाजा चुका है।

सड़क सुरक्षाको लेकर मीडियाभी करे जागरूक

उन्होंने कहा किउत्तर प्रदेश केसभी स्कूलों मेंसड़क सुरक्षा केप्रति जागरुकता अभियानचलाए जाएंगे। सभीघटनाएं दुखद हैंऔर पीड़ित परिवारोंके प्रति सरकारकी संवदेना है।उन्होंने मीडिया से भीअपील की सभीसड़क सुरक्षा नियमोंका पालन करें।

उनके साथविधानसभा अध्यक्ष सतीश महानाडीजीपी डीएस चौहानऔर प्रमख सचिवगृह संजय प्रसादभी मौजूद रहे।इमरजेंसी में पहुंचकरमुख्यमंत्री से घायलोंसे घटनाक्रम कीजानकारी ली। मुख्यमंत्रीकी फ्लीट केनिकलने से पहलेसरसैया घाट चौराहाका यातायात रोकदिया गया औरदूसरी ओर रानीघाट चौराहा कीओर से आनेवाला यातायात भीरोक दिया गयाथा। माना जारहा है किमुख्यमंत्री यहां सेड्योढ़ी घाट याकोरथा गांव जासकते हैं।

0 views0 comments
bottom of page