google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

एक दो नहीं तीन-तीन शादीशुदा महिलाओं के साथ जो हुआ उसके बाद थर्रा उठा पूरा शहर


बड़े अरमानों से घरवालों ने विदा की थीं बेटियां जब उनकी शादी की थी। क्या पता था कि ऐसा दिन आएगा जब उन्हीं के शव कुछ ऐसे पड़े होंगे कि हम उन्हें आपको दिखा भी नहीं सकते।


ऐसा लगता है कि उत्तर प्रदेश का जिला बहराइच बहन बेटियों के लिए सुरक्षित नहीं रह गया है। एक ही रात में एक दो नहीं बल्कि तीन तीन विवाहिताओं की जान ससुराल वालों ने ले ली वो भी इतनी बेरहमी से कि हम आपको तस्वीरें दिखाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे।



सबसे दर्दनाक वारदात बहराइच के थाना रानीपुर के अचौलिया गाँव में हुई। जहां एक पति ने अवैध संबंधों में शक में पत्नी को मौत के घाट उतार दिया। शक के चलते पति पत्नी में अक्सर विवाद होता था। बीती रात पत्नी को किसी युवक से मोबाइल पर बात करते देख पति पत्नी के बीच विवाद हुआ। जिसके बाद सनकी पति ने अवैध सम्बन्धों के शक में गड़ासे से पत्नी के गले पर कई वार करके मौके पर ही मौत के घाट उतार दिया। इस घटना से इलाके में दहशत फैल गई। सिर्फ इतना ही नहीं बताया जा रहा है की सनकी पति ने ह्त्या के बाद खून से लथपथ शव के सामने बैठा रहा।

दूसरी घटना हुई बहराइच के थाना खैरीघाट के बेहड़ा में। महज़ 14 दिन पहले मायके से विदा होकर 22 वर्षीय विवाहिता ससुराल आई थी। उसका शव फंदे से लटकता हुआ मिला। परिजनों का कहना है कि मृतका की शादी बीती 30 जून 2019 को हुई थी। जिसका गौना इसी माह यानी 12 जून 2020 को हुआ था। इधर मां बाप ने अपनी बेटी को विदा किया तो उधर ससुराल में उसका शव बीती रात फांसी के फंदे से लटकता मिला। मृतका के चाचा ने पति सहित उसके 3 लोगों पर दहेज़ की लालच में हत्या कर शव को फंदे से लटकाने का आरोप लगाया है पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।


बहराइच के ही थाना मोतीपुर के जोगीनिया गाँव में मायके में रह रही विवाहिता का शव नहर के पास पड़ा मिला। इस मामले में पिता का आरोप है की उनका दामाद शादी के बाद से ही दहेज में 2 गाडी माँगता आ रहा था। उन्होंने बताया की बीती रात दामाद ने उनकी बेटी को फोन करके नहर के पास मिलने बुलाया था। जिसके बाद दामाद ने बेटी को ह्त्या कर शव को नहर के पास ही फेंक दिया और फरार हो गया। मामले में एसपी बहराइच डॉ विपिन मिश्रा का कहना है कि शव का पोस्टमार्टम करवाया जा रहा रहा है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद मौत के कारणों का पता चल सकेगा। फिलहाल इस मामले में मुकदमा नहीं दर्ज किया जा सका है।


एक के बाद एक ताबड़तोड़ हत्याओं से बहराइच जिले में सनसनी फ़ैल गई है। वहीं महिलाओं के लिए बहराइच जिले में सुरक्षा व्यवस्था सवालों के घेरे में है। लगातार हो रही वारदातों से पुलिसिया कार्रवाई पर ना सिर्फ सवाल उठ रहे हैं बल्कि पुलिस का भय भी अपराधियों के मन से जात रहा है।


खासतौर से जिस प्रकार अभी भी दहेज को लेकर बेटियों को मौत के घाट उतारा जा रहा है इस पर सरकार को ना सिर्फ जवाब देना है बल्कि जनता सख्त कार्रवाई का इंतजार भी कर रही है।


टीम स्टेट टुडे

122 views0 comments
 
google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0