google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

यूपी कार्यकारिणी तथा फ्रंटल इकाई भंग करने के बाद सपा ने गठित किया 18 सदस्यीय दल



लखनऊ, 9 जुलाई 2022 : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की प्रदेश तथा जिला कार्यकारिणी और फ्रंटल संगठन भंग करने के बाद पार्टी ने कार्य संचालित करने के लिए 18 सदस्यीय दल गठित किया है। इसमें समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ भाजपा तथा बसपा को छोड़कर आए नेताओं को भी शामिल किया गया।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के सदस्यता अभियान को गति देने तथा पार्टी के अन्य कार्य की समीक्षा करने के लिए 18 सदस्यीय दल का गठन किया है। समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश में 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर बेहद गंभीर है। समाजवादी पार्टी ने जमीन स्तर पर संगठन को मजबूत करने के प्रयास में बड़े नेताओं को अभियान में लगाया है।

समाजवादी पार्टी ने सदस्यता अभियान को बढ़ाने के अभियान को गति देने के लिए गठित 18 सदस्यीय दल में पार्टी के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, विधान परिषद सदस्य स्वामी प्रसाद मौर्य, विधायक इंद्रजीत सरोज, विधायक रामअचल राजभर तथा विधायक महबूब अली को शामिल किया है। इनके साथ ही साथ पूर्व मंत्री नरेन्द्र वर्मा, पूर्व मंत्री दयाराम पाल, पूर्व मंत्री किरनपाल कश्यप, पूर्व मंत्री अरविंद सिंह गोप, पूर्व मंत्री रामआसरे विश्वकर्मा, पूर्व विधान परिषद सदस्य अरविंद कुमार सिंह, पूर्व विधान परिषद सदसय-नेता प्रतिपक्ष संजय लाठर, पूर्व विधान परिषद सदस्य शशांक यादव, पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष समाजवादी बाबा साहेब अम्बेडकर वाहिनी मिठाई लाल, पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष समाजवादी पार्टी शिक्षक प्रकोष्ठ प्रोफेसर बी पाण्डेय, पूर्व जिलाध्यक्ष समाजवादी पार्टी गाजीपुर राजेश कुशवाहा के साथ समाजवादी पार्टी कार्यालय उत्तर प्रदेश के केके श्रीवास्तव तथा डा. हरिश्चंद को पार्टी के व्यापक विस्तार की बड़ी जिम्मेदारी प्रदान की गई है।

1 view0 comments

Comments


bottom of page