google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

UP में PFI पर कस रहा शिकंजा, 26 जिलों में छापा मारने के बाद 57 को पकड़ा


लखनऊ, 27 सितंबर 2022 : देश के युवाओं को आतंकी गतिविधियों की ओर आकर्षित करने वाले पापुलर फ्रंट आफ इंडिया के उत्तर प्रदेश के सक्रिय ठिकानों पर एजेंसियो का शिकंजा कस गया है। देश में पीएफआइ को बैन करने की मांग के बीच में प्रदेश में इस संस्था पर शिकंजा कसा जा रहा है।

एनआइए तथा यूपी एटीएस के लखनऊ में पीएफआइ के प्रदेश अध्यक्ष को गिरफ्तार करने के बाद अब एसटीएफ भी इन पर शिकंजा कसने में लग गई है। प्रदेश में कई जगह ताबड़तोड़ छापेमारी के बाद एक दर्जन लोगों को हिरासत में लिया गया है। मेरठ, लखनऊ और सीतापुर से एसटीएफ ने संदिग्धों को पकड़ा है।

26 जिलों में छापा मारने के बाद 57 को पकड़ा, सख्ती से होगी पूछताछ

उत्तर प्रदेश के एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि पीएफआइ और उसके अनुसांगिक संगठनों के देश के विभिन्न स्थानों पर हिंसा के बाद इस संगठन की बढ़ती राष्ट्रविरोधी गतिविधियों को देखते हुए उत्तर प्रदेश में एसटीएफ तथा एटीएस ने जिलों की पुलिस के साथ मिलकर इनके खिलाफ मंगलवार को बड़ा अभियान चलाया। प्रशांत कुमार ने बताया कि प्रदेश के 26 जिलों में पीएफआइ के पदाधिकारियों तथा सदस्यों के ठिकानों पर छापा मारा गया। इन छापों में 57 लोगों को हिरासत में लिया गया है। इसके साथ ही मौके से मिले कई अभिलेखों तथा साक्ष्यों को जब्त किया गया है। अब इन सभी का विशलेषण भी किया जाएगा।

खलबली का बड़ा असर

एनआइए तथा यूपी एटीएस 22 सितंबर के उत्तर प्रदेश में पीएफआइ के ठिकानों ताबड़तोड़ के छापा मारने के बाद मची खलबली का बड़ा असर होने लगा है। इनके अभियान में अब उत्तर प्रदेश एसटीएफ भी लग गई है। उत्तर प्रदेश एसटीएफ ने आज पीएफआइ की सक्रियता को लेकर लखनऊ व मेरठ के साथ बाराबंकी में भी छापा मारा है। यूपी एटीएस और यूपी एसटीएफ ने एक संयुक्त अभियान में राज्य भर में छापेमारी में एक दर्जन से अधिक पीएफआइ के नेताओं को हिरासत में लिया।

लखनऊ में एसटीएफ टीम की हिरासत में छह

लखनऊ के इंदिरा नगर और गोमतीनगर के बाद मंगलवार को बक्शी का तालाब क्षेत्र से पीएफआइ से जुड़े छह लोगों को एसटीएफ की टीम ने हिरासत में लिया है। लखनऊ के बीकेटी के अचरामऊ गांव में एटीएस और एसटीएफ ने मंगलवार तड़के छापेमारी की। छापेमारी में ग्राम प्रधान अरशद के भाई के अलावा पीएचडी छात्र और प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक समेत छह लोगों को पकड़ा। ग्राम प्रधान अरशद मौके से भाग निकला। छापेमारी के दौरान एसटीएफ और एटीएस की टीम ने पूरे गांव की घेराबंदी की थी। ग्राम प्रधान अरशद के घर से सीसी कैमरा, डीवीआर, कंप्यूटर, लैपटॉप, पासबुक, और 6 मोबाइल कब्जे में ले लिया। इसके बाद ग्रामीण अब्दुल रब के घर टीम पहुंची टीम ने छापेमारी कर अब्दुल के बड़े बेटे अब्दुल वहीद और छोटे मजीद उर्फ हैदर को पकड़ा। वहीद साड़मऊ गांव में प्राथमिक विद्यालय में टीचर है। अब्दुल मजीद उर्फ हैदर सीमैप से एग्रीकल्चर में पीएचडी कर रहा है। इसके बाद रेहान और सलमान को पकड़ा। रेहान दो साल तक सऊदी में रहा। एटीएस की टीम सभी घरों में सीढ़ी लगाकर छत के रास्ते दाखिल हुई थी अचरामऊ गांव के प्रधान अरशद के पीएफआइ में सक्रिय की सूचना पर छापेमारी हुई। ग्राम प्रधान भाग निकला, उसका मोबाइल फोन बंद है। उसके साथियों को छापेमारी कर उठाया गया है।

सीतापुर से पकड़े गए दो संदिग्ध

उत्तर प्रदेश एसटीएफ तथा एटीएस ने सीतापुर में छापा मारकर दो संदिग्धों को उठाया है। तड़के ही पीएफआइ के सक्रिय सदस्यों की तलाश होने लगी। खैराबाद के साथ रामपुर कला इलाके में छापेमारी करने के बाद दो सदस्यों को हिरासत में लिया। इसके साथ ही कोतवाली क्षेत्र में भी तलाश की गई।

एसटीएफ और एटीएस की टीम खैराबाद के असोडर गांव पहुंची। यहां से एक युवक को हिरासत में लिया गया। इसके बाद एसटीएफ व एटीएस की टीम ने रामपुर कला इलाके से भी एक युवक को हिरासत में लिया है। इन दोनों युवकों से पूछताछ की जा रही है।

सहारनपुर में भाग गया रागिब

सहारनपुर के गंगोह थानाक्षेत्र के गांव कुंडाकलां में देर रात एनआईए ने छापेमारी की। एनआईए की टीम ने रागिब नाम के व्यक्ति के घर पर दबिश दी। रागिब तो भाग गया, लेकिन एनआईए की टीम हाफिज के भाई सद्दाम को साथ ले गयी है। यह सब जानकारी ग्रामीण दे रहे है। कोई अधिकारी बोल नही रहा है।

डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक बोले- पूरी तरह से ध्वस्त किया जाएगा पीएफआइ का नेटवर्क

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि पीएफआइ के नेटवर्क को देश में पूरी तरह से ध्वस्त किया जा रहा है। इसको लेकर पूरे प्रदेश में सतर्कता बढ़ा दी गई है। काफी लोग सर्विलांस पर हैं। हम किसी भी स्थिति में प्रदेश में किसी भी प्रकार की गैर कानूनी गतिविधियों को अनुमति नहीं देंगे। हम तो हर स्तर पर कड़ी कार्रवाई करेंगे।

2 views0 comments

Comments


bottom of page