google.com, pub-3470501544538190, DIRECT, f08c47fec0942fa0
top of page

विवादों के बीच आज लोहिया पार्क पहुंचे अखिलेश यादव


लखनऊ, 12 अक्टूबर 2023 : जय प्रकाश नारायण की जयंती की अनुमति न मिलने के कारण बुधवार जेपी एनआईसी का गेट फांदने के बाद सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव गुरुवार को गोमती नगर के डा.राम मनोहर लोहिया पार्क पहुंचे।

अखिलेश यादव ने डा. लोहिया की पुण्यतिथि पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इसके बाद उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा राम मनोहर लोहिया और मुलायम सिंह यादव के संकल्पों को ध्यान में रखते हुए भविष्य में समाजवाद को और मजबूत करने की बात कही।

अखिलेश यादव ने कहा कि एक समय ऐसा आया था कि डाक्टर अंबेडकर और डॉक्टर लोहिया एक साथ काम करना चाहते थे। आज संविधान पर हमला हो रहा है, संविधान खतम हो जायेगा, हमारी आपकी आजादी छीन जायेगी। हमारा कानून छीन जायेगा, आज भारतीय जनता पार्टी समाज और देश को उसी दिशा में ले जा रही है।

सपा प्रमुख ने कहा कि महंगाई, बेरोजगारी और अन्याय चरम सीमा पर पहुंच गया हैं । लोक नायक जय प्रकाश नारायण का म्यूजियम समाजवाद का संग्रहालय है। सरकार ने समाजवादियों का संग्रहालय नष्ट कर दिया। एलडीए और सरकार मिलकर उस म्यूजियम को बंद कर रही है। अगर नियत साफ होती तो लोक नायक जय प्रकाश नारायण जी को इस तरह पॉलिथीन से नहीं ढकते। योगी सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि सरकार अपनी नाकामी और भ्रष्टाचार छुपा रही है, अच्छी चीज बनी है उसको छुपा रहे हैं।

अखिलेश यादव ने उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक के जेपी एनआईसी प्रकरण के बयान पर कहा कि हम लोग सर्वेंट डिप्टी सीएम का जवाब नहीं देते हैं। उन्होंने अस्पतालों का सत्यानाश कर दिया। एक भी गरीब का लोहिया या सिविल जैसे सरकारी अस्पतालों में इलाज नहीं हो रहा है। आज मैं बाराबंकी के रसूलाबाद जाऊंगा, वहां सीएचसी में समाजवादियों की लगाई लिफ्ट देखूंगा कि वो चल रही है कि नहीं। सरकार ने सीएचसी के आधुनिकीकरण की बात कही थी।

उन्होंने कहा कि सर्वेंट सीएम का जवाब इसलिए नहीं देते हैं कि कोई अगर जिम्मेदार है तो स्वय मुख्यमंत्री हैं। म्यूजियम और रिवर फ्रंट की जो बर्बादी हो रही है तो क्या सरकार से वसूला नहीं जाना चाहिए।

हालांकि आज के कार्यक्रम के लिए एलडीए ने सफाई और अन्य तैयारियां पहले से कर दी थीं। जय प्रकाश नारायण की जयंती पर जेपीएनआईसी में उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण के लिए समाजवादी पार्टी ने एलडीए ने चार अक्टूबर को पत्र भेजकर अनुमति मांगी थी। कार्यक्रम के लिए सपा के वरिष्ठ नेता राजेंद्र चौधरी लगातार आयोजन स्थल पर तैयारियों का जायजा लेते रहे।

हालांकि कार्यक्रम से ठीक एक दिन पहले मंगलवार शाम एलडीए ने समाजवादी पार्टी को पत्र भेजकर अनुमति देने से मना कर दिया था। अखिलेश यादव बुधवार को जेपीएनआईसी पहुंचे तो गेट पर ताला और लोहे की चादर लगी देख नाराज हो गए। अखिलेश गेट फांदकर जेपीएनआईसी पहुंचे और श्रद्धांजलि अर्पित की। गुरुवार को डा.लोहिया की जयंती पर भी वह कुछ देर में लोहिया पार्क जायेंगे।


0 views0 comments

Comments


bottom of page