google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

शिक्षक दिवस पर पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह व जेपी नड्डी ने दी बधाई


नई दिल्ली, 5 सितंबर 2022 : भारत में हर साल 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है। इस दिन देश के प्रथम उप राष्ट्रपति डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन को याद किया जाता है। आज शिक्षक दिवस के अवसर पर पीएम मोदी ने बधाई दी। पीएम मोदी ने Teachers Day की बधाई। पीएम ने ट्वीट कर लिखा कि शिक्षक दिवस की बधाई, खासकर उन सभी मेहनती शिक्षकों को जो युवा मन में शिक्षा की खुशियां फैलाते हैं। मैं पूर्व राष्ट्रपति डॉ. राधाकृष्णन को भी उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।

अमित शाह ने किया सर्वपल्ली राधाकृष्णन को याद

आज शिक्षक दिवस के अवसर पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सभी गुरूओं को बधाई दी। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर लिखा कि शिक्षक अपने ज्ञान से न केवल बच्चों को शिक्षित कर उनके भविष्य को संवारता है बल्कि एक सशक्त राष्ट्र को आकार देने में भी अद्वितीय योगदान देता है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आगे लिखा कि प्रख्यात शिक्षाविद भारतरत्न डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी की जयंती पर उन्हें नमन व सभी परिश्रमी गुरुजनों को 'शिक्षक दिवस' की शुभकामनाएं।

जेपी नड्डा ने दी शिक्षक दिवस की बधाई

वहीं, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी शिक्षक दिवस की बधाई दी। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि पूर्व राष्ट्रपति व महान शिक्षाविद, भारत रत्न डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी की जयंती पर कोटिशः नमन। आप सभी को शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं। शिक्षा के महत्व को सर्वोपरि रखने वाले डॉ.राधाकृष्णन का आदर्श जीवन, सहज व्यक्तित्व, सेवाभाव आज भी हमें प्रेरित करता है।

डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन का आज ही के दिन हुआ था जन्म

भारत के प्रथम उप राष्ट्रपति डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन का आज के ही दिन 5 सितंबर, 1888 को तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई के तिरुमनी गांव में हुआ था। जब डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन देश के राष्ट्रपति बनें, तो कई छात्र उनसे मिलने पहुंचें। इस दौरान उन्होंने डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन पर शिक्षक दिवस मनाने की अनुमति मांगी। उस समय डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन मना नहीं कर सके और उन्होंने इजाजत दे दी। उसी समय से 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है।

0 views0 comments

Comments

Couldn’t Load Comments
It looks like there was a technical problem. Try reconnecting or refreshing the page.
bottom of page