google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

दो दिवसीय वाराणसी यात्रा पर पहुंचे उप राष्ट्रपति, गंगा आरती में हुए शामिल


वाराणसी, 15 अप्रैल 2022 : उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू परिवार के साथ दो दिवसीय काशी यात्रा पर शुक्रवार शाम छह बजकर पांच मिनट पर पहुंचे। अयोध्या से दर्शन-पूजन के बाद ट्रेन से बनारस रेलवे स्टेशन पहुंचे। ट्रेन कैंट स्टेशन स्थित प्लेटफार्म नंबर चार पर आई। शाम को गंगा आरती में शामिल हुए। स्‍टेशन पर वाराणसी पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश, मंत्री रविन्द्र जायसवाल, मेयर मृदुला जायसवाल, कैंट विधायक सौरभ श्रीवास्तव बनारस स्टेंशन स्वागत के लिए पहुंचे। स्‍टेशन परिसर में भरतनाट्यम, अयोध्या रामरथ फरवारी नृत्य, गाजीपुर का धोबिया नृत्य, बुंदेलखंड का राई लोकनृत्य के साथ कलाकारों ने उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू और यूपी के राज्‍यपाल आनंदी बेन पटेल का स्‍वागत किया।


गंगा आरती देखने के बाद उपराष्ट्रपति और उनका परिवार बरेका गेस्ट हाउस के लिए प्रस्थान किए।

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू अयोध्या से ब्रेजीडेंशियल स्पेशल ट्रेन से शाम 6 बजकर 5 मिनट पर बनारस स्टेशन पहुँचे। बनारस स्टेशन पर उतरे तो यहां बिछे रेड व ग्रीन कार्पेट पर मुख्यमंत्री के प्रतिनिधि के रूप में अगवानी रविंद्र जायसवाल ने किया । स्टेशन पर ही उनको डीएम,पुलिस कमिश्नर, मेयर मृदुला जायसवाल सहित अन्य उच्चाधिकारियों के मौजूदगी में गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। इसके बाद उपराष्ट्रपति ने बनारस स्टेशन की खूबसूरती को जी भर के निहारा व बाहर निकलते वक्त वेटिंग हाल में अर्धनारीश्वर के बीच से बहती जलधारा को देर तक निहारते रहे।उन्होंने वेटिंग हाल में लगी बनारस की पेंटिंग को भी निहारा।6 बजकर 14 मिनट पर बाहर निकले तो स्टेशन परिसर के सर्कुलेटिंग एरिया में उपराष्ट्रपति के स्वागत में अयोध्या का फरूवाई नृत्य, गाजीपुर का ढोलकिया नृत्य , बुन्देलखण्ड का राई लोकनृत्य व वाराणसी के लक्ष इवेंट के द्वारा भरत नाट्यम प्रस्तुत किया गया। उपराष्ट्रपति के आगमन को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था मुस्तैद रही।

पूर्व जारी कार्यक्रम में काल भैरव मंदिर में दर्शन नहीं जुड़ा था, अब यहां भी दर्शन-पूजन करेंगे। इसी के साथ पंडित दीनदयाल जंक्शन, मुगलसराय जाने का कार्यक्रम हटा दिया गया है। शुक्रवार को रात्रि प्रवास के बाद अगले दिन शनिवार को सुबह नौ बजे श्रीकाशी विश्वनाथ धाम पहुंचेंगे। दर्शन- पूजन करेंगे। इसके बाद काल भैरव मंदिर में मत्था टेकेंगे। तत्पश्चात, सुबह लगभग 11 बजे के करीब उप राष्ट्रपति पं. दीन दयाल उपाध्याय स्मृति स्थल, पड़ाव चंदौली जाएंगे। स्मृति स्थल पर माल्यार्पण के बाद लगभग साढ़े 12 बजे के करीब बीएलडब्ल्यू गेस्ट हाउस के लिए प्रस्थान करेंगे। गेस्ट हाउस में आराम करने के बाद शाम साढ़े चार बजे के करीब लाल बहादुर शास्त्री बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचेंगे। इसके बाद यहां से शमशाबाद हैदराबाद एयरपोर्ट के लिए प्रस्थान करेंगे।

एक पावर इंजन उपराष्ट्रपति स्पेशल ट्रेन को पायलट करता रहा। साथ ही वीवीआईपी ट्रेन के निकलने तक अयोध्या - वाराणसी रेल मार्ग को पूरी तरह से आरक्षित रहा। देश के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू के काशी आगमन के चलते रेलवे में सुरक्षा व्यवस्था पूरी तरह से मुस्तैद रही। उपराष्ट्रपति वैकेया नायडू अयोध्या में रामलला के दर्शन के बाद काशी का रुख रेल मार्ग से किया।

अयोध्या से वाराणसी की लगभग 190 किलोमीटर की दूरी पर पड़ने वाले हर रेलवे क्रासिंग पर आरपीएफ के साथ ही स्थानीय फोर्स की उपलब्धता रही। वहीं, परिचालन सुचारू रखने के लिए लखनऊ से बनारस तक पर्यवेक्षक की तैनाती कर रही। इस ट्रेन में दो पावर इंजन व दो रैक में उनके सुरक्षा कर्मी थे। इसके साथ छह रेक में उनका अपने प्रोटोकाल कुछ अधिकारी व अन्य रैक में परिवार के सदस्य शामिल रहे।

6 views0 comments

Comments


bottom of page