google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

यूपी में जुमे की नमाज के बाद कई शहरों में हिंसक प्रदर्शन में अब तक 109 लोग गिरफ्तार


लखनऊ, 10 जून 2022 : पैगंबर पर टिप्पणी के विरोध और नुपुर शर्मा एवं नवीन कुमार जिंदल की गिरफ्तारी की मांग को लेकर शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद उत्तर प्रदेश के कई शहरों में मुस्लिमों ने उग्र प्रदर्शन किया गया। प्रयागराज, सहारनपुर, देवबंद, हाथरस और अंबेडकरनगर में हिंसक प्रदर्शन हुए। राज्य में अब तक पुलिस ने 109 लोगों की गिरफ्तारी की है।

उत्तर प्रदेश में हिंसक घटनाओं को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी असामाजिक तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। इन घटनाओं में पुलिस ने सहारनपुर से 38, प्रयागराज से 15, हाथरस से 24, अंबेडकरनगर से 23 मुरादाबाद से सात और फिरोजाबाद से दो असामाजिक तत्वों को गिरफ्तार किया है।

प्रयागराज के अटाला इलाके में जुमे की नमाज के बाद मुस्लिम पक्ष के लोगों ने पथराव किया, जिसमें कई लोगों को चोटें आईं। उपद्रवियों ने आक्रोशित भीड़ ने एक दुकान और बाइक को फूंकने के साथ पीएसी के ट्रक में भी आग लगा दी। मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने किसी तरह आग को काबू में किया। उपद्रवियों ने बम भी चलाए।

पुलिस ने स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए रबर की गोलियां और आसू गैस के गोले दागे। पथराव में आइजी व एक दर्जन पुलिसकर्मी घायल हो गए। मौके पर मौजूद डीएम ने लाठीचार्ज का आदेश दिया। बवाल पर काबू पाने के लिए पूरे जोन से फोर्स से बुलाई गई है। प्रतापगढ़ और कौशांबी से दो सीओ, दो इंस्पेक्टर, चार दारोगा, सौ-सौ सिपाही रवाना करने के साथ दोनों जिलों के एसपी भी प्रयागराज पहुंच गए।

हाथरस के कस्बा पुरदिलनगर में जुमे की नमाज के बाद मुस्लिम समुदाय के सैकड़ों लोगों ने जुलूस निकाला। जलेसर रोड अंबेडकर मूर्ति चौराहे पर नुपुर शर्मा का पुतला दहन किया। पुलिस पर भीड़ ने पथराव किया। इसमें एक पुलिसकर्मी घायल हो गया है। हाथरस में पुलिस ने बिना अनुमति के विरोध प्रदर्शन और नारेबाजी करने वाले आठ लोगों को हिरासत में लिया है।

अंबेडकरनगर में टांडा नगर के तलवापार में नमाज के बाद पुलिस पर पथराव कर दिया। यहां दर्जनभर लोगों को हिरासत में लिया है। लखनऊ में टीले वाली मस्जिद में जुमे की नमाज के बाद भीड़ चबूतरे पर खड़ी होकर मजहबी नारेबाजी करने के साथ नुपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग करने लगी। पुलिस अधिकारियों ने उन्हें सझाकर शांत कराया और कड़ी कार्रवाई की बात कहकर घर के लिए रवाना किया।

सहारनपुर में नमाज के बाद भीड़ जामा मस्जिद से पैदल घंटाघर पहुंची और हंगामा करने लगी। पुलिस ने भीड़ को वापस किया तो लोगों ने कई दुकानों पर पथराव कर दिया। इसमें एक युवक पत्थर लगने से चोटिल हो गया। पुलिस ने लाठी चार्ज कर भीड़ को खदेड़ा। यहां से कई लोगों को हिरासत में लिया है।

देवबंद की रशीद मस्जिद के बाहर कुछ युवकों ने नारेबाजी की और विरोध-प्रदर्शन किया। वहीं, बिजनौर में गुरुवार रात नजीबाबाद में लोगों को भड़काने के मामले में एसडीपीआइ के जिलाध्यक्ष समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। नगीना पुलिस ने भी एआइएमआइएएम जिलाध्यक्ष और एक कार्यकर्ता को गिरफ्तार किया है।

मुरादाबाद में दोपहर को जामा मस्जिद में जुमा की नमाज के बाद चौराहे पर जुटी भीड़ ने करीब डेढ घंटे तक प्रदर्शन किया। पुलिस ने लाठियां फटकार कर भीड़ को तितर-बितर किया। इसके बाद लोग फैजगंज चौकी पर जमा हो गए और वहां धरना पर बैठ गए। कुछ लोगों ने सपा सांसद डा. एसटी हसन के आवास पर भी जाकर नारेबाजी की। अधिकारियों ने समझाकर उन्हें वापस किया।

फिरोजाबाद में शहर से लेकर देहात तक मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में बाजार नहीं खुले। चूड़ी कारखानों में भी काम नहीं हुआ। शिकोहाबाद के मुहल्ला रुकनपुर में नाईयों वाली मस्जिद से नमाज के बाद जुलूस निकालने का प्रयास कर रही भीड़ को पुलिस ने खदेड़ दिया। फिरोजाबाद शहर में हाजीपुरा, जाटवपुरी और नालबंद चौराहे पर जमकर नारेबाजी हुई।

कासगंज के गंजडुंडवारा में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रखे। मैनपुरी में बंद कई दुकानों पर नुपुर शर्मा को जेल भेजने की मांग वाले के पर्चे चिपके थे। सम्भल में भी मुसलमानों ने अपनी दुकानें बंद रखीं। वाराणसी की दाल मंडी, नई सड़क और मदनपुरा क्षेत्र में दुकानें बंद रहीं।

बरेली के दरगाह आला हजरत के संगठन जमात रजा ए मुस्तफा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सलमान मियां की ओर से शुक्रवार को डीएम शिवाकांत द्विवेदी को ज्ञापन देकर नुपुर शर्मा पर कार्रवाई करने की मांग की गई। अंजुमन इंतेजामिया मसाजिद कमेटी के संयुक्त सचिव एवं ज्ञानवापी मामले में मस्जिद पक्ष के मुख्य पक्षकार एसएम यासीन ने शुक्रवार को अपील की कि सौहार्द कायम रखने में सबलोग मिलकर काम करें।

इससे पहले गुरुवार को उन्होंने कहा था कि कुछ शरारती तत्व हमारे लोगों को खासतौर से नौजवानों को गैर जिम्मेदाराना काम के लिए उकसा कर उनकी जिंदगी से खिलवाड़ करते हैं। इंटरनेट मीडिया पर ज्यादातर खबरें सच से परे होती हैं। इससे दूरी बनाए रखें, जिससे नगर में अमन-चैन बना रहे।
2 views0 comments

Commentaires


bottom of page