मनरेगा बनी जानलेवा योजना, संभल में डबल मर्डर



यूपी के सम्भल से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। गांव के दबंगों ने पूर्व विधानसभा प्रत्याशी और उनके बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी। वारदात के बाद इलाके में दहशत फैल गई। घटना की जानकारी होते ही मौके पर एसपी सहित आला अधिकारी पहुंच गए। मृतक की पत्नी की तहरीर पर पांच लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। पांचों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।


संभल के बहजोई थाना क्षेत्र के ग्राम फतेहपुर समसोई में गांव के ही दबंगों ने पूर्व विधानसभा क्षेत्र चंदौसी के प्रत्याशी रहे छोटे लाल दिवाकर और उनके बेटे सुनील की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने मृतक बाप बेटे के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और पूरे मामले की जांच पड़ताल में जुट गई है।


Advt.

पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने बताया कि पूरे मामले की जांच पड़ताल की जा रही है घटना की वजह गांव में मनरेगा के तहत सड़क डाली जा रही थी। जिसका आरोपी विरोध कर रहे थे बताया जा रहा है कि जिस रोड पर मनरेगा सड़क डाली जा रही है उसी पर आरोपियों के खेत हैं जिसका वह विरोध कर रहे थे.


Advt.


वही यह बात भी सामने आ रही है कि पंचायत चुनाव नजदीक हैं और मृतक छोटे लाल दिवाकर मौजूदा ग्राम प्रधान पति होने के कारण गांव में अपनी प्रतिष्ठा के चलते कई बिरादरियों में भी अपनी पकड़ रखते थे। जिसे लेकर दबंग, मृतक छोटेलाल से खुन्नस खाते थे। पूर्व में आरोपी पक्ष पंचायत चुनाव हारने की वजह से छोटेलाल से दुश्मनी रखते आ रहे थे बाहर हाल गांव में डबल मर्डर से दहशत का माहौल पैदा हो गया है।


टीम स्टेट टुडे


Advt.

Advt.

37 views0 comments