google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

अखिलेश ने चुनाव आयोग पर उठाए सवाल, बोले-बेईमानी का जश्न मना रही भाजपा


लखनऊ, 15 मई 2023 : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने नगर निकाय चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग की भूमिका पर सवाल उठाए। अखिलेश यादव ने कहा कि स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव का दायित्व निभाने की जिम्मेदारी राज्य चुनाव आयोग की होती है लेकिन उसकी भूमिका संदिग्ध बनी रही।

सपा प्रमुख ने राज्य निर्वाचन आयोग की भूमिका पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि मतदान के दौरान तमाम अनियमितता के बाद मतगणना के समय विपक्ष की आवाज को दबाने के लिए बल प्रयोग तक किया गया, लेकिन चुनाव आयोग मूकदर्शक बन गया।

प्रदेश के मतदाता 2024 का कर रहे इंतजार

भाजपा की यह तथाकथित चुनावी जीत लोकतंत्र के साथ छल, संविधान की शपथ की अवहेलना और जनमत का अपमान है। उन्होंने कहा कि जनता के मतों की लूट और निकायों पर जबरन कब्जा भाजपा को बहुत मंहगा पड़ेगा। प्रदेश के मतदाता 2024 का इंतजार कर रहे हैं।

अखिलेश यादव ने नगर निकाय चुनाव में जीते पार्टी के सभी प्रत्याशियों और भाजपा के खिलाफ जीते सभी ‘अन्य’ उम्मीदवारों को बधाई देते हुए सत्ताधारी दल पर निशाना साधा है।

रविवार को अपने ट्वीट में निकाय चुनाव के परिणामों को साझा करते हुए सपा प्रमुख ने लिखा कि नगरों से थोड़ा बाहर आते ही हर हथकंड़े अपनाकर भी भाजपा हारी है। चुनाव परिणाम समाजवादी पार्टी के पक्ष में और बेहतर आते यदि भाजपा सरकार ने छलकपट, सत्ताबल और धनबल का दुरुपयोग करते हुए धांधली न की होती।

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा ने चुनावों को प्रभावित करने के लिए मतदाता सूची से वोट कटवाने से लेकर, फर्जी वोट डलवाए और धीमी मतगणना कराई। शासन प्रशासन ने भाजपा एजेंट के तौर पर काम किया । यह चुनाव भाजपा ने नहीं, प्रदेश की सरकार ने लड़ा। भाजपा के पक्ष में नतीजों के लिए हर तरह के षड्यंत्र किए गए। मुख्यमंत्री लोगों को गुमराह करने में और सत्ता का दुरुपयोग करने में लगे रहे।

प्रदेश में सरकार नहीं, भाजपा का कानून

नगर निकाय चुनाव परिणाम से खिन्न सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मैनपुरी और एटा में भाजपा पर जमकर हमला बोला। कहा, भाजपा बेईमानी का जश्न मना रही है। प्रदेश में सरकार नहीं, भाजपा का कानून चल रहा है। लूटतंत्र और झूठतंत्र हावी है। अफसर पार्टी कार्यकर्ता की तरह व्यवहार कर रहे हैं। कर्नाटक चुनाव के बाद भाजपा की उल्टी गिनती शुरू हो गई है।

मैनपुरी से पालिकाध्यक्ष पद पर चुनाव हारीं पार्टी प्रत्याशी सुमन वर्मा के आवास पर रविवार शाम पहुंचे अखिलेश यादव ने कहा, भाजपा बेईमानी का जश्न पहली बार नहीं मना रही है। रामपुर उप चुनाव, जिला पंचायत और विधान परिषद के चुनाव में भी यह जश्न मनाया था।

भाजपा ने मैनपुरी में भी ऐसा ही उदाहरण दिया है। नगर निकाय चुनाव की मतगणना में भाजपा ने सारी सीमाएं लांघ दीं। पूरे प्रदेश में कहीं ऐसा नहीं हुआ होगा जो मैनपुरी में हुआ है।

0 views0 comments
bottom of page